दिनांक : 06-Dec-2022 12:55 AM   रायपुर, छत्तीसगढ़ से प्रकाशन   संस्थापक : पूज्य श्री स्व. भरत दुदानी जी
Follow us : Youtube | Facebook | Twitter English English Hindi Hindi
Shadow

पूर्व DGP डीएम अवस्थी की ACB-EOW का महानिदेशक बनकर वापसी,साल भर पहले हटाए गए थे

19/11/2022 posted by Priyanka (Media Desk) Chhattisgarh, Raipur    

छत्तीसगढ़ में पुलिस महकमे का शक्ति समीकरण बदला है। पूर्व पुलिस महानिदेशक डीएम अवस्थी ने एंटी करप्शन ब्यूरो-ACB और आर्थिक अपराध अनुसंधान ब्यूरो-EOW के मुखिया के तौर पर दमदार वापसी की है। संकेत साफ हैं कि इस मोर्चे पर पुलिस की सक्रियता बढ़ने जा रही है। ठीक एक साल पहले प्रदेश में बिगड़ती कानून-व्यवस्था के सवाल पर अवस्थी को कार्यकाल पूरा होने से पहले ही हटाकर राज्य पुलिस अकादमी का महानिदेशक बना दिया गया था।

वरिष्ठ प्रशासनिक सूत्रों की माने तो पिछले दिनों प्रशासन और पुलिस महकमें की समीक्षा के बाद से मुख्यमंत्री भूपेश बघेल ने ACB और EOW में लंबित मामलों को लेकर नाराजगी जताई थी। उसके बाद ऐसे अफसर की तलाश तेज हुई जो सरकार को परिणाम दे। यह तलाश पूर्व DGP डीएम अवस्थी पर जाकर खत्म हुई है। क्लियरेंस मिलते ही 1986 बैच के IPS अवस्थी को ACB-EOW का महानिदेशक बनाने का आदेश जारी कर दिया गया। इसके साथ यह भी तय कर दिया गया कि ACB-EOW का महानिदेशक पद, प्रतिष्ठा और जिम्मेदारी में पुलिस महानिदेशक के समकक्ष यानी बराबर का होगा।

पिछले साल 9 नवम्बर को मुख्यमंत्री भूपेश बघेल ने पुलिस के कामकाज की समीक्षा की थी। इस दौरान रिपोर्ट देखकर वे काफी नाराज हुए। मुख्यमंत्री ने भरी बैठक में कह दिया, मुझे अब आप लोगों से कोई अपेक्षा नहीं बची है। बार-बार कहने के बावजूद पुलिसिंग में कोई सुधार नहीं दिख रहा है। मुख्यमंत्री ने साफ शब्दों में कहा, उनके सब्र की परीक्षा मत लीजिए। सुधर जाइये नहीं तो मुझे सुधारना आता है। बाद में मुख्यमंत्री की नाराजगी की वजह भी सामने आई। बताया गया, सड़कों पर हो रही चाकूबाजी, जुआ-सट्‌टा का अवैध कारोबार, चिटफंड पर कार्रवाई में ढिलाई और ओडिशा से गांजा तस्करी रोक पाने में पुलिस की नाकामी की वजह से उनका गुस्सा फूटा था। ठीक दो दिन बाद सरकार ने पुलिस महानिदेशक पद से अवस्थी की छुट्‌टी कर उनसे तीन साल जूनियर 1989 बैच के अशोक जुनेजा को महकमे का मुखिया बना दिया।

Author Profile

Priyanka (Media Desk)
Priyanka (Media Desk)प्रियंका (Media Desk)
"जय जोहार" आशा करती हूँ हमारा प्रयास "गोंडवाना एक्सप्रेस" आदिवासी समाज के विकास और विश्व प्रचार-प्रसार में क्रांति लाएगा, इंटरनेट के माध्यम से अमेरिका, यूरोप आदि देशो के लोग और हमारे भारत की नवनीतम खबरे, हमारे खान-पान, लोक नृत्य-गीत, कला और संस्कृति आदि के बारे में जानेगे और भारत की विभन्न जगहों के साथ साथ आदिवासी अंचलो का भी प्रवास करने अवश्य आएंगे।