Chhattisgarh

स्वास्थ्य मंत्री टी.स. सिंघ देव एवं मंत्री जयसिंह अग्रवाल हुए कोरोना पॉजिटिव, छत्तीसगढ़ विधानसभा बजट सत्र तय समय से पहले समाप्त

रायपुर. छत्तीसगढ़ प्रदेश के स्वास्थ्य मंत्री टी.स. सिंघ देव एवं मंत्री जयसिंह अग्रवाल कोरोना रैपिड जाँच में पॉजिटिव पाए गए है, फलस्वरूप छत्तीसगढ़ विधानसभा का बजट सत्र अपने तय समय से पहले ही समाप्त हो चूका है।

पढ़े कोरोना से सम्बंधित छत्तीसगढ़ प्रदेश की खबरे 

रायपुर : प्रदेश में कोविशील्ड की साढ़े 10 लाख से अधिक डोज उपलब्ध

राज्य में वर्तमान में कोविशील्ड की 10लााख 69 हजार डोज उपलब्ध है। आज कोविशील्ड की 5 लाख 93 हजार 920 डोज प्राप्त हुई है।
राज्य टीकाकरण अधिकारी डाॅ अमर सिंह ठाकुर ने बताया कि प्रदेश में वैक्सीन का वेस्टेज मात्र 0़ंÛ46है । अब तक 6लाख 95 हजार 160 डोज का उपयोग हुआ है,। इसमें से 691934 डोज प्रदेश के लोगों को लग चुकी है। प्रदेश के सभी शासकीय अस्पतालों ,मेडिकल कालेजों  में निःशुल्क और चिन्हित निजी अस्पतालों में सशुल्क कोविड 19की वैक्सीन लगाई जा रही है।

कोरोना अनुकूल व्यवहार और जल्दी जांच हैं कोरोना संक्रमण से जूझने के मूल मंत्र

प्रदेश में कोरोना संक्रमण के केस बढ़ रहे हैं इसलिए लोगों को अभी भी सतर्क रहने कहा जा रहा है। अभी भी सबको कोरोना अनुकूल व्यवहार अपनाने की अत्यधिक आवश्यकता है। लापरवाही घातक साबित हो रही है।

महासमुंद जिले के 58 वर्ष पुरूष को 11 फरवरी से लक्षण दिखाई दे रहे थे लेकिन निजी चिकित्सक के पास गए जहां टायफायड और मलेरिया का टेस्ट कराया लेकिन  कोरोना का टेस्ट नही करवाया गया । 17 फरवरी को शासकीय स्वास्थ्य केन्द्र बसना में एंटीजेन टेस्ट कराया और जिला अस्पताल में इलाज कराया गया । 22 फरवरी को उच्च संस्थान रायपुर में भर्ती कराया गया और तमाम प्रयास के बाद 1 मार्च को मृत्यु हो गई। इस मामले में लक्षण दिखने के बाद भी कोरोना जांच नही कराने की लापरवाही घातक साबित हुई। विशेषज्ञ बार-बार कह रहे हैं कि जल्दी जांच कराने से रिकवरी की संभावनाएं बढ़ जाती हैं।

कोरोनावायरस के संबंध में स्वास्थ्य विभाग द्वारा जारी मीडिया बुलेटिन- 09 मार्च 2021

Leave a Reply