Gondwana Express, Author at गोंडवाना एक्सप्रेस
gondwana express logo

लेखक: Gondwana Express

CGPSC: सिविल जज परीक्षा और परिणाम को हाईकोर्ट ने किया निरस्त, बिना फीस लिए दोबारा परीक्षा कराने के आदेश

CGPSC: सिविल जज परीक्षा और परिणाम को हाईकोर्ट ने किया निरस्त, बिना फीस लिए दोबारा परीक्षा कराने के आदेश

education, छत्तीसगढ़
बिलासपुर (एजेंसी) | बिलासपुर हाईकोर्ट ने शुक्रवार को बड़ा फैसला देते हुए छत्तीसगढ़ लोकसेवा आयोग (सीजीपीएससी) की सिविल जज परीक्षा और परिणाम को निरस्त करने का आदेश दिया है। साथ ही कोर्ट ने सीजीपीएससी को उन्हीं छात्रों की बिना फीस लिए दोबारा परीक्षा कराने के भी आदेश दिए हैं। इस परीक्षा को लेकर छात्रों की ओर से याचिका लगाई गई थी। इसमें कहा गया था कि आयोग की ओर से ली गई परीक्षा के अधिकांश प्रश्नों में त्रुटी थी। सुनवाई के बाद हाईकोर्ट की जस्टिस गौतम भादुड़ी की सिंगल बेंच ने यह फैसला दिया है। आयोग ने आंसर की पर आपत्ति मांगी, लेकिन बिना निराकर किए परिणाम जारी कर दिए दरअसल, छत्तीसगढ़ लोक सेवा आयोग ने 6 फरवरी 2019 को विधि एवं विधायी कार्य विभाग के तहत सिविल जज के 39 पदों पर भर्ती के लिए विज्ञापन प्रकाशित किया था। इसके बाद 7 मई 2019 को ऑनलाइन प्रारंभिक परीक्षा का आयोजन किया गया। परीक्षा के अगले ही
आरक्षण पर स्टे: पीएससी को विभागाें ने नहीं दी खाली पदों की जानकारी, इसलिए 2019 जीरो ईयर

आरक्षण पर स्टे: पीएससी को विभागाें ने नहीं दी खाली पदों की जानकारी, इसलिए 2019 जीरो ईयर

education, छत्तीसगढ़
रायपुर (एजेंसी) | प्रदेश में नए आरक्षण फॉर्मूले के कारण इस साल पीएससी एक भी पद पर भर्ती नहीं कर पाएगा। भर्तियों के लिहाज से 2019 जीरो ईयर होने की कगार पर है। यानी डिप्टी कलेक्टर-डीएसपी से लेकर अन्य विभागों की परीक्षा के लिए तैयारी कर रहे युवा एक साल पिछड़ जाएंगे। इस स्थिति को देखते हुए पीएससी चेयरमैन केआर पिस्दा ने राज्यपाल अनुसुइया उइके से मुलाकात कर हस्तक्षेप करने की मांग रखी है, जिससे भर्तियों के आवेदन निकाले जा सकें। छत्तीसगढ़ पीएससी राज्य सेवा के खाली पदों को भरने हर साल 26 नवंबर को विज्ञापन जारी करने के साथ ही प्रक्रिया शुरू कर देता है। इन भर्तियों में करीब 11 महीने लगते हैं। इसके लिए सरकार के 54 विभागों से सितंबर-अक्टूबर मध्य तक पदों की मांग पीएससी को भेज दी जाती है। 2019 पीएससी के लिए विभागों ने रिक्तियों का प्रस्ताव पीएससी को नहीं भेजा है। इसका कारण 22 अक्टूबर से शैक्षणिक
रावत नाच महोत्सव 2019: रनिंग शील्ड की उम्र हुई 34 साल, पुरस्कार की राशि 183 रुपए से बढ़कर 1.37 लाख तक पहुंच गई

रावत नाच महोत्सव 2019: रनिंग शील्ड की उम्र हुई 34 साल, पुरस्कार की राशि 183 रुपए से बढ़कर 1.37 लाख तक पहुंच गई

