chhattisgarh state election commission - गोंडवाना एक्सप्रेस
gondwana express logo

टैग: chhattisgarh state election commission

रायपुर : राज्य निर्वाचन आयुक्त ने राजनीतिक दलों को दी नगरीय निकाय निर्वाचन के लिए संशोधित नियमों एवं दिशा-निर्देशों की जानकारी

रायपुर : राज्य निर्वाचन आयुक्त ने राजनीतिक दलों को दी नगरीय निकाय निर्वाचन के लिए संशोधित नियमों एवं दिशा-निर्देशों की जानकारी

politics, छत्तीसगढ़
रायपुर. राज्य निर्वाचन आयुक्त ठाकुर राम सिंह ने आज यहां राजनीतिक दलों के प्रतिनिधियों के साथ बैठक कर नगरीय निकाय चुनाव के लिए संशोधित नियमों एवं दिशा-निर्देशों की जानकारी दी। उन्होंने आयोग द्वारा नगरीय निकाय चुनाव के लिए विभिन्न प्रक्रियाओं के लिए घोषित कार्यक्रम के बारे में भी विस्तार से बताया। उल्लेखनीय है कि नगरीय निकायों में आम निर्वाचन के लिए आगामी 21 दिसम्बर को मतदान एवं 24 दिसम्बर को मतगणना होगी। राज्य निर्वाचन आयुक्त ठाकुर राम सिंह ने बैठक में ऑनलाइन नामांकन पत्र भरने और जरुरी दस्तावेज अपलोड करने की प्रायोगिक जानकारी दी। उन्होंने राजनीतिक दलों को इसका अधिक से अधिक उपयोग करने की अपील करते हुए कहा कि यह ऑनलाइन सुविधा उम्मीदवारों की सहूलियत के लिए शुरु की जा रही है। इसमें वे अपने शपथ-पत्र, घोषणाएं एवं दस्तावेज भी अपलोड कर सकते हैं। श्री सिंह ने प्रतिनिधियों को आदर्श आचार संहिता
रायपुर सहित 4 जिला पंचायत अनारक्षित, 13 एसटी, 3 एससी और 7 जिले पिछड़ा वर्ग के लिए आरक्षित

रायपुर सहित 4 जिला पंचायत अनारक्षित, 13 एसटी, 3 एससी और 7 जिले पिछड़ा वर्ग के लिए आरक्षित

Uncategorized
रायपुर (एजेंसी) | छत्तीसगढ़ के त्रिस्तरीय पंचायत चुनावों के लिए जिला पंचायत में आरक्षण प्रक्रिया सोमवार को पूरी कर ली गई। राजधानी रायपुर के न्यू सर्किट हाऊस स्थित कन्वेंशन हॉल में सभी 27 जिला पंचायतों के अध्यक्ष पदों के आरक्षण के लिए लॉटरी निकाली गई। इनमें से रायपुर सहित चार जिलों को अनारक्षित रखा गया है, वहीं 13 जिले अनुसूचित जनजाति (एसटी), 3 अनुसूचित जाति (एससी) और 7 जिले पिछड़ा वर्ग (ओबीसी) के लिए आरक्षित किए गए हैं। सभी आरक्षण में 50 फीसदी महिलाओं के लिए आरक्षित किया गया है। ओबीसी वर्ग के आरक्षित जिले जिला पंचायत अध्यक्ष पद के लिए पिछड़ा वर्ग में 7 जिलों से 4 महिलाओं के लिए आरक्षित किए गए हैं। पुरुष : जांजगीर-चांपा, रायगढ़, बलौदाबाजार महिला : राजनांदगांव, महासमुंद, दुर्ग और बेमेतरा एसटी वर्ग के लिए आरक्षित जिले जिला पंचायत अध्यक्ष पद के लिए अनुसूचित जनजाति वर्ग में 13 जिलों से
चुनाव खर्च का हिसाब नहीं देने वाले 132 प्रत्याशियों को नोटिस

