दिनांक : 05-Dec-2022 09:36 AM   रायपुर, छत्तीसगढ़ से प्रकाशन   संस्थापक : पूज्य श्री स्व. भरत दुदानी जी
Follow us : Youtube | Facebook | Twitter English English Hindi Hindi
Shadow

India

Read news articles about national news update, business news updates.

रायपुर: सी.एस.आर. मद से खेल अकादमियों का होगा संचालन, उद्योगों को खेल अकादमियों के संचालन की दी जाएगी जिम्मेदारी

रायपुर: सी.एस.आर. मद से खेल अकादमियों का होगा संचालन, उद्योगों को खेल अकादमियों के संचालन की दी जाएगी जिम्मेदारी

Chhattisgarh, India
छत्तीसगढ़ सरकार राज्य में खेलों के विकास के लिए बेहतर अधोसरंचना के निर्माण करने के साथ ही खिलाड़ियों को जरूरी सुविधाओं मुहैया करा रही है। इसी कड़ी में निर्मित खेल अकादमियों में अंतर्राष्ट्रीय स्तर के मानकों के हिसाब से तैयार किया जा रहा है। इन खेल अकादमियों को उद्योगों के सी.एस.आर. मद से शीघ्र संचालन की कार्यवाही सुनिश्चित कराने हेतु खेल एवं युवा कल्याण विभाग की अपर मुख्य सचिव की अध्यक्षता में उद्योग प्रतिनिधियों की बैठक आयोजित की जाएगी। उल्लेखनीय है की छत्तीसगढ़ खेल विकास प्राधिकरण की गवर्निंग बॉडी की बैठक में प्राप्त निर्देश के परिपालन में राज्य की विभिन्न खेल अकादमियों का संचालन उद्योगों के सी. एस.आर. मद से किये जाने के संबंध में  15 जून 2022 को  उद्योग एवं वाणिज्य विभाग की प्रमुख सचिव की अध्यक्षता एवं खेल एवं युवा कल्याण विभाग के  सचिव की  उपस्थिति में उद्योगों के प्रतिनिधियों के साथ बै...
राज्यपाल ने कलिंगा विश्वविद्यालय के कुलाधिपति के रूप में डॉ. अरोरा की नियुक्ति का किया अनुमोदन

राज्यपाल ने कलिंगा विश्वविद्यालय के कुलाधिपति के रूप में डॉ. अरोरा की नियुक्ति का किया अनुमोदन

Chhattisgarh, India
राज्यपाल एवं कुलाध्यक्ष सुश्री अनुसुईया उइके द्वारा छत्तीसगढ़ निजी विश्वविद्यालय (स्थापना एवं संचालन) अधिनियम, 2005 की धारा 16 (1) एवं कलिंगा विश्वविद्यालय परिनियम क्रमांक-05 की कंडिका-03 के प्रावधान अंतर्गत डॉ. संदीप अरोरा को कलिंगा विश्वविद्यालय, ग्राम-कोटनी नवा रायपुर के कुलाधिपति के पद पर पुनः नियुक्त किये जाने का अनुमोदन किया गया है।...
रायपुर : सात सिंचाई योजनाओं के लिए 29.40 करोड़ रूपए स्वीकृत

रायपुर : सात सिंचाई योजनाओं के लिए 29.40 करोड़ रूपए स्वीकृत

Chhattisgarh, India
छत्तीसगढ़ शासन ने प्रदेश के सात विभिन्न सिंचाई परियोजनाओं के कार्यों को कराने के लिए 29 करोड़ 40 लाख 81 हजार रूपए स्वीकृत किए है। कोरबा जिले के विकासखण्ड-कोरबा अंतर्गत हसदेव बांगो परियोजना के अंतर्गत हसदेव बांयी तट नहर के बाईपास एवं पावर केनाल का जीर्णोद्धार एवं सी.सी. लाईनिंग का मरम्मत कार्य एवं 100 मी. से 4400 मी. बाईपास नहर के क्षतिग्रस्त सी.सी. लाईनिंग निर्माण कार्य के लिए तीन करोड़ 85 लाख 14 हजार रूपए स्वीकृत किए गए है। इसी तरह से हसदेव बांयी तट नहर पर क्रास रेग्युलेटर एवं एस्केप चैनल का निर्माण कार्य के लिए तीन करोड़ 94 लाख 28 हजार रूपए स्वीकृत किए गए है। विकासखण्ड- कोरबा में सिंचाई कालोनी रामपुर स्थित संभागीय कार्यालय के बाउण्ड्रीवाल का निर्माण कार्य के लिए एक करोड़ 83 लाख 11 हजार रूपए स्वीकृत किए गए  है। कोरबा जिले के मिनीमाता बांगो बांध के कार्यालयीन परिसर एवं अन्य भवनों अहाता निर्म...
मुख्यमंत्री को छत्तीसगढ़ मनवा कुर्मी क्षत्रिय समाज के अधिवेशन में शामिल होने का न्योता

