टैग: ias

11 आईएएस और 6 आईपीएस अफसरों का तबादला, वीके सिंह और आईजी के बीच तालमेल नहीं बैठ रहा

11 आईएएस और 6 आईपीएस अफसरों का तबादला, वीके सिंह और आईजी के बीच तालमेल नहीं बैठ रहा

chhattisgarh
रायपुर (एजेंसी) | छत्तीसगढ़ राज्य प्रशासनिक विभाग में एक बार फिर 11 आईएएस और 6 आईपीएस अफसरों का तबादला किया गया है। आईपीएस अफसर ओपी पाल लगभग साढ़े 3 साल तक अपर परिवहन आयुक्त थे। उन्हें पुलिस मुख्यालय लाया गया है। जीपी सिंह अब तक पुलिस मुख्यालय में बिना विभाग के आईजी थे। ईओडब्ल्यू में कल्लूरी की नियुक्ति भी चर्चा में थी और वहां से ट्रांसपोर्ट में जाने पर भी पुलिस मुख्यालय के गलियारों में हैरानी है। जीपी सिंह की ईओडब्लू-एसीबी में पोस्टिंग के साथ उनका कद बढ़ाया गया है। राज्य में सत्ता परिवर्तन के बाद उन्हें दुर्ग आईजी के पद से हटाकर मुख्यालय अटैच कर दिया गया था। हालांकि कुछ ही दिनों बाद उन्हें अंतागढ़ टेपकांड की जांच कर रही एसआईटी की मॉनीटरिंग का जिम्मा सौंपकर मुख्यधारा में लाने के संकेत दे दिए गए थे। अब उन्हें ईओडब्लू और एसीबी में पोस्टिंग दी गई, जहां नान और ई-टेंडरिंग जैसे सरकार से
पिंगुआ को बनाया गया प्रमुख सचिव उद्योग, अन्बलगन संभालेंगे नान, कल्लूरी को हटाया, ईओडब्ल्यू के नए चीफ जीपी सिंह

पिंगुआ को बनाया गया प्रमुख सचिव उद्योग, अन्बलगन संभालेंगे नान, कल्लूरी को हटाया, ईओडब्ल्यू के नए चीफ जीपी सिंह

chhattisgarh
रायपुर (एजेंसी) | राज्य शासन ने बुधवार को एक बार फिर 11 आईएएस और 6 आईपीएस अफसरों को इधर से उधर किया। आईएएस अफसरों में मनोज पिंगुआ को प्रमुख सचिव उद्योग और पी अन्बलगन अब नान संभालेंगे। वहीं, आईपीएस अफसरों में एसआरपी कल्लूरी को हटाकर ईओडब्ल्यू का नया चीफ जीपी सिंह को बनाया गया है। कल्लूरी बनाए गए परिवहन अपर आयुक्त कल्लूरी परिवहन अपर आयुक्त बनाए गए हैं। प्रमुख सचिव मनोज पिंगुआ को वाणिज्य उद्योग तथा सार्वजनिक उपक्रम का प्रभार दिया गया है। पिंगुआ की वापसी के लिए मुख्यमंत्री बघेल ने खुद ही केन्द्र सरकार को पत्र लिखा था। एसीएस अमिताभ जैन अब वाणिज्य उद्योग के प्रभार से मुक्त होंगे। इसी तरह से निहारिका बारिक सिंह संस्कृति पर्यटन से मुक्त होंगी। शिखा राजपूत की नियुक्ति के बाद स्वाास्थ्य विभाग में अब सचिव व संचालक दोनों महिला अफसर हो जाएंगी। दिसंबर में नई सरकार बनने के कम महत्व के उपक्रम
शेख आरिफ रायपुर एसपी, नीतू कमल को बलौदाबाजार भेजा, 10 आईपीएस समेत 32 एएसपी के तबादले 