चुनाव खर्च का हिसाब नहीं देने वाले 132 प्रत्याशियों को नोटिस

politics
रायपुर (एजेंसी) | विधानसभा चुनाव के खर्च का ब्योरा नहीं देने पर आयोग ने 123 प्रत्याशियों को कारण बताओ नोटिस जारी किया है। संबंधित जिला निर्वाचन कार्यालय की तरफ से ये नोटिस जारी किए गए हैं। प्रत्याशियों से 10 जनवरी तक खर्च का हिसाब किताब मांगा गया था, लेकिन ये सभी प्रत्याशी तय समय पर ब्योरा नहीं दे पाए। प्रदेश के 27 जिलों में से केवल 10 जिलों में सभी उम्मीदवारों ने तय समय पर अपने खर्च का हिसाब दे दिया। 17 जिलों में नोटिस जारी किए गए हैं। उम्मीदवारों को नोटिस मिलने के 20 दिन के अंदर जवाब देना होगा। अगर प्रत्याशी हिसाब नहीं देने की सही वजह नहीं बता पाए तो उनको तीन साल तक चुनाव लड़ने से प्रतिबंधित भी किया जा सकता है। (adsbygoogle = window.adsbygoogle || []).push({});
निर्वाचन कार्य में लापरवाही बरतने पर 9 का वेतन रुका, 4 का निलंबन

निर्वाचन कार्य में लापरवाही बरतने पर 9 का वेतन रुका, 4 का निलंबन

छत्तीसगढ़
गरियाबंद (एजेंसी) | विधानसभा चुनाव 2018 के दौरान निर्वाचन कार्य में लापरवाही बरतने पर 13 अधिकारियों और कर्मचारियों पर गाज गिरी है। मुख्य निर्वाचन आयुक्त के आदेश के बाद जिला निर्वाचन अधिकारी ने 9 अधिकारियों का वेतन रोक लिया और 4 को निलंबित कर दिया गया है। ये अधिकारी और कर्मचारी ईवीएम, वीवीपैट और मतदान के दौरान लापरवाही करने के दोषी पाए गए हैं। (adsbygoogle = window.adsbygoogle || []).push({}); अनुशासनात्मक कार्रवाई के साथ रोकी गई दो वार्षिक वृद्धि मुख्य निर्वाचन पदाधिकारी सुब्रत साहू ने काम में लापरवाही की पुष्टि होने के बाद जिला निर्वाचन अधिकारी श्याम धावड़े को कार्रवाई के निर्देश दिए थे। इनमें से 5 अधिकारियों पर ईवीएव व वीवीपैट के कमीश्निंग कार्य में लापरवाही बरतने औऱ 8 अधिकारियों पर मॉकपोल के उपरांत सीआरसी किए बिना मतदान प्रारंभ कराने के कारण कार्रवाई की गई है। इसके बाद
शांतिपूर्ण मतदान के लिए बलौदाबाजार कलेक्टर का सम्मान

शांतिपूर्ण मतदान के लिए बलौदाबाजार कलेक्टर का सम्मान

छत्तीसगढ़
बलौदाबाजार (एजेंसी) | शांतिपूर्ण मतदान संपन्न कराने के लिए कलेक्टर एवं जिला निर्वाचन अधिकारी श्री जे.पी.पाठक को सम्मानित किया गया है। राज्य के मुख्य निर्वाचन पदाधिकारी श्री सुब्रत साहू ने राजधानी रायपुर में आयोजित एक कार्यक्रम में श्री पाठक को प्रशस्ति पत्र देकर सम्मानित किया। श्री पाठक ने सम्मान के लिए मुख्य निर्वाचन पदाधिकारी के प्रति आभार प्रकट किया। उन्होंने पुरस्कार का श्रेय जिले की जनता और चुनाव कार्य में लगे हजारांे अधिकारी और कर्मचारियों को दिया, जिनकी अथक मेहनत से यह बड़ा काम निर्बाध और शांतिपूर्ण तरीके से संपन्न हो सका है। इस अवसर पर अतिरिक्त मुख्य निर्वाचन पदाधिकारी श्री एस.भारतीदासन भी उपस्थित थे। (adsbygoogle = window.adsbygoogle || []).push({});
जिस मतदान केंद्र में मंत्री जी ने पूजा पाठ किया था, वहाँ के पीठासीन अफसर और पंचायत सचिव निलंबित

