raipur - गोंडवाना एक्सप्रेस
gondwana express logo

टैग: raipur

राशन दुकान पर राजनीति: डॉ रमन बोले, ‘राशन दुकानों को तिरंगे के रंग में रंगना राजनीतिकरण’, सीएम भूपेश बोले, ‘ईश्वर सद्बुध्दि दे’

राशन दुकान पर राजनीति: डॉ रमन बोले, ‘राशन दुकानों को तिरंगे के रंग में रंगना राजनीतिकरण’, सीएम भूपेश बोले, ‘ईश्वर सद्बुध्दि दे’

politics, छत्तीसगढ़
रायपुर (एजेंसी) | छत्तीसगढ़ की सरकारी राशन दुकानों के रंग को लेकर सियासी बयानबाजी शुरू हो गई है। गुरुवार को प्रदेश की कांग्रेस और भाजपा दोनों ही राजनीतिक दल इस मुद्दे पर एक दूसरे पर निशाना साधते दिखे। भारतीय जनता पार्टी के नेता और पूर्व मुख्यमंत्री डॉ रमन सिंह ने कहा कि तिरंगे रंग में दुकानों को रंगना राजनीतिकरण करने का प्रयास है, राशन दुकानों की तिरंगे के रंग में पुताई हो रही है, निश्चित रुप से यह गलत परिपाटी लाने का प्रयास हो रहा है। इस पर ट्विटर के जरिए मुख्यमंत्री भूपेश बघेल ने जवाबी हमला करते हुए भाजपा नेताओं के लिए भगवान से सद्बुध्दी देने की कामना की। तिरंगा इस देश की आन-बान-शान है। तिरंगा न उनको आज़ादी के समय मंज़ूर था और न आज मंज़ूर है। कांग्रेस का विरोध करते करते देश और संविधान का विरोध करने वालों को ईश्वर सद्बुद्धि दे। हे राम! https://t.co/XYJXLXgOFY — Bhupesh Baghe
रायपुर सहित 4 जिला पंचायत अनारक्षित, 13 एसटी, 3 एससी और 7 जिले पिछड़ा वर्ग के लिए आरक्षित

रायपुर सहित 4 जिला पंचायत अनारक्षित, 13 एसटी, 3 एससी और 7 जिले पिछड़ा वर्ग के लिए आरक्षित

Uncategorized
रायपुर (एजेंसी) | छत्तीसगढ़ के त्रिस्तरीय पंचायत चुनावों के लिए जिला पंचायत में आरक्षण प्रक्रिया सोमवार को पूरी कर ली गई। राजधानी रायपुर के न्यू सर्किट हाऊस स्थित कन्वेंशन हॉल में सभी 27 जिला पंचायतों के अध्यक्ष पदों के आरक्षण के लिए लॉटरी निकाली गई। इनमें से रायपुर सहित चार जिलों को अनारक्षित रखा गया है, वहीं 13 जिले अनुसूचित जनजाति (एसटी), 3 अनुसूचित जाति (एससी) और 7 जिले पिछड़ा वर्ग (ओबीसी) के लिए आरक्षित किए गए हैं। सभी आरक्षण में 50 फीसदी महिलाओं के लिए आरक्षित किया गया है। ओबीसी वर्ग के आरक्षित जिले जिला पंचायत अध्यक्ष पद के लिए पिछड़ा वर्ग में 7 जिलों से 4 महिलाओं के लिए आरक्षित किए गए हैं। पुरुष : जांजगीर-चांपा, रायगढ़, बलौदाबाजार महिला : राजनांदगांव, महासमुंद, दुर्ग और बेमेतरा एसटी वर्ग के लिए आरक्षित जिले जिला पंचायत अध्यक्ष पद के लिए अनुसूचित जनजाति वर्ग में 13 जिलों से
मुख्यमंत्री श्री भूपेश बघेल की घोषणा छत्तीसगढ़ में बनेगा राम वनपथ गमन सर्किट, राज्य सरकार 51 स्थानों को करेगी विकसित

