movie review - गोंडवाना एक्सप्रेस
gondwana express logo

टैग: movie review

छपाक: IMDb में 3,900 से अधिक लोगों द्वारा ‘1-स्टार’ समीक्षा देने के बाद दीपिका की फिल्म की रेटिंग हुई 4.4

छपाक: IMDb में 3,900 से अधिक लोगों द्वारा ‘1-स्टार’ समीक्षा देने के बाद दीपिका की फिल्म की रेटिंग हुई 4.4

entertainment, india
मुंबई | लोकप्रिय फिल्म समीक्षा वेबसाइट IMDb पर अभिनेत्री दीपिका पादुकोण की फिल्म 'छपाक' पर 3,946 से अधिक दर्शकों ने 1-स्टार रेटिंग दिया हैं। दर्ज किए गए 6,880 वोटों में से 4,000 से अधिक वोटों ने इसे सबसे कम रेटिंग (1 स्टार ) दिया है, जिसके कारण IMDB पर फिल्म की रेटिंग 4.4 स्टार हो गई है। हालांकि, 1,978 वोट पंजीकृत भी हैं जिन्होंने फिल्म को 10-स्टार रेटिंग दिया हैं। 6,880 से अधिक IMDb उपयोगकर्ताओं के रेटिंग के बाद छपाक फिल्म का 4.4/10 का औसत वोट मिला है। हालांकि, छपाक के लिए आलोचक और दर्शकों की समीक्षा आईएमडीबी पर आधारित लोगों से काफी अलग है। इसे कहानी पर फिल्म बनाने एक साहसी प्रयास कहा जा रहा है जिसके लिए कईयों ने मेघना गुलज़ार के निर्देशन की सराहना की है। वही, 10 जनवरी को रिलीज हुई इस फिल्म ने शुक्रवार को 4.77 करोड़ और शनिवार को 6.90 करोड़ रु कमाई की बॉक्सऑफिस इंडिया के शुरु
#MovieReview 2.0: कमाल के VFX और शानदार एक्टिंग से बनी बेहतरीन फिल्म, रजनी की एंट्री पर एक्साइटेड हो डांस करने लगे फैंस

#MovieReview 2.0: कमाल के VFX और शानदार एक्टिंग से बनी बेहतरीन फिल्म, रजनी की एंट्री पर एक्साइटेड हो डांस करने लगे फैंस

entertainment
बॉलीवुड न्यूज़ | एस शंकर निर्देशन में बनी फिल्म 2.0 सिनेमाघरों में आज रिलीज हो गई है। इसे 3 डी और नॉन 3 डी दोनों वर्शन में रिलीज़ किया गया है। यह एक साइंस-फिक्शन फिल्म है और 2010 में आई रजनीकांत की फिल्म रोबोट का सीक्वल है। प्रीक्वल रोबोट की तरह इसमें भी रजनीकांत का डबल रोल (वसीकरन और रोबोट बने चिट्टी) है। इसकी फिल्म की कहानी चिट्टी, वसीकरन, नीला (एमी जैक्शन), पक्षी राजन (अक्षय कुमार) और धीरेन्द्र बोहरा (सुधांशु पांडे) के इर्द-गिर्द घूमती नजर आती है। रोबोट के मुकाबले इस बार चिट्टी ने ज्यादा स्वैग के साथ और अधिक शक्तिशाली बनकर वापसी की है। फिल्म में चिट्टी के दो अपडेटेड वर्जन 2.0 और 3.0 दिखाए गए हैं, जिनकी अपनी अलग-अलग खूबियां हैं। यह फिल्म अपने प्रीक्वल फिल्म रोबोट से भी बेहतर है। खास तौर पर इसका 3 डी इफ़ेक्ट जबस्दस्त है। डायरेक्टर एस. शंकर की इस फिल्म को लेकर ऑडियंस का जबरदस्त क्रेज द
#moviereview ‘सुई धागा: मेड इन इंडिया’ मजबूत धागे से बुनी है फिल्म, दिल को छू लेगी लव स्टोरी