मुख्यमंत्री को छत्तीसगढ़ मनवा कुर्मी क्षत्रिय समाज के अधिवेशन में शामिल होने का न्योता

Chhattisgarh, India
मुख्यमंत्री श्री भूपेश बघेल से आज शाम यहां उनके निवास कार्यालय में छत्तीसगढ़ मनवा कुर्मी क्षत्रिय समाज के प्रतिनिधिमंडल ने सौजन्य मुलाकात की। प्रतिनिधिमंडल ने मुख्यमंत्री को छत्तीसगढ़ मनवा कुर्मी क्षत्रिय समाज के सामाजिक राज अधिवेशन व महाधिवेशन में शामिल होने का न्योता दिया। छत्तीसगढ़ मनवा कुर्मी क्षत्रिय समाज के केंद्रीय अध्यक्ष श्री चोवाराम वर्मा ने मुख्यमंत्री को बताया कि 11 दिसम्बर से सामाजिक राज अधिवेशन प्रारम्भ हो रहा है और आगामी 25 फरवरी को पाटन में महाधिवेशन का आयोजन किया जाएगा। मुख्यंमत्री श्री बघेल ने छत्तीसगढ़ मनवा कुर्मी क्षत्रिय समाज को सामाजिक अधिवेशन में आमंत्रण हेतु धन्यवाद देते हुए अधिवेशन के सफल आयोजन के लिए शुभकामनाएं दी। इस अवसर पर छत्तीसगढ़ मनवा कुर्मी क्षत्रिय समाज से श्री के. के. नायक, श्री दशरथ वर्मा, श्री के. पी. नायक, श्री चन्द्रशेखर परगनिहा, श्री रघुनन्दन वर्मा, श्...
मुक्तिबोध प्रसंग : जब तक अंधेरा गहराता रहेगा, मुक्तिबोध याद किये जाते रहेंगे

मुक्तिबोध प्रसंग : जब तक अंधेरा गहराता रहेगा, मुक्तिबोध याद किये जाते रहेंगे

Chhattisgarh, India, Vishesh Lekh
अंधेरे समय में खुद की तलाश करने के नाम मुक्तिबोध है। जैसा अंधेरा मुक्तिबोध के जमाने में था, आज उससे कहीं ज्यादा गहरा है। ऐसे में मुक्तिबोध रोशनी दिखाते हैं, यह बात कवि एवं विचारक लाल्टू ने पंडित रविशंकर शुक्ल विश्वविद्यालय के कला भवन में आयोजित दो दिवसीय ‘मुक्तिबोध प्रसंग’ के आयोजन के पहले दिन उद्घाटन सत्र के दौरान कही। उन्होंने मुक्तिबोध के भाषा संबंधी विचारों को व्यक्त करते हुए मुक्तिबोध के लेख ‘अंग्रेजी जूते में हिंदी फिट करने वाले भाषाई रहनुमा’ को पढ़ते हुए वर्तमान भाषाई संकट पर बात रखी। अलग-अलग सत्रों व विभिन्न विषयों पर केन्द्रित दो दिवसीय ‘मुक्तिबोध प्रसंग’ का आयोजन छत्तीसगढ़ साहित्य अकादमी और पंडित रविशंकर शुक्ल विश्वविद्यालय द्वारा संयुक्त रूप से किया जा रहा है। वरिष्ठ आलोचक श्री जय प्रकाश ने मुक्तिबोध के जीवन प्रसंग से जुड़े आत्मीय संस्मरणों को सुनाते हुए, विचर निर्माण की यात्रा ...
रायपुर : छत्तीसगढ़ में मातृत्व मृत्यु दर में बड़ी गिरावट, 159 से घटकर 137 हुई