जिस मतदान केंद्र में मंत्री जी ने पूजा पाठ किया था, वहाँ के पीठासीन अफसर और पंचायत सचिव निलंबित

छत्तीसगढ़
रायपुर (एजेंसी) | मतदान के दिन पोलिंग बूथ पर पूजा पाठ करने के मामले में आयोग ने पंचायत सचिव  और पीठासीन अधिकारी को सस्पेंड कर दिया है। बता दें कि 20 नवंबर मंगलवार को नवागढ़ के कूंरा बूथ में वोटिंग से पहले बीजेपी प्रत्याशी बघेल ने पूरे बूथ में घूम-घूमकर पूजा-पाठ की। उन्होंने अगरबत्ती से ईवीएम की आरती उतारी, फिर बूथ के गेट पर नारियल भी फोड़ा। और पूरे बूथ की परिक्रमा करने के बाद  फिर इवीएम मशीन को बाकायदा प्रणाम किया। इसके बाद मतदान केंद्र के बाहर नारियल तोड़ा, तब जाकर उन्होंने वोट डाला। (adsbygoogle = window.adsbygoogle || []).push({}); इस पूरे घटनाक्रम को लेकर पीठासीन अधिकारी विदेशीराम यादव ने कोई भी आपत्ति नहीं की और न कार्रवाई की। यह पूजा पूरी होते तक बूथ में वोटिंग रुकी रही। इसका वीडियो बुधवार को वायरल होने के बाद सीईओ सुब्रत साहू ने डीआरओ के जरिए मंत्री बघेल को नोटिस देक
मंत्री बघेल का चुनाव आयोग को जवाब- पूजापाठ का वीडियो मनगढ़ंत

मंत्री बघेल का चुनाव आयोग को जवाब- पूजापाठ का वीडियो मनगढ़ंत

छत्तीसगढ़
रायपुर (एजेंसी) | मतदान केंद्र में वोटिंग से पहले पूजा-पाठ को लेकर पर्यटन मंत्री और नवागढ़ से भाजपा प्रत्याशी दयालदास बघेल ने चुनाव आयोग को अपना जबाव भेज दिया है। बघेल ने इस वीडियो को मनगढ़ंत बताया है। वहीं, जिला निर्वाचन अधिकारी महादेव कावरे द्वारा गुरुवार को पीठासीन अधिकारी को भी नोटिस जारी किए जाने के बाद मामले की जांच और आगे बढ़ गई है। (adsbygoogle = window.adsbygoogle || []).push({}); मंगलवार को नवागढ़ के कूंरा बूथ में वोटिंग से पहले बीजेपी प्रत्याशी बघेल ने पूरे बूथ में घूम-घूमकर पूजा-पाठ की। उन्होंने अगरबत्ती से ईवीएम की आरती उतारी, फिर बूथ के गेट पर नारियल भी फोड़ा। यह पूजा पूरी होते तक बूथ में वोटिंग रुकी रही। इसका वीडियो बुधवार को वायरल होने के बाद सीईओ सुब्रत साहू ने डीआरओ के जरिए मंत्री बघेल को नोटिस देकर 24 घंटे मं जवाब मांगा था। https://youtu.be/3LwxQBYIcyA
प्रदेश में 76.35 % हुई वोटिंग, चुनाव आयोग ने जारी किए फाइनल आंकड़े, वर्ष 2013 की तुलना में मतदान में 1.03 फीसदी की कमी आई

प्रदेश में 76.35 % हुई वोटिंग, चुनाव आयोग ने जारी किए फाइनल आंकड़े, वर्ष 2013 की तुलना में मतदान में 1.03 फीसदी की कमी आई

