विश्व आदिवासी दिवस: आज विभिन्न कार्यक्रमों के साथ जुलुस निकली जाएगी

भिलाई | आज 9 अगस्त को विश्व आदिवासी दिवस के मौके पर भिलाई नगर में उलगुलान भव्य रैली का आयोजन आदिवासी मण्डल भिलाई-दुर्ग दुवारा किया जा रहा है। यह रैली सुबह 9 बजे से आंबेडकर चौक पावर हाउस ओवर ब्रिज के नीचे से प्रारंभ होगा और घड़ी चौक से होते हुवे सेक्टर 5की ओर रुख करेगा तथा सेक्टर-5 चौक होते हुवे नेहरू सांस्कृतिक कल्चर भवन सेक्टर-1 को प्रस्थान करेगा। जहाँ पर आदिवासी मण्डल भिलाई-दुर्ग द्वारा सांस्कृतिक कार्यक्रम का आयोजन किया जायेगा। जिसमे सभी आदिवासी समाज के लोगो द्वारा विभिन्न सांस्कृतिक कला का प्रदर्शन करेंगे।




विश्व आदिवासी दिवस क्या है ?

द्वितीय विश्व युद्ध के बाद पूरे विश्व में शान्ति स्थापना के साथ-साथ विश्व के देशों में पारस्परिक मैत्रीपूर्ण समन्वय बनाना, एक-दूसरे के अधिकार एवं स्वतंत्रता को सम्मान के साथ बढ़ावा देना, विश्व से गरीबी उन्मूलन, शिक्षा एवं स्वास्थ्य के विकास के उद्देश्य से 24 अक्टूबर 1945 में “संयुक्त राष्ट्र संघ” का गठन किया गया। जिसमे अमेरिका, रूस, चीन, फ्रांस, ब्रिटेन, भारत सहित वर्तमान में 192 देश सदस्य हैं। अपने गठन के 50 वर्ष बाद “संयुक्त राष्ट्र संघ” ने यह महसूस किया है कि 21 वीं सदी में भी विश्व के विभिन्न देशों में निवासरत जनजातीय (आदिवासी) समाज अपनी उपेक्षा, गरीबी, अशिक्षा, स्वास्थ्य सुविधा का अभाव, बेरोजगारी एवं बंधुआ मजदूर जैसे समस्याओं से ग्रसित हैं। जनजातीय समाज के उक्त समस्याओं के निराकरण हेतु विश्व के ध्यानाकर्षण के लिए वर्ष 1994 में “संयुक्त राष्ट्र संघ” के महासभा द्वारा प्रतिवर्ष 9 अगस्त को “INTERNATIONAL DAY OF THE WORLD’S INDIGENOUS PEOPLE” विश्व आदिवासी दिवस मनाने का फैसला लिया गया। तत्पश्चात पूरे विश्व यथा अमेरिकी महाद्वीप, अफ्रीकी महाद्वीप तथा एशिया महाद्वीप के आदिवासी बाहुल्य देशों में 9 अगस्त को “विश्व आदिवासी दिवस” बड़े जोर-शोर से मनाया जाता है, जिसमे भारत भी प्रमुखता से शामिल है।



Leave a Reply