रायपुर : छत्तीसगढ़ में मातृत्व मृत्यु दर में बड़ी गिरावट, 159 से घटकर 137 हुई

Chhattisgarh, India
छत्तीसगढ़ में मातृत्व मृत्यु दर (MMR) में बड़ी गिरावट आई है। राज्य शासन द्वारा मातृ एवं शिशु स्वास्थ्य पर विशेष ध्यान दिए जाने के कारण वर्ष 2016 से 2018 के बीच 159 एमएमआर वाले छत्तीसगढ़ का एमएमआर अब घटकर 137 पर पहुंच गया है। प्रदेश में मातृत्व मृत्यु दर का अब तक का यह सबसे न्यूनतम आंकड़ा है। भारत के महापंजीयक कार्यालय द्वारा 28 नवम्बर को वर्ष 2018 से 2020 के बीच देश में मातृत्व मृत्यु पर विशेष बुलेटिन (SRS - Sample Registration System) जारी किया गया है। इसके मुताबिक तीन वर्षों में प्रदेश के एमएमआर में 22 अंकों की कमी आई है। एसआरएस के आंकड़ों के अनुसार प्रदेश में प्रति एक लाख जीवित बच्चों के जन्म पर मातृ मृत्यु की दर 159 से घटकर अब 137 हो गई है। मुख्यमंत्री श्री भूपेश बघेल के नेतृत्व में गर्भवती और शिशुवती महिलाओं को बेहतर पोषण उपलब्ध कराने सुपोषण अभियान संचालित किया जा रहा है। मातृत्...
मुख्यमंत्री ने किया छत्तीसगढ़ी पत्रिका ‘अरई तुतारी’ और गीत संग्रह ‘चंदन अस मोर गांव के माटी’ का विमोचन

मुख्यमंत्री ने किया छत्तीसगढ़ी पत्रिका ‘अरई तुतारी’ और गीत संग्रह ‘चंदन अस मोर गांव के माटी’ का विमोचन

Chhattisgarh, India
मुख्यमंत्री श्री भूपेश बघेल ने छत्तीसगढ़ी राजभाषा दिवस पर आज शाम अपने निवास कार्यालय में छत्तीसगढ़ी मासिक पत्रिका ‘अरई तुतारी’ और छत्तीसगढ़ी गीत संग्रह ‘चंदन अस मोर गांव के माटी’ का विमोचन किया। मासिक पत्रिका ‘अरई तुतारी’ की सम्पादकीय टीम के सदस्यों ने मुख्यमंत्री को बताया कि ‘अरई तुतारी’ छत्तीसगढ़ी भाषा की पहली मासिक पत्रिका है। इसमें छत्तीसगढ़ की संस्कृति के विविध आयामों जैसे यहां के पर्व, लोकनृत्य, पर्यटन स्थल, सिनेमा, साहित्य आदि से जुड़े आलेखों का संग्रह छत्तीसगढ़ी भाषा में किया गया है। छत्तीसगढ़ी गीत संग्रह ‘चंदन अस मोर गांव के माटी’ के गीतकार श्री चम्पेश्वर गोस्वामी ने मुख्यमंत्री को बताया कि इस संग्रह के माध्यम से उन्होंने छत्तीसगढ़ी भाषा में लिखे अपने 72 गीतों को किताब की शक्ल दी है। मुख्यमंत्री ने छत्तीसगढ़ी पत्रिका ‘अरई तुतारी’ की सम्पादकीय टीम और गीत संग्रह ‘चंदन अस मोर गांव के माटी’ ...
मुख्यमंत्री की पहल : किडनी के मरीजों के लिए नौ जिलों में निःशुल्क डायलिसिस की सुविधा

मुख्यमंत्री की पहल : किडनी के मरीजों के लिए नौ जिलों में निःशुल्क डायलिसिस की सुविधा