छत्तीसगढ़
बिलासपुर (एजेंसी) | छत्तीसगढ़ में सबसे बड़ा रावत नाच महोत्सव बिलासपुर में होता है। सामाजिक एकजुटता का परिचय देने वाला महोत्सव 42वां वर्ष पूरा करने जा रहा है। उसी तरह इस महोत्सव में जीते जाने वाली शील्ड की भी कहानी है। जिस तरह महोत्सव का वर्ष बढ़ता जा रहा है, वैसे ही शील्ड की उम्र भी बढ़ रही है। रावत नाच महोत्सव के प्रथम, द्वितीय और तृतीय शील्ड की उम्र 34 साल हो गई है। वहीं प्रथम, द्वितीय और तृतीय विजेताओं की 183 रुपए की पुरस्कार राशि से शुरू हुए महोत्सव की पुरस्कार राशि आज 1 लाख 37 हजार 438 रुपए हो गई है। तीन से 40 हुई रनिंग शील्ड मेंटेनेंस में होते हैं 20 हजार खर्च https://youtu.be/FNAJx8nuBUc रावत नाच महोत्सव समिति के संयोजक डॉ. कालीचरण यादव ने बताया कि 1978 में सिटी कोतवाली में तीन शील्ड और प्रथम पुरस्कार 101, द्वितीय 51 और तृतीय 31 रुपए के साथ महोत्सव की शुरुआत हुई थी। इसके बाद 19
रायपुर: एक्सप्रेस-वे की खराब सड़कें तोड़कर बनाने का काम शुरू होगा 10 दिन में, 2 माह बाद खुलेगी रोड

रायपुर: एक्सप्रेस-वे की खराब सड़कें तोड़कर बनाने का काम शुरू होगा 10 दिन में, 2 माह बाद खुलेगी रोड

छत्तीसगढ़
रायपुर (एजेंसी) | स्टेशन से शदाणी दरबार तक करीब 12 किमी की एक्सप्रेस-वे में सड़कें धंसने की जांच रिपोर्ट सामान्य प्रशासन विभाग ने मुख्यमंत्री सचिवालय को भेज दी है। मुख्यमंत्री भूपेश बघेल इसके अध्ययन के बाद कमजोर हिस्सों के दोबारा निर्माण के बारे में फैसला करेंगे। सूत्रों के मुताबिक हफ्तेभर में फैसला हो जाएगा और अगले 10 दिन में फ्लाईओवर की सड़कें तथा प्लेन सड़कें जरूरत के मुताबिक उखाड़कर दोबारा बनाने का काम शुरू होगा। तकनीकी जानकारों के मुताबिक कमजोर हिस्से को दोबारा निर्माण की वजह से इस सड़क को दो- ढाई माह बाद खोला जाएगा। कोशिश की जा रही है कि 26 जनवरी को इसका औपचारिक लोकार्पण किया जाए। इधर, सभी 5 फ्लाईओवर के नीचे बनी सर्विस रोड की चौड़ाई 5 से 10 फीट बढ़ाने तक का काम बुधवार को शुरू कर दिया गया है। अफसरों ने बताया कि पूरा काम परफार्मेंस गारंटी के तहत संबंधित ठेकेदार से करवाया जाएग
सीएम भूपेश बघेल का आरएसएस पर तीखा हमला कहा, ‘काली टोपी, खाकी पैंट और ड्रम बजाना भारतीय संस्कृति नहीं’

सीएम भूपेश बघेल का आरएसएस पर तीखा हमला कहा, ‘काली टोपी, खाकी पैंट और ड्रम बजाना भारतीय संस्कृति नहीं’

politics
रायपुर (एजेंसी) | मुख्यमंत्री भूपेश बघेल ने केंद्रीय खाद्य मंत्री राम विलास पासवान आैर कृषि मंत्री नरेन्द्र सिंह तोमर से मुलाकात की। इस दौरान उन्होंने सेंट्रल पूल में छत्तीसगढ़ से 32 लाख मीट्रिक टन चावल लेने का आग्रह किया है। इस दौरान उन्होंने बायो एथेनाल के विक्रय को बढ़ावा केन्द्र से सहयोग की बात कही। केन्द्र के निर्णय के अनुसार जो राज्य सरकार समर्थन मूल्य पर धान खरीदी पर बोनस देगा। उनसे सेन्ट्रल पूल में चावल नहीं लिया जाएगा। इससे पहले इसको शिथिल कर सेन्ट्रल पूल में छत्तीसगढ़ से चावल लिया गया। इसे देखते हुए छत्तीसगढ़ सरकार ने वर्ष 2019-20 में सेन्ट्रल पूल में प्रधानमंत्री से प्रावधान को शिथिल कर सेन्ट्रल पूल में छत्तीसगढ़ से 32 लाख मीट्रिक टन चावल लेने का आग्रह किया गया है। वहीं, भूपेश बघेल ने केंद्रीय पेट्रोलियम मंत्री धर्मेंद्र प्रधान से मिलकर वर्ष 2019-20 में उपार्जित अतिरिक्त धा
हादसा: छत्तीसगढ़ स्टेट इलेक्ट्रिकसिटी बोर्ड के प्रशासनिक भवन में लगी आग, कई दस्तावेज जलकर राख

