लेखक: Gondwana Express

1 जुलाई से 43 हज़ार शिक्षाकर्मियों का होगा संविलियन, 12,000 रु. तक बढ़ेगी सैलरी

1 जुलाई से 43 हज़ार शिक्षाकर्मियों का होगा संविलियन, 12,000 रु. तक बढ़ेगी सैलरी

chhattisgarh
रायपुर (एजेंसी) | पंचायत एवं ग्रामीण विकास विभाग ने सभी जिला और जनपद सीईओ को शिक्षाकर्मियों के संविलियन के लिए आदेश जारी कर दिया है। आदेश में कहा गया है कि जिन शिक्षाकर्मियों की सेवा 1 जुलाई 2019 को 8 साल या उससे अधिक की होगी उनका 1 जुलाई को संविलियन किया जाएगा। इस आदेश के बाद भी अगले वर्ष 1 जनवरी और फिर 1 जुलाई को भी 8 वर्ष का सेवाकाल पूर्ण होने पर शिक्षाकर्मियों के संविलियन का आदेश जारी किया जाएगा। पंचायत एवं ग्रामीण विकास विभाग ने निर्देश दिया है कि जुलाई 2019 को 8 साल या उससे अधिक सेवा वाले शिक्षाकर्मियों के लिए संविलियन के मद्देनजर शुरुआती कार्रवाई की जाए। साथ ही पंचायत विभाग ने संवलियन के लिए पात्र शिक्षाकर्मियों की सूची भी मंगवाई है, जिससे आगे का प्रोसेस पूरा किया जा सके। 1 जुलाई 2019 तक 8 साल पूरा कर चुके 10 हजार शिक्षाकर्मी है, जिनका संविलियन किया जाएगा। इसके बाद भी जिन
श्रृंखला हत्याकांड: मानसिक रोगी समझकर उसकी हरकतों को नजरंअदाज किया, उसी ने प्लान बनाकर श्रृंखला की हत्या की

श्रृंखला हत्याकांड: मानसिक रोगी समझकर उसकी हरकतों को नजरंअदाज किया, उसी ने प्लान बनाकर श्रृंखला की हत्या की

chhattisgarh
  दुर्ग/भिलाई (एजेंसी) | पहले मेरी बेटी जिंदा रहते उसकी प्रताड़ना झेल रही थी और अब मुझे तिल-तिल करके मरना पड़ेगा। छात्रा श्रृंखला यादव की हत्या के बाद पहली दफा उसकी बेबस मां ममता यादव सामने आईं। उनका कहना है, जिसे दुनिया मानसिक रोगी बताने पर तुली हुई है। उसकी हरकतों के बारे में उसके परिजनों को कई दफा जानकारी दी। लेकिन उन्होंने अपने लड़के की हरकतों को गंभीरता से नहीं लिया। जबकि इसी तथाकथित मानसिक रोगी ने ही प्लान बनाकर बेटी की हत्या कर दी। उसके जैसा दंश कोई मां-बाप न झेले, करूंगी संघर्ष... नाबालिग समझ हत्यारे को न छोड़ें श्रृंखला की मां ने कहा, अभी भी उसकी आंखों के आगे बेसुध बेटी का चेहरा नजर आ रहा है। मूर्छित रहने के दौरान भी उसकी आंखें हमें ही देख रही थी। बेबस की तरह बेटी को देखने के अलावा हमारे पास कोई रास्ता नहीं था। मरणासन्न हालत में पड़ी बेटी को तिल-तिल करके मरते हमने
नक्सलियों ने सपा नेता को घर से किया अगवा, हत्या कर शव सड़क पर फेंका

