दिनांक : 19-Apr-2024 09:06 AM
Follow us : Youtube | Facebook | Twitter
Shadow

खेल-खेल में चार साल के बच्चे से कार में लगी नेम प्लेट टूटी तो कांग्रेस पार्षद ने मासूम की मां को जड़ा थप्पड़

25/03/2021 posted by Priyanka (Media Desk) Chhattisgarh, Video    

रायपुर के गोबरा नवापारा इलाके के एक कांग्रेसी पार्षद ने एक महिला की पिटाई कर दी। महिला का कसूर ये था कि इसके 4 साल के बेटे ने आरोपी पार्षद की कार में लगी नेम प्लेट को खेलने के दौरान गलती से तोड़ दिया। कांग्रेसी पार्षद के लिए ये शान में गुस्ताखी ना काबिले बर्दाश्त हो गई। उन्होंने महिला को बुलाया। पहले तो गालियां दी, फिर तमाचा जड़ दिया। महिला का पति भी अपनी पत्नी को पार्षद के गुस्से से बचा न सका और मुहल्ले के लोगों के सामने पार्षद अपनी गुंडई दिखाता रहा।

ये है पूरा मामला

मारपीट की ये घटना बुधवार को हुई थी। अब इसका वीडियो सोशल मीडिया पर वायरल हो रहा है। दरअसल, जब पार्षद महिला से मारपीट कर रहा था तो पास ही लगे CCTV कैमरे में सब कुछ रिकॉर्ड हो गया। मारपीट करने वाले पार्षद का नाम मंगराज सोनकर है। गोबरा नवापारा नगर पालिका के वार्ड क्रमांक 16 से मंगराज कांग्रेस पार्टी का पार्षद है। इनके कार में सामने की तरफ पार्षद लिखी नेम प्लेट लगी है। लाल रंग की ये पट्‌टी इनके रसूख की कहानी इलाके में बयां करती है।

पास ही रहने वाले दुर्गा साहू के 4 साल के बच्चे ने मंगराज सोनकर की कार में लगे नेम प्लेट को खेल-खेल में तोड़ दिया। दोपहर के वक्त पार्षद के बेटे ने इसी बात पर बच्चे को पीट दिया था। बाद में शाम को जब मंगराज घर पहुंचा तो टूटे नेम प्लेट पर नजर पड़ी। इसने दुर्गा को बुलया गालियां दी, जब दुर्गा ने कहा कि उसके बेटे को भी पीटा गया है, तो जवाब मिलता देख पार्षद का पारा और बढ़ गया। इसने महिला को पीट दिया। तंग आकर महिला का परिवार मामले की शिकायत लेकर गोबरा थाना पहुंचा। पुुलिस ने कांग्रेस पार्षद के खिलाफ केस दर्ज कर लिया है। पुलिस जल्द ही उसकी गिरफ्तारी करने के दावे कर रही है।

Author Profile

Priyanka (Media Desk)
Priyanka (Media Desk)प्रियंका (Media Desk)
"जय जोहार" आशा करती हूँ हमारा प्रयास "गोंडवाना एक्सप्रेस" आदिवासी समाज के विकास और विश्व प्रचार-प्रसार में क्रांति लाएगा, इंटरनेट के माध्यम से अमेरिका, यूरोप आदि देशो के लोग और हमारे भारत की नवनीतम खबरे, हमारे खान-पान, लोक नृत्य-गीत, कला और संस्कृति आदि के बारे में जानेगे और भारत की विभन्न जगहों के साथ साथ आदिवासी अंचलो का भी प्रवास करने अवश्य आएंगे।