टैग: sukma

हिड़मा की बटालियन नम्बर-1 के हेडक्वार्टर प्लाटून का सदस्य तेलंगाना के कोत्तागुड़ेम में गिरफ्तार, पुलिस ने एक और हार्डकोर नक्सली को पकड़ा

हिड़मा की बटालियन नम्बर-1 के हेडक्वार्टर प्लाटून का सदस्य तेलंगाना के कोत्तागुड़ेम में गिरफ्तार, पुलिस ने एक और हार्डकोर नक्सली को पकड़ा

chhattisgarh
सुकमा (एजेंसी) | पड़ोसी राज्य तेलंगाना के भद्राद्री जिले के कोत्तागुड़ेम पुलिस ने नक्सलियों की बटालियन नम्बर-1 के हेडक्वार्टर प्लाटून के मेंबर सवलम सोमा को गिरफ्तार कर सोमवार को मीडिया के सामने पेश किया। सोमवार को ही सोमा को यहां के स्थानीय न्यायालय में पेश किया गया जहां से उसे जेल भेज दिया गया। हालांकि की सवलम सोमा कोत्तागुड़ेम पुलिस के हत्थे कब व कैसे चढ़ा इस बात को लेकर अभी भी कोई पुख्ता जानकारी नहीं मिल पाई है। सूत्रों के मुताबिक मुखबिरी से मिली पुख्ता सूचना के बाद तेलंगाना पुलिस ने शनिवार को सोमा को अपनी गिरफ्त में लिया। भद्राद्री जिले की पुलिस ने सवलम सोमा के पास से भारी मात्रा में विस्फोटक सामाग्री बरामद करने का दावा किया है। भले ही तेलंगाना पुलिस सवलम सोमा की गिरफ्तारी को बड़ी सफलता मान रही है पर सोमवार को पूछताछ के लिए गई सुकमा पुलिस की टीम को सोमा से कुछ खास जानकारी हाथ नह
सुकमा में मुठभेड़ में चार नक्सली ढेर, सर्च ऑपरेशन जारी

सुकमा में मुठभेड़ में चार नक्सली ढेर, सर्च ऑपरेशन जारी

chhattisgarh
सुकमा (एजेंसी) | सुकमा जिले के चितलनार और जागरगुडा गांव के बीच घने जंगल में मंगलवार सुबह मुठभेड़ में सुरक्षा बल के जवानों ने चार नक्सलियों को मार गिराया है। मौके से चारों नक्सलियों के शव बरामद कर लिए गए हैं। जवानों को कुछ और स्थानों पर खून के धब्बे मिले हैं। संभावना है कि कुछ और नक्सली भी मुठभेड़ का शिकार हुए हों। फिलहाल, मौके पर सर्च ऑपरेशन जारी है। काली वर्दी में मिले नक्सलियों के शव 201 कोबरा बटालियन और राज्य पुलिस के जवान सोमवार शाम करीब 5 बजे सर्चिंग के लिए निकले थे। बोदाकोडे गांव के जंगल में मंगलवार सुबह करीब 6 बजे जवानों की नक्सलियों से मुठभेड़ हो गई। थोड़ी देर दोनों ओर से हुई फायरिंग के बाद जवानों ने मौके पर जाकर तलाशी ली तो वहां से चार नक्सलियों के शव बरामद हो गए। सभी काली वर्दी में थे। शवों के पास से ही पुलिस ने दो थ्री नॉट थ्री राइफल और 2 इंसाफ राइफल बरामद की हैं। मारे
सुकमा में पुलिस के साथ हुई मुठभेड़ में एक नक्सली ढेर, नारायणपुर में नक्सलियों ने एक यात्री को बस से उतारकर गोली मारी