नक्सलियों ने सपा नेता को घर से किया अगवा, हत्या कर शव सड़क पर फेंका

chhattisgarh
बीजापुर (एजेंसी) | सपा नेता संतोष पुनेमा की नक्सलियों ने घर से अगवाकर हत्या कर दी। इसके बाद शव को सड़क पर फेंक दिया। घटना मंगलवार देर शाम की है। संतोष पिछले साल हुए विधानसभा चुनाव में बीजापुर सीट से लड़े थे और हार गए थे। बताया जा रहा है कि क्षेत्र में सड़क निर्माण कार्यों के चलते संतोष नक्सलियों के निशाने पर थे। अभी तक पुलिस शव हासिल नहीं कर पाई बीजापुर एसपी दिव्यांग पटेल ने बताया कि मंगलवार को संतोष अपने पैतृक गांव मरिमल्ला गए थे। देर शाम हथियारबंद नक्सली उनके घर पहुंचे और उन्हें अगवा कर लिया। बुधवार सुबह संतोष का शव सड़क पर फेंक दिया। हालांकि, अभी तक पुलिस और परिजनों को शव नहीं मिल पाया है, क्योंकि जिस जगह यह शव पड़ा है वह दूर-दराज का नक्सल प्रभावित इलाका है। लोकसभा चुनाव से पहले की गई थी मंडावी की हत्या लोकसभा चुनाव से पहले 9 अप्रैल को बस्तर से एकमात्र भाजपा विधायक भीमा
पीएम मोदी से मिले मुख्यमंत्री भूपेश बघेल, कई मामलों में केंद्र से सहयोग करने की अपील की

पीएम मोदी से मिले मुख्यमंत्री भूपेश बघेल, कई मामलों में केंद्र से सहयोग करने की अपील की

politics
नई दिल्ली (एजेंसी) | प्रदेश के मुख्यमंत्री भूपेश बघेल शनिवार को नीति आयोग की बैठक से पहले प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी से मिले। उन्हें जीत की बधाई देने के साथ ही छत्तीसगढ़ के विकास के लिए केंद्रीय सहयोग की भी अपील की। बघेल ने प्रदेश के 70 लाख आदिवासियों और 58 लाख गरीब परिवारों से जुड़े लंबित मामलों के निराकरण का अनुरोध किया। Shri @bhupeshbaghel, the Chief Minister of Chhattisgarh met PM @narendramodi. @ChhattisgarhCMO pic.twitter.com/dxUKLWrI5v — PMO India (@PMOIndia) June 15, 2019 सीएम बघेल ने प्रधानमंत्री से कहा कि प्रदेश में किसानों के हितों को ध्यान रखते हुए छत्तीसगढ़ शासन ने किसानों से 2500 रू प्रति क्विटंल समर्थन मूल्य पर धान की खरीदी की हैं । इससे राज्य में अतिरिक्त धान का उपार्जन हुआ हैं। उन्होंने प्रधानमंत्री से आग्रह किया कि किसानों के हित को देखते हुए सार्वजनिक प्रणाली की
सीएम बघेल की नाराजगी के बाद बिजली कटौती की अफवाह फैलाने वाले पर से हटाई गई राजद्रोह की धारा

सीएम बघेल की नाराजगी के बाद बिजली कटौती की अफवाह फैलाने वाले पर से हटाई गई राजद्रोह की धारा

politics
रायपुर (एजेंसी) | राज्य में बिजली कटौती की अफवाह फैलाने वाले के खिलाफ राजद्रोह का केस दर्ज कर गिरफ्तारी होने के बाद मुख्यमंत्री बघेल ने नाराजगी जाहिर की है। उन्होंने कहा कि अभिव्यक्ति की आजादी का पक्षधर हूं, राजद्रोह की कार्यवाही उचित नहीं है। उन्होंने शुक्रवार को सुबह ही मामले में हस्तक्षेप कर डीजीपी डीएम अवस्थी और फिर बिजली कंपनी के चेयरमैन शैलेद्र शुक्ला से चर्चा कर ये प्रकरण वापस लेने के निर्देश दिए हैं। बिना तथ्य सोशल मीडिया में अफवाह नहीं फैलाना चाहिए - सीएम बघेल सीएम बघेल ने डोंगरगांव निवासी मांगेलाल अग्रवाल के विरुद्ध दायर FIR से राजद्रोह की धारा हटाने के निर्देश दिए और कहा कि अभिव्यक्ति की स्वतंत्रता सबको है, विचार व्यक्त करने पर राजद्रोह की कार्यवाही उचित नही। पर बिना तथ्य सोशल मीडिया में अफवाह नहीं फैलाना चाहिए। https://youtu.be/bQfQzPbIBc8 मुख्यमंत्री बघेल ने दो
VIDEO: लापता विमान एएन- 32 के सबुत मिले, खोजी दलों ने सर्च ऑपरेशन तेज़ किया

