आज सावन का आखिरी सोमवार, महादेव घाट में करेंगे खारुन मइया की महाआरती

रायपुर(एजेंसी)। सावन महीने के आखिरी सोमवार की पूर्व संध्या पर रविवार को शिव मंदिरों में सहस्त्राभिषेक का आयोजन किया गया। सुबह शिवलिंग का पंचामृत से अभिषेक किया गया और इसके बाद सैकड़ों श्रद्धालुओं ने जलाभिषेक किया। दोपहर बाद हुई बारिश के बावजूद भक्तों का उत्साह कम नहीं हुआ। बरसते पानी में भी शहर के विभिन्न इलाकों से कांवरियों के पहुंचने का सिलसिला शाम तक चलता रहा। गाजे-बाजे और डीजे की धुन पर भक्ति गीतों के साथ श्रद्धालु कांधे पर कांवर लटकाए और बोल बम, हर-हर महादेव के जयकारे लगाते हुए महादेवघाट की ओर जाते नजर आए। बूढ़ेश्वर मंदिर से लेकर लाखे नगर, सुंदर नगर, रायपुरा चौक होते हुए महादेवघाट तक सड़कों पर शिवभक्ति का माहौल रहा। हटकेश्वर महादेव मंदिर में जल अर्पण करके श्रद्धालुओं ने खारुन नदी से जल कांवर में भरा और अपने इलाके के मंदिरों में पहुंचकर जलाभिषेक किया। महादेवघाट परिसर में भजन गायकों ने भजनों की प्रस्तुति दी।




सावन के चौथे सोमवार के अवसर पर राजधानी के महादेव घाट पर शाम साढ़े पांच बजे सवा लाख बातियों से शहर की जीवन रेखा खारुन की महाआरती की जाएगी। इसका आयोजन खारुन गंगा युथ सोशल ऑर्गेनाईजेशन के द्वारा किया जा रहा है। अध्यक्ष राकेश भारती गोस्वामी ने बताया कि हरिद्वार में गंगा नदी व होशंगाबाद में नर्मदा नदी की तर्ज पर लगातार 13वें वर्ष खारुन की भव्य महाआरती का आयोजन किया जा रहा है, इस महाआरती में विशिष्ट जनों के साथ हजारों की संख्या में शहरवासी शामिल होंगे। इसके माध्यम से नदियों के संरक्षण का संकल्प लेकर राज्य के सुख समृद्धि की कामना की जाएगी। महाआरती हेतु 108 व 54 खंडों की विशेष आरती की व्यवस्था की गई है जो लोगों के बीच आकर्षण का केंद्र रहेगी।



Leave a Reply