शेख आरिफ रायपुर एसपी, नीतू कमल को बलौदाबाजार भेजा, 10 आईपीएस समेत 32 एएसपी के तबादले 

chhattisgarh
रायपुर (एजेंसी) | राज्य शासन ने पुलिस में बड़ा फेरबदल किया है। रायपुर एसपी नीतू कमल सहित 10 आईपीएस अफसरों का तबादला हो गया है, साथ ही 32 एएसपी भी बदले गए हैं। एसआईबी में पदस्थ आरिफ शेख रायपुर के नए एसपी बनाए गए हैं। नीतू का 54 दिन में ही तबादला हो गया। मोहित गर्ग को नारायणपुर एसपी बनाया गया है। फोन टैपिंग के मामले में रजनेश सिंह के सस्पेंड होने के बाद से यह पद खाली था। एसपी नीतू कमल सहित 10 आईपीएस अफसरों का हुआ तबादला नारायणपुर राज्य का सबसे संवेदनशील नक्सल प्रभावित जिलों में एक है। यहां अभी प्रमोटी एसपी रजनेश सिंह पदस्थ थे। अब सीधी भर्ती के डायरेक्ट आईपीएस गर्ग को कमान दी गई है। रायपुर के बदलाव को अंतागढ़ के टेपकांड की जांच से जोड़कर देखा जा रहा है। रायपुर एसपी नीतू कमल सहित 10 आईपीएस अफसरों का तबादला हो गया है। एसआईबी में पदस्थ आरिफ शेख रायपुर के नए एसपी बनाए गए हैं। #gondwana
भ्रष्टाचार के आरोप में पूर्व प्रमुख सचिव अमन सिंह के खिलाफ एसआईटी जांच पर हाईकोर्ट की रोक

भ्रष्टाचार के आरोप में पूर्व प्रमुख सचिव अमन सिंह के खिलाफ एसआईटी जांच पर हाईकोर्ट की रोक

chhattisgarh
रायपुर (एजेंसी) | हाईकोर्ट से पूर्व प्रमुख सचिव अमन सिंह को राहत मिली है। कोर्ट ने उनके खिलाफ एसआईटी जांच के आदेश पर रोक लगा दी है। अमन सिंह द्वारा बिना किसी एफआईआर के एसआईटी गठन को नियम विरुद्ध बताते हुए, जांच पर रोक लगाने की याचिका लगाई थी। जस्टिस प्रशांत मिश्रा की बेंच में मामले की अगली सुनवाई 27 फरवरी को होगी। अमन सिंह ने याचिका में कहा था कि जिस मामले में सरकार ने पहले ही उन्हें एनओसी दे दी, उसकी फिर जांच का कोई औचित्य नहीं है। इसलिए जांच निरस्त की जाए। दरअसल, दिल्ली की विजया मिश्रा ने अमन सिंह के खिलाफ पीएमओ में शिकायत की थी। (adsbygoogle = window.adsbygoogle || []).push({}); इसमें कहा गया था आरईएस से वीआरएस लेने के बाद अमन सिंह को छत्तीसगढ़ में संविदा नियुक्ति दी गई। इस दौरान उन्होंने पूर्व में खुद प दर्ज प्रकरण की जानकारी छिपाई। जबकि 2001-02 में बैंगलुरू में पोस्
लोकसभा चुनाव से पहले 11 कलेक्टरों समेत 42 आईएएस अफसरों के तबादले, मौर्य राजनांदगांव के, आनंद दुर्ग के और किरण होंगे कोरबा के कलेक्टर

लोकसभा चुनाव से पहले 11 कलेक्टरों समेत 42 आईएएस अफसरों के तबादले, मौर्य राजनांदगांव के, आनंद दुर्ग के और किरण होंगे कोरबा के कलेक्टर

chhattisgarh
रायपुर (एजेंसी) | लोकसभा चुनाव से पहले प्रदेश सरकार ने साेमवार रात में बड़ी प्रशासनिक सर्जरी की। 11 जिलों के कलेक्टरों समेत 42 आईएएस अफसरों का तबादला कर दिया गया है। राजनीतिक रूप से अहम माने जा रहे कांकेर, राजनांदगांव, दुर्ग और कोरबा संसदीय जिलों के कलेक्टरों को भी बदला गया है। दिसंबर में किए गए तबादलों में ये जिले छूट गए थे। इनके अलावा रायपुर के निगम आयुक्त और बस्तर के संभागायुक्त को भी बदला गया है। तबादलों की कवायद पिछले 2 दिन से मुख्यमंत्री सचिवालय में चल रही थी। सीएम भूपेश बघेल के सोमवार को बिहार और दिल्ली के दौरे से लौटने के बाद देर रात आदेश जारी किए गए। एक माह के भीतर ही दो चरणों में मुख्यमंत्री ने प्रदेश के 27 में से 26 जिलों के कलेक्टरों को बदल दिया है। 93 बैच के आईएफएस आलोक कटियार को सीईओ क्रेडा के साथ राज्य ग्रामीण विकास अभिकरण का अतिरिक्त प्रभार दिया गया है। तीन साल से