Chhattisgarh, India
मुख्यमंत्री श्री भूपेश बघेल की पहल पर किडनी के मरीजों के लिए प्रदेश के नौ जिलों में निःशुल्क डायलिसिस की व्यवस्था कर दी गई है। राज्य सरकार की यह सेवा हर वर्ग के बीमार मरीजों को निःशुल्क उपलब्ध कराई जा रही है। अब तक प्रदेश में 13 हजार से अधिक निःशुल्क डायलिसिस सेशन किए जा चुके हैं। राष्ट्रीय स्वास्थ्य मिशन छत्तीसगढ़ द्वारा प्रदेश के नौ जिलों दुर्ग, कांकेर, कोरबा, बिलासपुर, जशपुर, सरगुजा, महासमुंद, बीजापुर और राजनांदगांव में निःशुल्क डायलिसिस की सुविधा प्रदान की जा रही है। इसके लिए जशपुर, दुर्ग और कांकेर जिले में पांच-पांच, अम्बिकापुर और महासमुंद में चार-चार, कोरबा में छह, बीजापुर में तीन और बिलासपुर में चार (सिम्स मेडिकल कॉलेज में तीन और बिलासपुर कोविड अस्पताल में एक मशीन की स्थापना की गई है।) उल्लेखनीय है कि मुख्यमंत्री श्री भूपेश बघेल के नेतृत्व में छत्तीसगढ़ सरकार जनता की सुविधा के ल...
रायपुर : जिला स्तरीय छत्तीसगढ़िया ओलंपिक के समापन समारोह में स्कूल शिक्षा मंत्री डॉ. प्रेमसाय सिंह टेकाम हुए शामिल

रायपुर : जिला स्तरीय छत्तीसगढ़िया ओलंपिक के समापन समारोह में स्कूल शिक्षा मंत्री डॉ. प्रेमसाय सिंह टेकाम हुए शामिल

Chhattisgarh, India
छत्तीसगढ़ में स्थानीय और पारंपरिक खेलों को बढ़ावा देने और छत्तीसगढ़ के पारंपरिक खेलों को वैश्विक पहचान दिलाने के उद्देश्य से मुख्यमंत्री श्री भूपेश बघेल के निर्देश पर प्रदेश के साथ सूरजपुर जिले में भी छत्तीसगढ़िया ओलंपिक का आयोजन किया गया। जिसमें बच्चे-बूढ़े सभी प्रतिभागी ने भाग लेकर अपनी प्रतिभा का जौहर दिखाकर सभी का दिल जीत लिया। सूरजपुर जिला मुख्यालय में चल रहे छत्तीसगढ़िया ओलंपिक में जिले के सभी विकासखण्डों एवं नगरीय निकाय से सभी आयुवर्ग के प्रतिभागियों ने शामिल होकर अपनी कला एवं प्रतिभा का प्रदर्शन किया। स्कूल शिक्षा मंत्री डॉ. प्रेमसाय सिंह टेकाम जिला स्तरीय छत्तीसगढ़िया ओलंपिक समापन कार्यक्रम में मुख्य अतिथि के तौर पर शामिल हुए। उन्होंने सभी खिलाड़ियों को बधाई एवं शुभकामनाएं दी। डॉ. टेकाम ने कहा कि छत्तीसगढ़िया ओलंपिक मुख्यमंत्री श्री भूपेश बघेल की अभिनव पहल है। इसमें सभी छोटे, बड़े, बु...
मुख्यमंत्री भूपेश बघेल छत्तीसगढ़ी राजभाषा दिवस सम्मान कार्यक्रम में शामिल होंगे

मुख्यमंत्री भूपेश बघेल छत्तीसगढ़ी राजभाषा दिवस सम्मान कार्यक्रम में शामिल होंगे

Chhattisgarh, India
मुख्यमंत्री श्री भूपेश बघेल 27 नवंबर को दोपहर 12.00 बजे मुख्यमंत्री निवास में संस्कृति विभाग द्वारा छत्तीसगढ़ी राजभाषा दिवस के अवसर पर आयोजित सम्मान समारोह में शामिल होंगे। मुख्यमंत्री कार्यक्रम पश्चात रायपुर पुलिस परेड ग्राउण्ड हेलीपेड से दोपहर 12.40 बजे हेलीकॉप्टर से दुर्ग के लिए प्रस्थान करेंगे और वहां स्थानीय कार्यक्रम में शामिल होंगे। दुर्ग से शाम 4.00 बजे रायपुर लौटेंगे।...