सुकमा में पुलिस के साथ हुई मुठभेड़ में एक नक्सली ढेर, नारायणपुर में नक्सलियों ने एक यात्री को बस से उतारकर गोली मारी

chhattisgarh
सुकमा/नारायणपुर (एजेंसी) | जवानों ने गुरुवार सुबह हुई मुठभेड़ में एक नक्सली को मार गिराया है। जवाबी फायरिंग में नक्सली मौके से भाग निकले। पुलिस ने मारे गए नक्सली का शव बरामद किया है। साथ ही मौके से  नक्सल सामाग्री भी बरामद हुई है। ज्यादा जानकारी जवानों के लौटने के बाद ही मिल सकेगी। नक्सलियों की सूचना पर रवाना की गई थीं टीमे पुलिस के मुताबिक बुधवार को किस्टाराम और चिंतागुफा क्षेत्र में नक्सलियों की मौजदूगी की सूचना मिली थी। इस पर अलग-अलग थाने और कैंपों से डीआरजी, एसटीएफ और कोबरा बटालियन की संयुक्त टीम बनाकर भेजा गया। ये टीमें ग्राम टोंडामरका, कन्हाईमरका, सल्लातोंग, बड़ेकेड़वाल और सिंघनमड़गू की ओर रवाना हुई थीं। इस दौरान कैंप एलारमड़गू से निकली डीआरजी, एसटीएफ और 202 वाहिनी कोबरा की टीम की गुरुवार सुबह करीब 9 बजे ग्राम सिंघनमड़गू के जंगल में नक्सलियों से मुठभेड़ हो गई। सशस्त्र वर्दीधार
सुकमा में ऑपरेशन प्रहार-4 शुरू, गंभीर रूप से घायल तीन जवानों काे रायपुर लाया गया 

सुकमा में ऑपरेशन प्रहार-4 शुरू, गंभीर रूप से घायल तीन जवानों काे रायपुर लाया गया 

chhattisgarh
सुकमा (एजेंसी) | नक्सलियों के टीसीओसी (टैक्टिकल काउंटर ऑफेंसिव कैंपेन) से पहले सुरक्षाबलों ने सुकमा के नक्सल प्रभावित इलाकों में ऑपरेशन 'प्रहार-4' की शुरुआत कर दी है। अलग-अलग हुए मुठभेड़ों में तीन जवान गंभीर रूप से घायल हुए हैं। सभी को बेहतर इलाज के लिए हेलीकॉप्टर से रायपुर लाया गया है। गुरुवार को करीब 1500 जवानों को जंगलों में उतारा गया। पहले दिन चिंतलनार थाना क्षेत्र में बाटेलंका के पास नक्सलियों से मुठभेड़ में कोबरा जवान भोला कुमार घायल हो गए। भोला कुमार के पैर में 6 गोलियां लगी हैं। इधर, डब्‍बामरका के पास दोपहर 3 बजे हुई मुठभेड़ में गोली लगने से दो एसटीएफ जवानों के गंभीर रूप से घायल होने की पुष्टि करते हुए एसपी  जितेंद्र शुक्ल ने देर शाम तक मुठभेड़ जारी होने की जानकारी दी। एक जवान के पेट में गोली लगी है। दूसरा भी गंभीर रूप से घायल है पर उसकी हालत खतरे से बाहर बताई गई है। गुरुवार
कलेक्टर जनदर्शन में नक्सल हिंसा पीड़ित महिला को मिली नौकरी

कलेक्टर जनदर्शन में नक्सल हिंसा पीड़ित महिला को मिली नौकरी

chhattisgarh
सुकमा (एजेंसी) | नक्सल हिंसा पीड़ित मानपुर तहसील के ग्राम शारदा की महिला के लिए कलेक्टर जनदर्शन खुशियों की सौगात लेकर आया। शारदा निवासी कांता बाई मंडावी जनदर्शन में अपनी बच्ची के साथ नक्सल हिंसा पीडि़त सहायता योजना के तहत सहायता के लिए आवेदन देने आई थी, लेकिन उन्हें शासकीय नौकरी का आदेश मिल गया। कलेक्टर भीम सिंह ने कांता मंडावी को कार्यालय कलेक्टर आदिम जाति तथा अनुसूचित जाति विकास विभाग द्वारा जारी यह आदेश सौंपा। विभाग द्वारा श्रीमती कांता की नियुक्ति आकस्मिकता स्थापना (भृत्य) के पद पर प्री-मैट्रिक आदिवासी कन्या छात्रावास रेंगाकठेरा विकासखंड मोहला में की गई है। कलेक्टर सिंह ने कांता बाई से उनके घर-परिवार और बच्चों की पढ़ाई लिखाई के बारे में चर्चा की। कलेक्टर ने उनके साथ आई उनकी बच्ची को निष्ठा योजना में आवासीय विद्यालय में दाखिला कराने निर्देश अधिकारियों को दिए। पीड़ित को नियुक्ति
तेंदूपत्ता बोनस वितरण में गड़बड़ी की होगी जांच, मंत्री लखमा ने दिए निर्देश