मुख्यमंत्री श्री भूपेश बघेल की घोषणा छत्तीसगढ़ में बनेगा राम वनपथ गमन सर्किट, राज्य सरकार 51 स्थानों को करेगी विकसित

india, politics, छत्तीसगढ़
रायपुर. छत्तीसगढ़ में भगवान राम के वनवास काल के दौरान बिताए गए समय और उनके रहने के स्थानों को पर्यटन सर्किट के ताैर पर विकसित किया जाएगा। इसके लिए राम वनपथ गमन सर्किट बनेगा, जिसके तहत राज्य सरकार प्रदेश के 51 स्थानों को विकसित करेगी। विधानसभा का शीतकालीन सत्र शुरू होने से पहले गुरुवार को हुई कैबिनेट की बैठक में इस पर मुहर लगा दी गई। इसके साथ ही बैठक में अनुपूरक बजट के प्रस्ताव को भी मंजूरी दी गई है। सरकार ने यह भी तय किया है कि 25 नवंबर को सत्र की शुरुआत वाले दिन अनुपूरक बजट लाएगी। छत्तीसगढ़ अस्मिता प्रतिष्ठान के शोध के आधार पर तय किया गया है सर्किट मुख्यमंत्री भूपेश बघेल की अध्यक्षता में हुई बैठक में तय किया गया कि छत्तीसगढ़ में जिन स्थानों से भगवान राम गुजरे हैं उसे पर्यटन सर्किट के तौर पर विकसित किया जाएगा। पहले चरण के लिए 8 स्थानों को चिन्हित कर लिया गया है। इसका शुभारंभ रायपुर के
धान खरीदी: पीएम मोदी को सीएम भूपेश की चौथी चिट्ठी; सीमा पर सख्ती, भाजपा विरोध में

धान खरीदी: पीएम मोदी को सीएम भूपेश की चौथी चिट्ठी; सीमा पर सख्ती, भाजपा विरोध में

politics
रायपुर (एजेंसी) | धान खरीदी और इसके अवैध परिवहन पर छापामार कार्रवाई से प्रदेश में राजनीति तेज हो गई है। मुख्यमंत्री भूपेश बघेल जहां पीएम मोदी को चौथी बार चिट्‌ठी लिखी है तो वहीं भाजपा कार्रवाई के विरोध में आ गई है। उधर, वहीं धान का अवैध परिवहन रोकने के लिए चेकपोस्ट पर विशेष टीम तैनात कर पेट्रोलिंग भी शुरू कर दी गई है। मुख्यमंत्री बघेल इसके पहले भी मोदी को पत्र लिखकर मिलने का आग्रह कर चुके हैं, लेकिन वहां से कोई सकारात्मक जवाब नहीं आया है। राज्य सरकार छत्तीसगढ़ में एक दिसंबर से धान खरीदी शुरू करने जा रही है। इसलिए सीएम ने पीएम को फिर से पत्र लिखा है। उन्होंने अपने पत्र में लिखा है कि यदि भारत सरकार द्वारा समर्थन मूल्य नहीं बढ़ाया जाता है तो राज्य को 2017-18 की तरह ही धान खरीदी की शर्तों को शिथिल किया जाए। मुख्यमंत्री ने कहा है कि विकेन्द्रीकृत उपार्जन योजना के अंतर्गत हर साल राज्य की आ
भूख हड़ताल के आगे झुका कानून, नौ महीने बाद कोर्ट के आदेश पर सखी सेंटर से रिहा हुई अंजली जैन

भूख हड़ताल के आगे झुका कानून, नौ महीने बाद कोर्ट के आदेश पर सखी सेंटर से रिहा हुई अंजली जैन

छत्तीसगढ़
रायपुर (एजेंसी) | दूसरे धर्म में शादी के बाद अंजली जैन और इब्राहिम खान को परिवार के दबाव की वजह से अलग होना पड़ा था। शादी के डेढ़ साल बाद तक साथ रहने के लिए कानूनी लड़ाई लड़ रहे इस जोड़े और पिछले नौ माह से सखी सेंटर में रह रही अंजली को अब सखी सेंटर से रिहाई मिलने जा रही है। अंजली ने सोमवार को सखी सेंटर से रिहाई न होने पर भूख हड़ताल का एलान किया था, जिसके बाद उसे छोड़े जाने का समय अधिकारियों ने बताया है। बुधवार को अंजली को यहां से आजादी मिल गई। इसके साथ ही सुप्रीम कोर्ट ने अपने आदेश में अंजली को खुद की मर्जी से अपने भविष्य का चुनाव करने की आजादी दी है। अपने पति का साथ पाने के लिए अपने पिता से संघर्ष कर रही अंजली अब खुद की मर्जी से अपनी जिंदगी जी सकेगी। https://youtu.be/7kHN6QeXcdY शादी के बाद अपनी पत्नी से अलग कर दिए गए इब्राहिम ने पत्नी का साथ पाने के लिए सुप्रीम कोर्ट में अपील की थी
रायपुर: नगर निगम के सार्वजनिक पीने के पानी के नल में मिला सांप, दो दिन पहले केंद्र ने अपनी रिपोर्ट में बताया था क्वालिटी को बेस्ट