हादसा: छत्तीसगढ़ स्टेट इलेक्ट्रिकसिटी बोर्ड के प्रशासनिक भवन में लगी आग, कई दस्तावेज जलकर राख

video, छत्तीसगढ़
रायपुर (एजेंसी) | राजधानी रायपुर स्थित छत्तीसगढ़ इलेक्ट्रिकसिटी बोर्ड (सीएसईबी) के प्रशासनिक भवन में बुधवार देर रात भीषण आग लग गई। आग की जब ऊंची-ऊंची लपटें उठने लगी तो लोगों को पता चला। सूचना मिलने पर पुलिस और फायर ब्रिगेड की टीम भी मौके पर पहुंच गई। करीब एक घंटे की मशक्कत के बाद दमकल की तीन गाड़ियों ने आग पर काबू पाया। आग लगने का कारण अभी तक पता नहीं चल सका है। फिलहाल मामले की जांच चल रही है। बताया जा रहा है कि आग से कई महत्वपूर्ण दस्तावेज जल गए हैं। इमारत की खिड़की से बाहर लपटें निकलती दिखाई दीं, तो आसपास के लोगों को चला पता https://youtu.be/14MK_shc_-o जानकारी के मुताबिक, सरस्वती नगर क्षेत्र के डगनिया में सीएसईबी का प्रशासनिक भवन है। देर रात करीब 12.30 बजे इमारत की तीसरी मंजिल पर अचानक आग लग गई। आग की लपटें जब खिड़की से बाहर निकलने लगी तो आसपास के लोगों ने देखा। इसके बाद घटना की जा
हादसा: स्कूल में चल रही थी एडवेंचर एक्टिविटी, दूसरी मंजिल से नीचे गिरी छात्रा, मुख्यमंत्री ने कलेक्टर रायपुर को जांच करने के निर्देश दिए

हादसा: स्कूल में चल रही थी एडवेंचर एक्टिविटी, दूसरी मंजिल से नीचे गिरी छात्रा, मुख्यमंत्री ने कलेक्टर रायपुर को जांच करने के निर्देश दिए

video, छत्तीसगढ़
रायपुर (एजेंसी) | छत्तीसगढ़ की राजधानी रायपुर स्थित एक स्कूल में मंगलवार की दोपहर हादसा हो गया। जिसमें एक बच्ची बुरी तरह से जख्मी हो गई। स्कूल में चल रहे एडवेंचर स्पोर्ट्स के दौरान यह घटना घटी। जिप रो, पर लटकने के दौरान बच्ची दो मंजिल की ऊंचाई से सीधे नीचे गिरी। फिल्हाल रायपुर एम्स में बच्ची का इलाज कराया जा रहा है। स्कूल प्रबंधन की चुप्पी इस पूरे मामले के सामने आने के बाद स्कूल प्रबंधन ने मीडिया को कोई जानकारी नहीं दी। कई अभिभावक भी कुछ कहने से बचते रहे। जानकारी के मुताबिक घटना के बाद स्कूल प्रबंधन ने डाक्टर को नहीं बुलाया, बल्कि बच्ची के माता पिता का इंतजार करते रहे। रेडियंट वे नाम का यह स्कूल पं. रविशंकर शुक्ल विश्वविद्यालय के पीछे डूमरतराई में  स्थित है। यहां तकरीबन 1800 बच्चे पढ़ते हैं। एक अभिभावक ने नाम उजागर न करने शर्त पर बताया कि स्कूल प्रबंधन ने 1000-1000रुपए की फीस लेकर नाइ
ओबीसी आरक्षण के लिए कल छत्तीसगढ़ महाबंद, लेकिन कुछ संगठनों ने समर्थन लिया वापस