VIDEO: लापता विमान एएन- 32 के सबुत मिले, खोजी दलों ने सर्च ऑपरेशन तेज़ किया

india
नई दिल्ली (एजेंसी) |  भारतीय वायुसेना के लापता विमान एएन- 32 का मलबा देखे जाने के बाद सर्च ऑपरेशन और तेज हो गया है। 3 जून को लापता हुए रूस निर्मित वायुसेना के एएन-32 विमान का मलबा मंगलवार को अरुणाचल प्रदेश के घने जंगलों वाले पर्वतीय क्षेत्र लीपो में देखा गया। न्यूज एजेंसी एएनआई ने एक तस्वीर जारी की है जिसमें झुलसे पेड़ों के बीच AN-32 विमान का मलबा दिखाई दे रहा है। तस्वीर देखकर यह अनुमान लगाया जा रहा है विमान पहाड़ को पार करने के करीब था लेकिन घने बादलों की वजह से वह पहाड़ नहीं दिख पाया और विमान क्रैश हो गया। Visual of the wreckage of the missing AN-32 spotted earlier today 16 Kms North of Lipo, North East of Tato, at an approximate elevation of 12000 ft, in Arunachal Pradesh by the IAF Mi-17 Helicopter undertaking search in the expanded search zone pic.twitter.com/8ASt4uZXdE — A
225 साल बाद भी चार मंजिला इस बावली के दो मंजिल पानी में डूबे हुए हैं, राजस्थान की तर्ज पर किया निर्माण

225 साल बाद भी चार मंजिला इस बावली के दो मंजिल पानी में डूबे हुए हैं, राजस्थान की तर्ज पर किया निर्माण

special
कवर्धा (एजेंसी)| रियासत काल में यहां राजस्थान की तर्ज पर बावली बना है। 225 साल बाद भी चार मंजिला इस बावली का दो मंजिला पानी में डूबा हुआ है। इसके बावजूद पानी का प्रभाव इनके कमरों पर नहीं पड़ता। बहुकोणीय आकृति में बने इस बावली में 8 कमरे हैं, जहां रियासती दौर में राजा- रानी विश्राम किया करते थे। स्थानीय लोगों ने इस बावली को कभी सूखते हुए नहीं देखा निर्माण के समय जलस्रोतों का अध्ययन करने के बाद यहां खोदाई कर बावली बनवाया गया था। इसमें आज भी पानी मौजूद है। पुराने समय में बावली के पानी का उपयोग सिंचाई, पेयजल और फव्वारों में किया जाता था। आज भी इसके पानी का उपयोग सिंचाई में होता है। राजमहल के पास मौजूद बावली खंडहर में तब्दील राजमहल के पास एक अन्य बावली मौजूद है, जिसे रानी बावली के नाम से जानते हैं। देखरेख के अभाव में यह बावली उजाड़ हो चुका है। राजघराने के खड्गराज सिंह इस बावली
वन टाइम सेटलमेंट के माध्यम से किसानों को ऋण माफी का मिलेगा लाभ, 65 लाख परिवारों को राशनकार्ड भी दिए जाएंगे

वन टाइम सेटलमेंट के माध्यम से किसानों को ऋण माफी का मिलेगा लाभ, 65 लाख परिवारों को राशनकार्ड भी दिए जाएंगे