तेंदूपत्ता बोनस वितरण में गड़बड़ी की होगी जांच, मंत्री लखमा ने दिए निर्देश

chhattisgarh
सुकमा (एजेंसी) | कलेक्‍टोरेट सभा कक्ष में सोमवार दोपहर को आयोजित समीक्षा बैठक में उद्योग एवं वाणिज्य कर (आबकारी) मंत्री कवासी लखमा ने आदिवासी विकास विभाग द्वारा संचालित आश्रम-छात्रावास में की गई मरम्मत की जांच के निर्देश दिए। लखमा ने कहा कि आश्रम-छात्रावास की मरम्मत के लिए राज्य शासन द्वारा उपलब्ध कराई गई राशि का दुरुपयोग किया है। उन्होंने इसकी जांच के लिए कलेक्‍टर से समिति गठित करने को कहा। (adsbygoogle = window.adsbygoogle || []).push({}); तेंदूपत्ता बोनस वितरण में हुई अनियमितता की लगातार मिल रही शिकायतों पर कवासी लखमा ने नाराजगी जाहिर करते हुए जांच के निर्देश दिए। गौरतलब है कि कोंटा ब्लॉक की तेंदूपत्ता समितियों में प्रबंधकों और रोकड़पाल द्वारा संग्राहकों को कम बोनस राशि वितरण किए जाने की खबरें आई थी। नलजल योजनाओं का कियान्वयन  मंत्री लखमा ने सुकमा, कोंटा और दोरनापा
नहीं हुई कोई मुठभेड़, जवानों ने निर्दोष महिलाओं को पीछे से मारी गोली, वर्दी भी पहना रहे थे, मजिस्ट्रियल जांच के आदेश

नहीं हुई कोई मुठभेड़, जवानों ने निर्दोष महिलाओं को पीछे से मारी गोली, वर्दी भी पहना रहे थे, मजिस्ट्रियल जांच के आदेश

chhattisgarh
सुकमा (एजेंसी) | सुकमा जिले के गोदेलगुड़ा गांव, पूरे गांव में मातम और सन्नाटा पसरा हुआ है। इसके पीछे की वजह यह है कि गांव की एक महिला गोलीबारी में मारी गई तो दूसरी घायल है। पूरा गांव दहशत के साथ आक्रोश में है। गांव के लोगों की जुबान पर बस एक ही बात है कि जवानों ने उनकी गांव की महिलाओं को गोली मार दी। गांव में हर छोटा-बड़ा बस एक ही बात कह रहा है कि उनके गांव में कोई मुठभेड़ नहीं हुई थी और जवानों ने निर्दोष महिलाओं पर पीछे से गोली चला दी। गांव के लोगों के आक्रोश के बीच एसपी सुकमा जितेंद्र शुक्ला भी मान रहे हैं कि वे महिलाएं नक्सली नहीं थी, उनको गोली मुठभेड़ के दौरान क्राॅस फायरिंग के दौरान लगी। मृतिका के परिजनों को 25 हजार और घायल को 20 हजार की मदद सुकमा एसपी शुक्ला ने कहा है कि मामले में अज्ञात लोगों के खिलाफ हत्या का मामला दर्ज कर लिया गया है और मजिस्ट्रियल जांच भी करवाई जा रही है
गश्त से लौट रहे जवानों पर नक्सलियों की फायरिंग, जवाबी कार्रवाई में भागे नक्सली