छत्तीसगढ़
रायपुर (एजेंसी) | छत्तीसगढ़ विधानसभा चुनाव 2018 के दूसरे चरण में 72 सीटों पर कल हुए मतदान में कुल 76.35 फीसदी मतदान हुआ है। इससे पहले कल शाम को जारी वोटिंग प्रतिशत में 71.93 प्रतिशत बताया गया था। जिसमें बदलाव होने की संभावाना बताते हुए मतदान प्रतिशत और बढ़ सकता है कहा गया था। चुनाव आयोग ने बुधवार दोपहर को  दिए। बुधवार को मुख्य निर्वाचन पदाधिकारी सुब्रत साहू ने पत्रवार्ता में फाइनल आंकड़े जारी करते हुए बताया कि 12 नवंबर को हुए प्रथम चरण के 18 सीटों पर 76.39 प्रतिशत मतदान हुआ था। दूसरे चरण में 20 नवंबर को 72 सीटों पर 76. 34 प्रतिशत मतदान हुआ है। इस प्रकार दोनों चरण के मतदान में राज्य की सभी 90 सीटों पर कुल 77.40 प्रतिशत मतदान हुआ है। हालांकि तमाम कोशिशों और दावों के बावजूद वर्ष 2013 की तुलना में मतदान में 1.03 फीसदी की कमी आई। (adsbygoogle = window.adsbygoogle || []).push({});
आचार संहिता का उल्लंघन: अमर्यादित विज्ञापन पर कांग्रेस अध्यक्ष से स्पष्टीकरण मांगा

आचार संहिता का उल्लंघन: अमर्यादित विज्ञापन पर कांग्रेस अध्यक्ष से स्पष्टीकरण मांगा

politics
रायपुर (एजेंसी) | छत्तीसगढ़ के मुख्य निर्वाचन अधिकारी ने प्रदेश कांग्रेस के एक चुनावी विज्ञापन को आचार संहिता के उल्लंघन की श्रेणी में माना और इसके लिए प्रदेश कांग्रेस अध्यक्ष को नोटिस जारी कर स्पष्टीकरण देने कहा है। विदित रहे, हाल ही प्रदेश कांग्रेस के प्रकाशित एक चुनावी विज्ञापन केा व्यक्तिगत आक्षेप व मानहानि वाला बताते हुए प्रदेश भारतीय जनता पार्टी ने अपना एतराज जताया था और इसे चुनाव की आदर्श आचार संहिता के उल्लंघन का मामला बताकर आवश्यक कार्रवाई करने की मांग की थी। (adsbygoogle = window.adsbygoogle || []).push({}); भाजपा के चुनाव विधिक विभाग के प्रदेश संयोजक नरेशचंद्र गुप्ता के उक्ताशय के पत्र के मद्देनजर मुख्य निर्वाचन अधिकारी ने उक्त विज्ञापन को आचार संहिता के उल्लंघन की श्रेणी में माना है एवं चुनाव प्रचार संबंधी निर्देशों का हवाला देकर उक्त विज्ञापन केा गंभीरता से लिया
प्रचार सामग्री पहुंचाने 10 वाहनों की अनुमति मांगी चुनाव आयुक्त से, भाजपा ने पत्र सौंपकर सुझाव व शिकायतों से अवगत कराया

प्रचार सामग्री पहुंचाने 10 वाहनों की अनुमति मांगी चुनाव आयुक्त से, भाजपा ने पत्र सौंपकर सुझाव व शिकायतों से अवगत कराया

Uncategorized
रायपुर। भारतीय जनता पार्टी के प्रदेश चुनाव विधिक संयोजक नरेशचंद्र गुप्ता ने मुख्य निर्वाचन आयुक्त (दिल्ली) को एक पत्र सौंपकर प्रदेश के आगामी विधानसभा चुनाव के मद्देनजर सुझावों व शिकायतों से अवगत कराया है। पत्र में श्री गुप्ता ने कहा है कि चुनाव आयोग ने राजनैतिक दलों को पूरे प्रदेश में प्रचार सामग्री वितरण हेतु केवल एक मालवाहक वाहन की अनुमति देने का निर्णय लिया है। छत्तीसगढ़ प्रदेश का विस्तार दूरस्थ वनांचल क्षेत्रों में है। प्रदेश की भौगोलिक स्थिति को ध्यान में रखते हुए केवल एक वाहन से प्रदेश के 27 जिलों एवं सभी 90 विधानसभा क्षेत्रों में राजनैतिक दलो की प्रचार सामग्री पहुंचा पाना संभव नहीं है। (adsbygoogle = window.adsbygoogle || []).push({}); नाम वापसी से केवल 15 दिनों का समय मतदान के लिए होता है। इतने कम समय में सभी 90 विधानसभा में प्रचार सामग्री नहीं पहुंचाई जा सकती। इस प