दिनांक : 25-Feb-2024 05:31 PM
Follow us : Youtube | Facebook | Twitter
Shadow

मुख्यमंत्री भूपेश बघेल ने स्वामी आत्मानंद शासकीय उत्कृष्ट अंग्रेजी माध्यम विद्यालय का किया लोकार्पण

01/02/2021 posted by Priyanka (Media Desk) Chhattisgarh    

मुख्यमंत्री श्री भूपेश बघेल ने सुकमा जिले के  कुम्हाररास स्थित स्वामी आत्मानंद शासकीय उत्कृष्ट अंग्रेजी माध्यम विद्यालय का लोकार्पण किया। इस दौरान उन्होंने विद्यार्थियों, पालकों तथा शिक्षकों से चर्चा की और विद्यालय में अध्ययन- अध्यापन और सुविधाओं की जानकारी ली

मुख्यमंत्री श्री बघेल ने स्कूल के क्लासरूम, वाचनालय, स्मार्ट क्लास, प्रयोगशाला सहित खेलकूद जोन, कला एवं संस्कृति सहित अलग-अलग कक्षों में जाकर विद्यार्थियों व शिक्षकों से चर्चा की। उन्होंने ऐसे उत्कृष्ट विद्यालयों की वर्तमान समय में जरूरत को प्रासंगिक और अनुकूल बताया। मुख्यमंत्री ने स्कूल की दीवारों पर की गई रचनात्मक तथा आकर्षक चित्रकारी की सराहना की। विद्यालय की नवमीं कक्षा के छात्र मयंक शाह और दसवीं कक्षा की छात्रा प्रीति सेठिया ने मुख्यमंत्री को स्वामी आत्मानंद उत्कृष्ट अंग्रेजी माध्यम स्कूल भवन सहित यहां उपलब्ध सुविधाओं का अवलोकन कराया।

इस अवसर पर जिले के प्रभारी मंत्री श्री जयसिंह अग्रवाल, उद्योग मंत्री श्री कवासी लखमा, सांसद श्री दीपक बैज, कोंडागांव विधायक श्री मोहन मरकाम, बस्तर क्षेत्र विकास प्राधिकरण के अध्यक्ष श्री लखेश्वर बघेल चित्रकोट विधायक श्री राजमन बेंजाम, अक्षय ऊर्जा विकास प्राधिकरण के अध्यक्ष श्री मिथिलेश स्वर्णकार,जिला पंचायत के अध्यक्ष श्री हरीश कवासी, नक्सल ऑपरेशन के अतिरिक्त महानिरीक्षक श्री अशोक जुनेजा, कमिश्नर श्री जीआर चुरेन्द्र, पुलिस महानिरीक्षक श्री पी सुंदरराज, मुख्य वन संरक्षक श्री मोहम्मद शाहिद, कलेक्टर श्री विनीत नंदनवार, पुलिस अधीक्षक सहित स्थानीय जनप्रतिनिधि छात्र-छात्राएं, अभिभावक और शिक्षक उपस्थित थे।

Author Profile

Priyanka (Media Desk)
Priyanka (Media Desk)प्रियंका (Media Desk)
"जय जोहार" आशा करती हूँ हमारा प्रयास "गोंडवाना एक्सप्रेस" आदिवासी समाज के विकास और विश्व प्रचार-प्रसार में क्रांति लाएगा, इंटरनेट के माध्यम से अमेरिका, यूरोप आदि देशो के लोग और हमारे भारत की नवनीतम खबरे, हमारे खान-पान, लोक नृत्य-गीत, कला और संस्कृति आदि के बारे में जानेगे और भारत की विभन्न जगहों के साथ साथ आदिवासी अंचलो का भी प्रवास करने अवश्य आएंगे।