दिनांक : 20-May-2024 06:30 PM
Follow us : Youtube | Facebook | Twitter
Shadow

Chhattisgarh

पढ़े छत्तीसगढ़ राज्य की महत्वपूर्ण खबरे।

रायपुर : मुख्यमंत्री ने सीआरपीएफ के स्थापना दिवस पर वीर जवानों को किया सलाम

रायपुर : मुख्यमंत्री ने सीआरपीएफ के स्थापना दिवस पर वीर जवानों को किया सलाम

Chhattisgarh
मुख्यमंत्री श्री भूपेश बघेल ने देश के सबसे बड़े केंद्रीय सशस्त्र पुलिस बल ष्केन्द्रीय रिज़र्व पुलिस बलष् (सीआरपीएफ) के आज स्थापना दिवस पर सभी वीर जवानों को बधाई और शुभकामनाएं दी है। सीआरपीएफ के जाबांजों के साहस, पराक्रम और बलिदान को सलाम करते हुए श्री बघेल ने कहा है कि उनकी सेवा और निष्ठा के हम सब भारतवासी ऋणी हैं।...
रायपुर : लोकवाणी में इस बार आदिवासी अंचलों की अपेक्षाएं और विकास पर होगी बात

रायपुर : लोकवाणी में इस बार आदिवासी अंचलों की अपेक्षाएं और विकास पर होगी बात

Chhattisgarh, Tribal Area News and Welfare
मुख्यमंत्री श्री भूपेश बघेल अपनी मासिक रेडियोवार्ता लोकवाणी में इस बार आदिवासी अंचलों की अपेक्षाएं और विकास विषय पर बातचीत करेंगे। इस संबंध में कोई भी व्यक्ति आकाशवाणी रायपुर के दूरभाष नंबर 0771-2430501, 2430502, 2430503 पर 28, 29 एवं 30 जुलाई को अपरान्ह 3 से 4 बजे के बीच फोन करके अपने सवाल रिकाॅर्ड करा सकते हैं। मुख्यमंत्री श्री भूपेश बघेल की मासिक रेडियो वार्ता लोकवाणी की 20वीं कड़ी का प्रसारण 8 अगस्त 2021 को होगा। लोकवाणी का प्रसारण छत्तीसगढ़ स्थित आकाशवाणी के सभी केंद्रों, एफएम रेडियो और क्षेत्रीय समाचार चैनलों से सुबह 10.30 से 11 बजे तक होगा....
साकार हुआ अपने घर का सपना : नक्सल हिंसा पीड़ित अमीरु निशा को मिला पक्का आवास

साकार हुआ अपने घर का सपना : नक्सल हिंसा पीड़ित अमीरु निशा को मिला पक्का आवास

Chhattisgarh
हर किसी का सपना होता है कि अपना खुद का घर हो, सिर छुपाने के लिए एक पक्की छत हो। हजारों लोगों के अपने घर के इस सपने को राज्य सरकार की महत्वाकांक्षी  मोर जमीन-मोर मकान योजना साकार कर रही है। इस योजना ने  बीजापुर नगर के वार्ड क्रमांक 11 की निवासी नक्सल पीड़ित श्रीमती अमीरू निशा के अपने पक्के मकान का सपना सच कर दिया है। जिसमें श्रीमती अमीरु अपने परिवार के साथ खुशहाल जीवन व्यतीत कर रही हैं। सहायता के जरिये नक्सल हिंसा पीड़ित महिला अमीरु निशा को पक्का आवास मिला है। श्रीमती अमीरु निशा ने बताया कि वर्ष 2006 में उनके पति स्वर्गीय मोहम्मद बेग की हत्या नक्सलियों ने कर दी थी। पति के निधन के बाद उन्हें बहुत कठिनाईयों का सामना किया। उनके कंधों पर अपने पुत्र और दो पुत्रियों के भरण-पोषण की जिम्मेदारी आ गयी। एक पुत्री की उम्र विवाह के लायक होने के कारण उसके विवाह की चिंता थी, वहीं सिर छुपाने के लिए अपना म...
चन्दूलाल चन्द्राकर स्मृति चिकित्सा महाविद्यालय दुर्ग का अधिग्रहण संबंधी विधेयक विधानसभा में होगा पेश

चन्दूलाल चन्द्राकर स्मृति चिकित्सा महाविद्यालय दुर्ग का अधिग्रहण संबंधी विधेयक विधानसभा में होगा पेश