#moviereview ‘सुई धागा: मेड इन इंडिया’ मजबूत धागे से बुनी है फिल्म, दिल को छू लेगी लव स्टोरी

entertainment
डायरेक्टर शरत कटारिया जिन्होंने पहले दम लगा के हईशा जैसी शानदार फिल्म दी थी, जिसमें एक मोटी लड़की और शादी से दूर भागने वाले लड़के की कहानी को दिखाया था। इस बार भी उन्होंने सुई धागा जैसी दिल को छूने वाली लव स्टोरी बनाई है। इस कपल की स्टोरी से आपको शुरू से आखिर तक जोड़े रखते हैं। शरत कटारिया ने एक बार फिर साबित कर दिया कि एक अच्छी फिल्म सामान्य किरदारों के साथ भी बनाई जा सकती हैं। इस मूवी में इस बात पर जोर दिया है कि जब आप सपने को पूरा करने में जुटे हों , तो स्मार्ट होने से ज्यादा जरूरी दयालु होना है। फिल्म की कहानी सुई धागा एक परिवार के संघर्ष की कहानी है। परिवार का मिलनसार बेटा मौजी (वरुण धवन के करेक्टर का नाम) शोरूम में काम करता है। उसका स्वभाव ऐसा है कि वह अपने बॉस के अपमान को भी स्वीकार कर लेता है। मौजी की पत्नि ममता (अनुष्का शर्मा के करेक्टर का नाम) को ये बात खटकती है। इसलिए वह
#moviereview ‘YPD3 – फिर से’ नहीं चली, बोर करती है कॉमेडी

#moviereview ‘YPD3 – फिर से’ नहीं चली, बोर करती है कॉमेडी

entertainment
देओल फैमिली एक बार फिर से अपनी सुपरहिट फ्रेंचाइजी "यमला पगला दीवाना" का तीसरा पार्ट "यमला पगला दीवाना: फिर से(YPD3)" लेकर आई है। लंबे समय बाद आई इस फिल्म में सिर्फ सनी देओल और धर्मेंद्र एंटरटेनिंग लगते हैं। पहली फिल्म हिट थी, दूसरी फिल्म चली नहीं और तीसरी फिल्म ने भी बोर किया। इस तीसरे पार्ट में पूरी कहानी देओल फैमिली ने आयुर्वेद के इर्द-गिर्द रची है। इसमें जिस बॉलीवुड मसाले की उम्मीद थी, वह नजर नहीं आया। पुराण (सनी देओल) जो कि पंजाब से है एक ईमानदार आयुर्वेद डॉक्टर हैं। वे नब्ज छूकर ही लोगों की बीमारी बता देते हैं। पुराण के पास सभी बीमारियों के इलाज की एक दवाई है जिसका नाम वज्र कवच है। इस दवाई का फॉर्मूला पुराण को पूर्वजों से मिला है। पुराण नहीं चाहता कि इसे कोई दूसरा यूज करे। वह जानता है कि अगर यह फाॅर्मूला दवाई कंपनियों के पास चला जाएगा तो ये गरीब जनता की पहुंच से बाहर हो जाएगा।
#moviereview डराकर हँसायेगी ‘स्त्री’, इम्प्रेसिव है राजकुमार की एक्टिंग

#moviereview डराकर हँसायेगी ‘स्त्री’, इम्प्रेसिव है राजकुमार की एक्टिंग

entertainment
बहुत लम्बे समय के बाद बॉलीवुड में हॉरर कॉमेडी मूवी रिलीज़ हुई है। अमर कौशिक की फिल्म "स्त्री" एक ऐसी फिल्म है जो आपको डराने के साथ साथ हंसाएगी भी। ये दर्शकों के लिए कुछ नया है। इस फिल्म के कलाकारों ने भी इसमें जबरदस्त काम किया है। फिल्म की कहानी के बारे में बात करे तो ये स्टोरी शुरू होती है, मध्य प्रदेश के चंदेरी नामक जगह से, जहां विक्की (राजकुमार राव) एक लोकल टेलर रहता है। विक्की अपने काम में इतना एक्सपर्ट है कि महिलाओं का नाप लिए बिना ही उन्हें देखकर उनके साइज के कपड़े सिल देता है। और इस वजह से वह चंदेरी का मनीष मल्होत्रा (मशहूर फैशन डिजाइनर) के नाम से प्रसिद्ध है। विक्की अपने दोस्त बिट्टू (अपारशक्ति खुराना) और जना (अभिषेक बनर्जी) के साथ रहता है। विक्की के अलावा चंदेरी "स्त्री' नाम की एक चुड़ैल के चलते फेमस है। यह चुड़ैल घर का दरवाजा खटखटाती है और आदमियों को उठा ले जाती है।