ओबीसी आरक्षण के लिए कल छत्तीसगढ़ महाबंद, लेकिन कुछ संगठनों ने समर्थन लिया वापस

video, छत्तीसगढ़
रायपुर (एजेंसी) | 27 फीसदी ओबीसी आरक्षण के पक्ष में कल छत्तीसगढ़ बंद बुलााया गया है. बंद का आह्वान छत्तीसगढ़ आरक्षण मंच की ओर से बुलाया गया है. ओबीसी महासभा की ओर से बुलाए गए इस बंद को एससी, एसटी वर्ग ने समर्थन किया है. लेकिन इस बीच बंद को लेकर दो प्रेस नोट जारी कर दिया गया है. एक बंद के समर्थन में, दूसरा बंद स्थगित किए जाने को लेकर। हालांकि ज्यादातर संगठनों ने यह साफ कर दिया है कि ओबीसी आरक्षण के ख़िलाफ़ कोर्ट जाने वाले सवर्णों के ख़िलाफ़ 13 नवंबर को प्रस्तावित बंद यथावत है। https://youtu.be/BQUY-yYmKg4 बंद बुलाने वालों की ओर से जारी किए प्रेस विज्ञप्ति में छत्‍तीसगढ़ ओबीसी महासभा के अध्‍यक्ष सगुनलाल वर्मा ने बताया कि छत्तीसगढ़ पिछड़ा वर्ग, अनुसूचित जाति, जनजाति व अल्पसंख्यक महासंघ के द्वारा 13 नवंबर दिन बुधवार को पिछड़ा वर्ग के 27% आरक्षण के समर्थन में छत्तीसगढ़ महाबंद के आह
दंतेेवाड़ा: ग्रामीणों ने सीएएफ के नए कैंप का किया विरोध, जवानो ने हवाई फायरिंग कर खदेड़ा

दंतेेवाड़ा: ग्रामीणों ने सीएएफ के नए कैंप का किया विरोध, जवानो ने हवाई फायरिंग कर खदेड़ा

video, छत्तीसगढ़
दंतेवाड़ा (एजेंसी) | जिले के नक्सल प्रभावित गांव पोटाली में फोर्स और आम आदिवासियों के बीच तनाव के हालात हैं। दो दिन पहले यहां सीएएफ (छत्तीसगढ़ आर्म फोर्स) का कैंप खोला गया है। ग्रामीणों का आरोप है कि यह कैंप उनके खेतों पर खोला गया, इस कैंप की वजह से अब इलाके में फर्जी गिरफ्तारियां होंगी। इसी मुद्दे को लेकर मंगलवार को हजारों ग्रामीण कैंप पहुंच गए। हाथ में तीर, भाले और कुल्हाड़ी लिए ग्रामीण कैंप के अंदर घुसने की कोशिश कर रहे थे। ग्रामीणों को कलेक्टर और एसपी समझाते रहे, लेकिन वह नहीं माने। यह देख जवानों ने हवाई फायरिंग करके उन्हें खदेड़ा कलेक्टर एसपी की भी ग्रामीणों ने नहीं सुनी https://youtu.be/kTv9gtJdL8s मंगलवार को सुबह से ही पोटाली कैंप के पास ग्रामीण जमा होने लगे थे। कलेक्टर टोपेश्वर वर्मा ने कहा कि कैम्प खुलने से गांव में ही राशन, स्वास्थ्य सुविधा सहित सरकार की दूसरी योजनाओं का
कार्तिक पूर्णिमा: खारून नदी के तट पर पुन्नी मेले में उमड़े श्रद्धालु, मुख्यमंत्री भूपेश बघेल ने भी लगाई आस्था की डुबकी

कार्तिक पूर्णिमा: खारून नदी के तट पर पुन्नी मेले में उमड़े श्रद्धालु, मुख्यमंत्री भूपेश बघेल ने भी लगाई आस्था की डुबकी

video, छत्तीसगढ़
रायपुर (एजेंसी) | छत्तीसगढ़ की राजधानी रायपुर में खारून नदी के तट पर पुन्नी मेले में श्रद्धालुओं की भीड़ उमड़ रही है। आस्था और विश्वास के इस मेले में मंगलवार तड़के मुख्यमंत्री भूपेश बघेल भी पहुंचे और खारून में डुबकी लगाकर प्रदेशवासियों की सुख-समृद्धि की कामना की। इस दौरान सीएम नदी में तैरे और उन्होंने पानी में कलाबाजी भी लगाई। इसके बाद मुख्यमंत्री नदी तट स्थित हटकेश्वर महादेव मंदिर पहुंचे और  जलाभिषेक व विशेष पूजा-अर्चना कर मेले की विधिवत शुरुआत की। कार्तिक पूर्णिमा के दिन महादेव घाट पर करीब 600 वर्षों से मेले का आयोजन हो रहा है। मुख्यमंत्री ने आरती में हुए शामिल, किया दीपदान https://youtu.be/mSf2qHun1ew मुख्यमंत्री भूपेश बघेल परंपरागत आरती कार्यक्रम में शामिल हुए और दीपदान किया। उन्होंने कार्तिक पूर्णिमा की सभी को बधाई व शुभकामनाएं दी। इस अवसर पर लोककलाकार दिलीप षडंगी ने राज्यगीत ‘अर