रायपुर: नगर निगम के सार्वजनिक पीने के पानी के नल में मिला सांप, दो दिन पहले केंद्र ने अपनी रिपोर्ट में बताया था क्वालिटी को बेस्ट

video, छत्तीसगढ़
रायपुर (एजेंसी) | छत्तीसगढ़ की राजधानी रायपुर में लोगों को पीने के लिए साफ पानी नहीं मिल रहा है। सोमवार को शहर के तात्यापारा इलाके में पीने के पानी में सांप निकल आया। खास बात यह है कि केंद्र सरकार की एक रिपोर्ट बीते शनिवार को जारी हुई थी, जिसमें देश के टॉप 5 शहरों में रायपुर शामिल हैं, जहां अच्छी क्वालिटी का पानी लोगों को मिल रहा है। अब नल से निकल आया जिंदा सांप को लेकर आम लोग पूछ रहे हैं यह किस तहर की क्वालिटी हुई भला। https://youtu.be/LpKpiw7LONw निगम के अधिकारी बच रहे जवाब देने से महापौर प्रमोद दुबे, शहर के नगर निगम के कमिश्नर शिव अनंत तायल मीडिया को इस मामले में कोई सही जवाब नहीं दे रहे। फोन पर भी उनसे संपर्क करने की कोशिश की गई लेकिन उन्होंने कॉल रीसीव ही नहीं किया। जानकारी के मुताबिक स्थानीय स्तर पर लोगों की शिकायत मिलने पर कुछ कर्मचारी मौके पर पहुंचे और जांच करने का आश्वासन
धान खरीदी: मप्र, ओडिशा, झारखंड व महाराष्ट्र से आवक रोकने सीमाओं पर नाकेबंदी, 19 हजार क्विंटल धान सहित 63 वाहन जब्त, सबसे ज्यादा कवर्धा में

धान खरीदी: मप्र, ओडिशा, झारखंड व महाराष्ट्र से आवक रोकने सीमाओं पर नाकेबंदी, 19 हजार क्विंटल धान सहित 63 वाहन जब्त, सबसे ज्यादा कवर्धा में

politics, छत्तीसगढ़
रायपुर (एजेंसी) | छत्तीसगढ़ सरकार इस बार 85 लाख टन धान ही खरीदेगी, इसलिए दूसरे राज्यों से तस्करी कर यहां लाए जा रहे धान पर अब सख्ती बढ़ा दी गई है। एक दिसंबर से धान खरीदी शुरू हो रही है। वही ,प्रदेश के विभिन्न जिलों में धान का अवैध परिवहन करते हुए पाए जाने पर 63 वाहनों सहित 19 हजार 33 क्विंटल धान जब्त किया गया है। आपको बता दे 15 क्विंटल प्रति एकड़ की लिमिट के हिसाब से यहां के किसान ही अपना पूरा धान नहीं बेच पाएंगे, इसलिए प्रशासन मध्यप्रदेश, ओड़िशा, महाराष्ट्र और झारखंड से आने वाले धान को रोकने के लिए राजनांदगांव, कवर्धा, रायपुर, महासमुंद, गरियाबंद, कांकेर, जांजगीर-चांपा, रायगढ़, बिलासपुर, जशपुर और सरगुजा को मिलाकर 11 जिलों में तकरीबन 100 अफसरों की टीमों के साथ सड़क पर आ गया है। शनिवार से रविवार तक इन जिलों में अलग-अलग जगह 100 से ज्यादा ट्रक और छोटे मालवाहनों से 21 हजार क्विंटल धान
धान खरीदी हुई तो नहीं करेंगे आर्थिक नाकेबंदी: खाद्य मंत्री अमरजीत भगत