गश्त से लौट रहे जवानों पर नक्सलियों की फायरिंग, जवाबी कार्रवाई में भागे नक्सली

chhattisgarh
सुकमा (एजेंसी) | दोरनापाल क्षेत्र में शुक्रवार सुबह नक्सलियों और जवानाें के बीच मुठभेड़ हो गई। डीआरजी जवानों की ओर से की गई जवाबी कार्रवाई के बाद नक्सली भाग निकले। जवानों ने मौके से नक्सली साहित्य और अन्य सामान बरामद किया है। ज्यादा जानकारी जवानाें के लौटने के बाद ही मिल सकेगी। (adsbygoogle = window.adsbygoogle || []).push({}); जवानों ने एक किमी तक किया पीछा, लेकिन जंगल का फायदा उठा भाग निकले जानकारी के मुताबिक, डीआरजी की टीम शुक्रवार सुबह करीब 10.45 बजे सर्चिंग पर निकली थी। जवानों को 25 से 30 नक्सलियों के मौजूद होने की सूचना मिली थी। जंगल से लौटते समय घात लगाए नक्सलियों ने अचानक जवानों पर फायरिंग शुरू कर दी। डब्बाकोंटा-पेंटापाड़ के बीच जवानों से हुई भिड़ंत में नक्सली मौके से फरार हो गए। दोनों ओर से करीब 30 मिनट तक फायरिंग होती रही। इस दौरान जवानों ने करीब एक किमी तक ज
ऑपरेशन प्रहार-4 से बौखलाए नक्सलियों ने किया आईईडी ब्लास्ट, डीआरजी का एक जवान हुआ जख्मी

ऑपरेशन प्रहार-4 से बौखलाए नक्सलियों ने किया आईईडी ब्लास्ट, डीआरजी का एक जवान हुआ जख्मी

chhattisgarh
सुकमा (एजेंसी) | नक्सलियों के खिलाफ चलाए जा रहे ऑपरेशन प्रहार-4 में सोमवार को 9 माओवादियों के ढेर हो जाने के बाद नक्सली बुरी तरह बौखला गए हैं। उन्होंने देर रात बुरकापाल इलाके में आईईडी ब्लास्ट कर दिया। इसमें डीआरजी के एक जवान बुरी तरह से घायल हो गया। उसे तत्काल उपचार के बाद जगदलपुर रेफर किया गया है। सोमवार देर रात बुरकापाल इलाके में मीनप चिंतागुफा के जंगल में डिस्ट्रिक्ट रिजर्व ग्रुप के जवान सर्चिंग पर निकले थे। इसी दौरान घात लगाकर बैठे नक्सलियों ने आईईडी ब्लास्ट कर दिया। इससे डीआरजी के एक जवान माड़वी सुक्का बुरी तरह से घायल हो गया। ब्लास्ट में उसका पांव अलग हो गया। उसे प्राथमिक उपचार के बाद जगदलपुर भेजा गया है। (adsbygoogle = window.adsbygoogle || []).push({}); ऑपरेशन प्रहार-4 के तहत मारे गए थे 9 नक्सली  सुकमा के साकलेर में सोमवार सुबह नक्सलियों और सुरक्षाबलों के बीच
सुरक्षाबलों ने 6 महिला समेत 8 नक्सली किए ढेर, मुठभेड़ में डीआरजी के दो जवान शहीद

सुरक्षाबलों ने 6 महिला समेत 8 नक्सली किए ढेर, मुठभेड़ में डीआरजी के दो जवान शहीद

chhattisgarh
सुकमा (एजेंसी) | यहां के किस्टाराम साकलेर में सोमवार को मुठभेड़ में सुरक्षाबलों ने 6 महिला समेत 8 नक्सलियों को मार गिराया। इस दौरान डिस्ट्रिक्ट रिजर्व गार्ड (डीआरजी) के दो जवान भी शहीद हो गए हैं। उधर, चिंतागुफा के एलमागुडा में मुठभेड़ के दौरान सुरक्षाबलों ने एक जख्मी नक्सली को भी गिरफ्तार कर लिया। सुकमा एसपी अभिषेक मीणा ने घटना की पुष्टि करते हुए बताया कि सुकमा के किस्टाराम के सकलार गांव के पास एसटीएफ और डीजारजी के जवान सर्चिंग पर थे। इसी दौरान नक्सलियों ने जवानों पर फायरिंग कर दी। जवाबी कार्रवाई में नौ नक्सली ढेर हो गए। डीआरजी के दो जवान दीर्दो माडवी जोगा नक्सलियों की फायरिंग में शहीद हो गए। ऑपरेशन प्रहार-4 के तहत फोर्स रविवार सुबह 8 बजे किस्टाराम सहित अलग-अलग कैम्प से आॅपरेशन के लिए निकली। 44 किमी पैदल चलने के बाद साकलेर के पास सुबह करीब 9.30 बजे नक्सिलयों से मुठभेड़ हुई। दोनों ओ