Chhattisgarh
चन्दूलाल चन्द्राकर स्मृति चिकित्सा महाविद्यालय दुर्ग का अधिग्रहण संबंधी विधेयक छत्तीसगढ़ विधानसभा में पेश किया जाएगा। विगत 20 जुलाई को आयोजित राज्य कैबिनेट की बैठक में इस चिकित्सा महाविद्यालय के अधिग्रहण विधेयक के प्रारूप का अनुमोदन किया गया है। संसदीय कार्य मंत्री श्री रविन्द्र चौबे ने कहा है कि छत्तीसगढ़ सरकार द्वारा छत्तीसगढ़ की पूरी जनता और छात्रों के हित में तथा प्रदेश में तेजी से चिकित्सा शिक्षा के विस्तार के उद्देश्य से चन्दूलाल चन्द्राकर स्मृति चिकित्सा महाविद्यालय दुर्ग के अधिग्रहण का निर्णय लिया गया है। इससे चिकित्सा महाविद्यालय के रूप में एक तैयार अधोसंरचना का अधिग्रहण किया जा सकेगा। उन्होंने कहा कि आमतौर पर किसी चिकित्सा महाविद्यालय की अधोसंरचना को तैयार करने में ही करीब 500 करोड़ रूपए और काफी समय लग जाता है। मेडिकल कॉउंसिल ऑफ इंडिया द्वारा मान्यता प्राप्त 150 सीट वाले चंदूलाल च...
विधानसभा अध्यक्ष डॉ चरणदास महंत की अध्यक्षता में आज कार्यमंत्रणा समिति की बैठक आयोजित की गई

विधानसभा अध्यक्ष डॉ चरणदास महंत की अध्यक्षता में आज कार्यमंत्रणा समिति की बैठक आयोजित की गई

Chhattisgarh
विधानसभा अध्यक्ष डॉ चरणदास महंत की अध्यक्षता में आज यहां विधानसभा के समिति कक्ष में कार्यमंत्रणा समिति की बैठक आयोजित की गई। मुख्यमंत्री श्री भूपेश बघेल, नेता प्रतिपक्ष श्री धरमलाल कौशिक, संसदीय कार्य मंत्री श्री रविन्द्र चौबे सहित समिति के सदस्यगण बैठक में उपस्थित थे।
रायपुर : ई-पंजीयन से नीलिमा की दूर हुई बेरोजगारी : गांव के विकास में बढ़ गई भागीदारी

रायपुर : ई-पंजीयन से नीलिमा की दूर हुई बेरोजगारी : गांव के विकास में बढ़ गई भागीदारी

Chhattisgarh
हर माता पिता का सपना होता है कि उसके बच्चे पढ़ लिखकर अच्छी डिग्री हासिल करें और अच्छी नौकरी या रोजगार से जुड़कर अपनी पैरों पर खड़ा हो सकें। नीलिमा के माता- पिता का भी कुछ ऐसा ही सपना था। अपनी बेटी को इंजीनियरिंग की पढ़ाई कराने के साथ उन्हें उम्मीद थी कि डिग्री हासिल करते ही कुछ दिनों के भीतर नौकरी लग जाएगी। नीलिमा को भी कुछ ऐसा ही विश्वास था। जब हाथों में इंजीनियरिंग की डिग्री आ गई और वर्षों तक कोई नौकरी नहीं मिली तो माता पिता ही नहीं नीलिमा का सपना मानों टूट ही गया। कई वर्षों तक बेरोजगार रहने के बाद प्रदेश के मुख्यमंत्री श्री भूपेश बघेल ने जब युवाओं को रोजगार से जोड़ने और विकासकार्यों में भागीदारी सुनिश्चित करने ई-श्रेणी पंजीयन प्रणाली लागू की तो नीलिमा की उम्मीदों को पंख लग गए। अपने क्षेत्र के विधायक और नगरीय प्रशासन मंत्री डॉ. शिवकुमार डहरिया की पहल से इंजीनियरिंग में स्नातक कुमारी नीलिमा...
रायपुर : मुख्यमंत्री सुपोषण अभियान से मां-बेटी ने दी कुपोषण को मात

रायपुर : मुख्यमंत्री सुपोषण अभियान से मां-बेटी ने दी कुपोषण को मात

Chhattisgarh
मुख्यमंत्री सुपोषण अभियान कुपोषित बच्चों और महिलाओं  के जीवन में वरदान साबित हो रहा है। इस योजना के तहत आंगनबाड़ी केन्द्र में गर्म भोजन, अतिरिक्त पौष्टिक आहार सहित निःशुल्क स्वास्थ्य और परामर्श सेवाएं प्रदान करने से कुपोषित बच्चों, एनीमिक महिलाओं को कई प्रकार के स्वास्थ्यगत परेशानियों से निजात मिल रही है। इन्ही में से एक वनांचल और आदिवासी क्षेत्र बीजापुर के संतोषपुर की फुलदई साहनी  हैं, जो करीब सालभर पहले एनीमिया से पीड़ित थीं। उनका हिमोग्लोबिन स्तर 7 ग्राम और वजन मात्र 35 किलोग्राम था। वह पूरी तरह कमजोर हो गयी थी। लेकिन आंगनबाड़ी केन्द्र में नियमित रूप से पौष्टिक आहार तथा स्वास्थ्य जांच सहित उपचार मिलने से अब फुलदई एनीमिया से मुक्त हो गयी है। फुलदई साहनी बताती हैं कि एनीमिया से पीड़ित होने के कारण वह बहुत कमजोर महसूस करती थीं। घरेलू काम करने के दौरान जल्दी थक जाती थीं। उनकी साढ़े 4 वर्ष की ...
मुख्यमंत्री ने कारगिल विजय दिवस पर शहीद जवानों को दी श्रद्धांजलि