धान खरीदी हुई तो नहीं करेंगे आर्थिक नाकेबंदी: खाद्य मंत्री अमरजीत भगत

politics
बिलासपुर (एजेंसी) | खाद्य मंत्री अमरजीत भगत ने कहा कि अगर धान खरीदी में काम बन जाएगा तो आर्थिक नाकेबंदी नहीं होगी। जिस तरह से सकारात्मक रूप दिख रहा है, उससे नहीं लगता कि इसकी नौबत आएगी। राउत नाच महोत्सव में पहुंचे मंत्री से जब पूछा गया कि इस्पात राज्य मंत्री फगन सिंह कुलस्ते ने कहा है कि प्रदेश सरकार ने केंद्र से पूछकर समर्थन मूल्य घोषित नहीं किया। इस पर मंत्री ने कहा कि कोई भी पार्टी घोषणा पत्र तैयार करती है तो अन्य दल से नहीं पूछती। जब यूपीए सरकार थी तब तो राज्य की भाजपा सरकार ने उससे अनुमति नहीं ली थी। उन्होंने कहा कि अपनी बात मनवाने के लिए आंदोलन किया गया। किसानों को भूपेश सरकार पर पूरा भरोसा है कि उनका धान 2500 रुपए समर्थन मूल्य में खरीदा जाएगा। देर से खरीदी क्यों के सवाल पर कहा कि देर से मानसून आने की वजह से फसल देर से पकी और कोई वजह नहीं है। भाजपा विपक्ष में है इसलिए विरोध
कैबिनेट मीटिंग: नवा रायपुर शिफ्ट होगा एम्स, हाउसिंग बोर्ड के मकानों में मिलेगी छूट, सभी स्वास्थ्य योजनाओं का होगा मर्ज

कैबिनेट मीटिंग: नवा रायपुर शिफ्ट होगा एम्स, हाउसिंग बोर्ड के मकानों में मिलेगी छूट, सभी स्वास्थ्य योजनाओं का होगा मर्ज

politics
रायपुर (एजेंसी) | छत्तीसगढ़ के मुख्यमंत्री भूपेश बघेल मंत्रिमंडल की शुक्रवार को हुई बैठक में कई अहम निर्णय लिए गए। मुख्यमंत्री की अध्यक्षता में हुई इस बैठक में स्वास्थ्य सेवाओं के लिए ट्रस्ट गठित करने, रायपुर में जेम एंड ज्वैलरी पार्क स्थापित करने, एम्स को नवा रायपुर शिफ्ट करने और हाउसिंग बोर्ड के मकानों पर 15 से 20 फीसदी छूट दिए जाने जैसे कई फैसले लिए गए। खास बात यह रही कि प्रदेश में चल रही सभी स्वास्थ्य योजनाओं (केंद्र की भी शामिल) को एक साथ मर्ज किया जाएगा। डॉ. खूबचंद बघेल स्वास्थ्य सहायता योजना सभी स्वास्थ्य योजनाओं (आयुष्मान भारत, मुख्यमंत्री स्वास्थ्य बीमा, संजीवनी सहायता कोष, मुख्यमंत्री बाल हृदय सुरक्षा, मुख्यमंत्री बाल श्रवण योजना एवं राष्ट्रीय बाल स्वास्थ्य कार्यक्रम) को समाविष्ट होंगी। इस नई योजना में आयुष्मान भारत योजना में शामिल परिवारों के साथ ही सभी प्राथमिकता और अंत्यो
रायपुर: रेडियंट स्कूल हादसे में माउंटेनमैन राहुल और मैनेजर गिरफ्तार, घंटेभर में ही छूटे

रायपुर: रेडियंट स्कूल हादसे में माउंटेनमैन राहुल और मैनेजर गिरफ्तार, घंटेभर में ही छूटे

छत्तीसगढ़
रायपुर (एजेंसी) | रेडियंट-वे स्कूल में एडवेंचर्स गेम्स का आयोजन करने वाले इवेंट कंपनी के संचालक राहुल गुप्ता और उनके मैनेजर अजय साहू को पुलिस ने शनिवार को गिरफ्तार किया। कागजी खानापूर्ति के बाद उन्हें थाने से ही एक घंटे के भीतर मुचलके पर छोड़ दिया गया। अब उन्हें कोर्ट में जमानत पेश करनी होगी। पुलिस कोर्ट में चालान पेश करेगी। उसके बाद आरोपियों पर लापरवाही पूर्वक आयोजन करने और बच्चों की जान जाेखिम में डालने का केस दर्ज किया जाएगा। पुलिस इस मामले में अब तक स्कूल के संचालक समीर दुबे और एक अन्य को गिरफ्तार कर चुकी है। सभी के खिलाफ एक ही आरोप में केस दर्ज किया गया है। इसी घटना की जांच कर रहे जिला शिक्षा अधिकारी स्कूल की मान्यता समाप्त करने की सिफारिश शासन से कर चुके हैं। शिक्षा विभाग के जिम्मेदार रिपोर्ट पर मंथन कर रहे हैं। जल्द ही इस मामले में कार्रवाई के संकेत मिल रहे हैं। पालक संघ लग