politics
रायपुर (एजेंसी) | सरकार द्वारा फूड फॉर ऑल के तहत राज्य के सभी 65 लाख परिवारों को राशनकार्ड भी दिए जाएंगे। कृषि मंत्री रविन्द्र चौबे और खाद्य मंत्री मोहम्मद अकबर ने बैठक में लिए गए फैसलों की जानकारी मीडिया को दी। प्रदेशवासियों को फूड फॉर आल स्कीम के तहत राशन कार्ड के दायरे में लाया जाएगा। इसके तहत सभी 65 लाख परिवारों के राशन कार्ड बनेंगे। अभी 58 लाख परिवारों के राशन कार्ड हैं। बाकी 7 लाख नए परिवारों के भी राशन कार्ड बनाए जाएंगे। सामान्य श्रेणी के लोगों को सामान्य श्रेणी (आयकरदाता) और सामान्य श्रेणी (गैर आयकरदाता) का राशन कार्ड जारी होगा। आज महानदी भवन में आयोजित कैबिनेट की बैठक सफलतापूर्वक सम्पन्न हुई। इस दौरान अनेक महत्वपूर्ण निर्णय लिए गए। मंत्रिमंडल की बैठक में लिए गए महत्वपूर्ण निर्णय आप सब के साथ साझा कर रहा हूँ। "गढ़बो नवा छत्तीसगढ़" pic.twitter.com/FoNE6ImmVE — Bhup
Video: भूपेश बघेल ने केबिनेट मीटिंग में लिए छात्रों और किसानों के हित में लिए कई महत्वपूर्ण फैसले

Video: भूपेश बघेल ने केबिनेट मीटिंग में लिए छात्रों और किसानों के हित में लिए कई महत्वपूर्ण फैसले

politics
रायपुर (एजेंसी) | प्रदेश में शिक्षा के अधिकार कानून के तहत 8वीं से आगे की पढ़ाई के इच्छुक कमजोर आर्थिक स्थिति वाले बच्चों को अब प्रदेश सरकार 12वीं तक फीस और किताबें मुफ्त देगी। ऐसे बच्चों की संख्या करीब 7600 है। ये फैसला प्रदेश सरकार ने बुधवार को कैबिनेट बैठक में लिया। अब तक प्रदेश में ये लाभ 8वीं तक के बच्चों को मिलता था। आज मंत्रालय में आयोजित कैबिनेट की बैठक में उपस्थित हुआ। इस दौरान सभी माननीय मंत्रियों ने वर्तमान में जारी कार्यों की स्थिति एवं आगामी प्रस्तावित कार्यों की रूपरेखा इत्यादि से भी अवगत कराया। हमारे सभी सम्मानित साथी "गढ़बो नवा छत्तीसगढ़" के लिए संकल्पबद्ध होकर कार्य कर रहे हैं। pic.twitter.com/9D2GvvvxWe — Bhupesh Baghel (@bhupeshbaghel) June 12, 2019 सरकार वन टाइम सेटेलमेंट स्कीम में किसानाें का 650 करोड़ का कर्ज पटाएगी। अब ऐसे किसान भी बैंकों से कर्ज ले
राज्य सरकार ने लिया बड़ा फैसला, अब आरटीई के तहत 12वीं तक शिक्षा मुफ्त में दी जाएगी

राज्य सरकार ने लिया बड़ा फैसला, अब आरटीई के तहत 12वीं तक शिक्षा मुफ्त में दी जाएगी

politics
रायपुर (एजेंसी) | प्रदेश में शिक्षा के अधिकार कानून के तहत 8वीं से आगे की पढ़ाई के इच्छुक कमजोर आर्थिक स्थिति वाले बच्चों को अब प्रदेश सरकार 12वीं तक फीस और किताबें मुफ्त देगी। ऐसे बच्चों की संख्या करीब 7600 है। ये फैसला प्रदेश सरकार ने बुधवार को कैबिनेट बैठक में लिया। अब तक प्रदेश में ये लाभ 8वीं तक के बच्चों को मिलता था। फीस नियामक आयोग बनेगा आज महानदी भवन में आयोजित कैबिनेट की बैठक सफलतापूर्वक सम्पन्न हुई। इस दौरान अनेक महत्वपूर्ण निर्णय लिए गए। मंत्रिमंडल की बैठक में लिए गए महत्वपूर्ण निर्णय आप सब के साथ साझा कर रहा हूँ। "गढ़बो नवा छत्तीसगढ़" pic.twitter.com/FoNE6ImmVE — Bhupesh Baghel (@bhupeshbaghel) June 12, 2019 हर साल होने वाली फीस वृद्धि को नियंत्रित करने के लिए सरकार फीस नियामक आयोग बनाएगी। ये मांग बीते 15 साल से की जा रही थी। पिछलीा सरकार ने इसकी घोषणा त