मुख्यमंत्री ने कारगिल विजय दिवस पर शहीद जवानों को दी श्रद्धांजलि

Chhattisgarh
मुख्यमंत्री श्री भूपेश बघेल ने कारगिल विजय दिवस 26 जुलाई  पर भारतीय जवानों की शौर्यता को नमन करते हुए कारगिल युद्ध के शहीद जवानों को श्रद्धांजलि अर्पित की है। श्री बघेल ने कहा कि कारगिल युद्ध में देश के वीर सपूतों ने अपने अदम्य साहस और हौसलों से विपरीत परिस्थितियों में भी विजय हासिल कर अपनी क्षमता का लोहा मनवाया था। देश के इन सपूतों के साहस ने 26 जुलाई 1999 को कारगिल में विजय दिलाई। यह पूरे देश के लिए गौरवशाली दिन हैं।...
अखिल भारतीय अग्रवाल सम्मेलन प्रदेश इकाई के नई कार्यकारिणी की पहली बैठक अग्रसेन धाम रायपुर में हुई

अखिल भारतीय अग्रवाल सम्मेलन प्रदेश इकाई के नई कार्यकारिणी की पहली बैठक अग्रसेन धाम रायपुर में हुई

Chhattisgarh
रायपुर। 25 जुलाई 2021. अखिल भारतीय अग्रवाल सम्मेलन की छत्तीसगढ़ इकाई की प्रथम प्रदेश कार्यकारिणी बैठक रायपुर के वी.आई.पी रोड पे स्थित अग्रसेन धाम में आयोजित की गयी। संगठन के पिछले 45 सालो के इतिहास में पहली बार रायपुर जिले से बाहर रायगढ़ जिले के श्री संतोष अग्रवाल जी को प्रदेश अध्यक्ष पद पर निर्वाचित किया गया। अग्रवाल समाज के पूजनीय महाराजा अग्रसेन जी की पूजा-आरती से बैठक आरंभ हुई, सर्वप्रथम प्रदेश अध्यक्ष श्री संतोष अग्रवाल जी ने सभी माननीय अतिथिगण एवं अग्रबन्धु सदस्यों का आभार व्यक्त किया एवं भविष्य की कई योजनाओं को अमल करने का संकल्प लिया। तालियों की गड़गड़ाहट के साथ उन्होंने भाषण प्रारंभ करते हुए कहा कि “मुख्यतः समाज की प्रगति के लिए संगठन को और मजबूत करना होगा अग्रसेन महाराज जी की एक ईट और एक रूपया की निति को क्रियावन्त करना ही हमारा मुख्य उद्देश्य है।“ उन्होंने कोरोना काल में अग्र...
कोरबा में सिंचाई विभाग की करोड़ों रुपए की जमीन पर अवैध कब्जा, शिकायत के बावजूद नहीं हो रही कोई कार्रवाई

कोरबा में सिंचाई विभाग की करोड़ों रुपए की जमीन पर अवैध कब्जा, शिकायत के बावजूद नहीं हो रही कोई कार्रवाई

Chhattisgarh
रायपुर। सिंचाई विभाग के करोड़ों रुपए की बेशकीमती जमीन पर कोरबा में निजी शोरूम वाले अब अवैध कब्जा कर रहे हैं। इस बात की शिकायत सिंचाई मंत्री समेत सिंचाई विभाग के कई बड़े अफसरों की गई है। लेकिन उक्त मामले में किसी प्रकार की कार्रवाई नहीं की गई है। यहीं हैरानी का कारण बना हुआ है। कोरबा में हसदेव बराज के पास नहर के किनारे बनी सड़क से लगी और निजी स्वामियों की जमीन के बीच करोड़ों रुपए के मूल्य की बेशकीमती जमीन का स्वामी सिंचाई विभाग है। लेकिन सिंचाई विभाग अपनी इस बेशकीमती जमीन को शायद सांठगांठ कर निजी भूस्वामी को अप्रत्यक्ष रूप से बांट रहा है। अगर ऐसा नहीं होता तो निजी भूस्वामी अपनी जमीन पर निर्माण करने के बाद सिंचाई विभाग की जमीन पर बाउंड्री वाल और मंदिर नहीं बना देते। एक शोरूम वाले ने तो बकायदा मंदिर बनाकर उस पर अपने अवैध कब्जे को स्थाई करने का पूरा—पूरा इंतजाम कर लिया है। कोरबा शहर के बीचो...