strike - गोंडवाना एक्सप्रेस
gondwana express logo

टैग: strike

छत्तीसगढ़: अनियमित कर्मचारियों ने निकाली वादा निभाओ रैली, 5 हजार कर्मचारियों की छंटनी का भी विरोध

छत्तीसगढ़: अनियमित कर्मचारियों ने निकाली वादा निभाओ रैली, 5 हजार कर्मचारियों की छंटनी का भी विरोध

छत्तीसगढ़
रायपुर (एजेंसी) | छत्तीसगढ़ की राजधानी रायपुर में अनियमित कर्मचारियों ने एक बड़ी रैली निकाली। इस रैली में हजारों की तादाद में कर्मचारी शामिल हुए। रैली में प्रदेश के लगभग हर जिले से कर्मचारी पहुंचे और सरकार के खिलाफ प्रदर्शन किया। बूढ़ापारा स्थित धरना स्थल में कर्मचारी जमा हुए। इसके बाद रैली आगे बढ़ी। सप्रे स्कूल के पास इस रैली को पुलिस अधिकारियों ने रोक लिया। कर्मचारी यहीं गांधी टोपी पहनकर नारे बाजी करते हरे। पिछले 10 महीनों में नई सरकार के कार्यकाल में 5 हजार अनियमित कर्मचारियों, विभागों से निकाला गया है। कर्मचारी नेता विजय झा ने बताया कि सरकार ने अपने चुनावी वादे में कहा था किअनियमित कर्मचारियों को नियमित किया जाएगा। उल्टे हजारों की तादाद में लोगों को बेरोजगार कर दिया गया। इस रैली में सरकार से कुछ मांग की गई। इन मांगों में हमने सरकार से कहा है कि छंटनी बंद की जाए। जिन्हें निकाला ग
संजीवनी 108 के हड़ताली कर्मचारियों को अब तक नहीं मिली ज्वाइनिंग, ढाई हजार लोग बेरोजगार

संजीवनी 108 के हड़ताली कर्मचारियों को अब तक नहीं मिली ज्वाइनिंग, ढाई हजार लोग बेरोजगार

छत्तीसगढ़
रायपुर (एजेंसी) | एंबुलेंस संजीवनी एक्सप्रेस108 और महतारी एक्सप्रेस 102 के लगभग ढाई हजार कर्मचारी बेरोजगार हो गए हैं। स्वास्थ्य विभाग और जिला प्रशासन के अफसरों के हस्तक्षेप का भी कोई असर नहीं हुआ। कंपनी के अधिकारियों ने प्रशासन की बात मानने से इनकार कर दिया। जबकि अफसरों के सामने कंपनी के अधिकारियों ने माफीनामे के बिना ही कर्मचारियों को ज्वाॅइन करने की सहमति दी थी। लेकिन कंपनी के अधिकारी अभी भी माफीनामे की जिद पर अड़े हैं। (adsbygoogle = window.adsbygoogle || []).push({}); गौरतलब है कि वेतन बढ़ाने की मांग को लेकर एम्बुलेंस  कर्मचारियों ने जेल भरो आंदोलन और आमरण अनशन किया।बाद में उनकी मांगो पर सहमति जताने के बाद एंबुलेंस कर्मियों ने 41 दिनों बाद 26 अगस्त को हड़ताल खत्म करने की घोषणा की थी। अफसरों की मौजूदगी में हुई बैठक के दूसरे दिन जब कर्मचारी ज्वाॅइन करने पहुंचे तो उन्हें न
बर्खास्त स्वास्थ्य संयोजकों की आज मुख्यमंत्री से मुलाकात के आसार

बर्खास्त स्वास्थ्य संयोजकों की आज मुख्यमंत्री से मुलाकात के आसार

छत्तीसगढ़
रायपुर (एजेंसी) | 41 दिनों से हड़ताल पर डटे स्वास्थ्य संयोजकों की हड़ताल समाप्त करवाने के लिए शासन स्तर पर प्रयास किए जा रहे हैं और दूसरी ओर अफसरों ने बर्खास्तगी की कार्रवाई शुरू कर दी है। सोमवार को चेतावनी के बाद भी काम पर नहीं लौटने का हवाला देकर 25 स्वास्थ्य संयोजकों को रायपुर के मुख्य चिकित्सा एवं स्वास्थ्य अधिकारी सीएमओ ने बर्खास्त कर दिया। सीएमओ ने कहा है कि 28 अगस्त को हड़ताली कर्मचारियाें को काम पर लौटने की चेतावनी दी गई थी। इसके बाद भी हड़ताल पर डटे हैं। बर्खास्त कर्मियों में संघ की अध्यक्ष संध्यारानी मावले भी शामिल हैं। (adsbygoogle = window.adsbygoogle || []).push({}); स्वास्थ्य संयाेजकों के प्रतिनिधि मंडल की मंगलवार को मुख्यमंत्री डा. रमन सिंह से मुलाकात के आसार हैं। इस बारे में खुद सांसद अभिषेक सिंह ने पहली की है। मुख्यमंत्री से मुलाकात के बाद हड़ताल समाप्त होन
72 संगठनों के 2 लाख कर्मी हड़ताल पर, सबकी मांग- रेगुलर करो

72 संगठनों के 2 लाख कर्मी हड़ताल पर, सबकी मांग- रेगुलर करो

छत्तीसगढ़
शिक्षाकर्मियों की मांगे पूरी होने के बाद अब 72 संगठनों के 2 लाख कर्मी हड़ताल पर, सबकी एक ही मांग रेगुलर करो, क्योकि चुनावी साल होने के कारण हड़ताल से सरकार पर दबाव बनेगा और मांगें मान ली जाएंगी। रायपुर |  पंचायत विभाग ने 8 साल की सेवा पूरी करने वाले शिक्षाकर्मियों को भी नियमित करने की प्रक्रिया शुरु कर दी है। शिक्षाकर्मियों को उम्मीद है कि चुनाव आचार संहिता से पहले नियमितिकरण को लेकर कोई घोषणा हो सकती है। इनकी संख्या लगभग 43 हजार है। प्रदेश सरकार ने मई में ही शिक्षाकर्मियों के संविलियन की मांग मान ली थी। इसका असर ये हुआ है कि रेगुलर होने और वेतन बढ़ाने जैसी उन्हीं मांगों को लेकर 54 विभागों के 72 कर्मचारी संगठन पिछले 2 माह से हड़ताल पर हैं। कर्मचारियों को लगता है कि चुनावी साल होने के कारण हड़ताल से सरकार पर दबाव बनेगा और मांगें मान ली जाएंगी। इसलिए प्रदेश में 2 लाख से अधिक कर्मचारी हड़ता