chhattisgarh rajyotsav - गोंडवाना एक्सप्रेस
gondwana express logo

टैग: chhattisgarh rajyotsav

छत्तीसगढ़: अब 3 नहीं 5 दिन का होगा राज्योत्सव, राज्यपाल के कहने पर सीएम भूपेश बघेल ने की घोषणा

छत्तीसगढ़: अब 3 नहीं 5 दिन का होगा राज्योत्सव, राज्यपाल के कहने पर सीएम भूपेश बघेल ने की घोषणा

politics
रायपुर (एजेंसी) | छत्तीसगढ़ राज्य स्थापना दिवस के अवसर पर चल रहा राज्योत्सव अब तीन की बजाय पांच दिन का होगा। शनिवार को राज्योत्सव में मुख्य अतिथि के तौर पर पहुंची राज्यपाल अनुसुईया उइके ने कहा कि दिल्ली के प्रगति मैदान में लगने वाले व्यापार मेले की तर्ज पर राज्योत्सव का आयोजन किया गया है। यहां काफी भव्य और आकर्षक पंडाल लगे हैं, इसलिए तीन दिन का समय काफी कम है। आप सभी को बताते हुए प्रसन्नता हो रही है कि आदरणीया राज्यपाल महोदया जी की भावना के अनुरूप राज्योत्सव का कार्यक्रम 2 दिनों के लिए और बढ़ा दिया गया है। आप सभी सपरिवार पहुंचें और आपके अपने राज्योत्सव का आनंद लें।#CGRajyotsav2019 — Bhupesh Baghel (@bhupeshbaghel) November 2, 2019 pic.twitter.com/LyNTisVWAL — Bhupesh Baghel (@bhupeshbaghel) November 2, 2019 इसके बाद सीएम भूपेश बघेल ने कहा कि राज्यपाल का कथन आदेश होता है।
छत्तीसगढ़: जिला संवर्गो में आरक्षण अब जनसंख्या के आधार पर; 2500 रुपये प्रति क्विंटल धान खरीदेगी सरकार

छत्तीसगढ़: जिला संवर्गो में आरक्षण अब जनसंख्या के आधार पर; 2500 रुपये प्रति क्विंटल धान खरीदेगी सरकार

छत्तीसगढ़
रायपुर (एजेंसी) | राज्योत्सव से पहले शुक्रवार को प्रदेश की भूपेश सरकार ने बड़ा निर्णय लिया है। भूपेश सरकार ने तय कर लिया है कि जो वादा चुनाव से पहले किया था उसे पूरा किया जा रहा है। किसानों से सरकार 2500 रुपए प्रति क्विंटल पर धान खरीदेगी। इसके लिए निर्देश जारी कर दिए गए हैं। प्रदेश में धान खरीदी की शुरुआत 1 दिसंबर से होगी। वहीं जिला संवर्गों में आरक्षण अब जनसंख्या के आधार पर होगा। मौजूदा आरक्षण सिस्टम में इसे जोड़ने से कुल आरक्षण 100 फीसदी से ज्यादा हो जाएगा, इसके चलते यह निर्णय लिया गया है। कुछ जिलों संवर्ग के पदों में आरक्षण का प्रावधान पहले से लागू, इसलिए संशोधन कैबिनेट की मीटिंग में कई बड़े फैसले लिए गए। इसके तहत राज्य सरकार ने आरक्षण के प्रावधान में बड़ा संशोधन किया है। कुछ जिलों में जिला संवर्ग के पदों में आरक्षण का प्रावधान पहले से लागू था, इसके चलते मौजूद आरक्षण (ओबीसी का 27%, ग
छत्तीसगढ़: राज्य स्थापना दिवस पर राष्ट्रपति और प्रधानमंत्री ने दी बधाई; लिखा- भाई बहिनी मन ला जय जोहार

छत्तीसगढ़: राज्य स्थापना दिवस पर राष्ट्रपति और प्रधानमंत्री ने दी बधाई; लिखा- भाई बहिनी मन ला जय जोहार

छत्तीसगढ़
रायपुर (एजेंसी) | छत्तीसगढ़ राज्य स्थापना के 19 साल पूरे हो गए हैं। आज यानी कि शुक्रवार को प्रदेश अपना 20वां स्थापना दिवस समारोह मना रहा है। इसको लेकर राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद और प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने प्रदेशवासियों को बधाई और शुभकामनाएं दी हैं। आज ही के दिन वर्ष 2000 में मध्य प्रदेश से अलग होकर छत्तीसगढ़ नया राज्य अस्तित्व में आया था। इसको लेकर राजधानी रायपुर के साइंस कॉलेज मैदान में तीन दिवसीय राज्योत्सव का आयोजन शाम से शुरू होगा। इसमें विविध कार्यक्रम होंगे। छत्तीसगढ़ के भाई बहिनी मन ला जय जोहार! छत्तीसगढ़ के जम्मो मनखे मन ला "छत्तीसगढ़ राज्य स्थापना दिवस" के गाड़ा-गाड़ा बधाई। छत्तीसगढ़ के संगे-संग, हमर देस बिकास के नवा-नवा कीर्तिमान रचय, एखर बर मोर डहर ले अब्बड़ सुभकामना — राष्ट्रपति कोविन्द — President of India (@rashtrapatibhvn) November 1, 2019 छत्तीसगढ़ राज्य स्थापन
छत्तीसगढ़: राज्योत्सव के स्टाॅल सजने लगे, इनमें पौनी-पसारी माॅडल के साथ पर्यावरण बचाव की मुहिम भी

छत्तीसगढ़: राज्योत्सव के स्टाॅल सजने लगे, इनमें पौनी-पसारी माॅडल के साथ पर्यावरण बचाव की मुहिम भी

छत्तीसगढ़
रायपुर (एजेंसी) | केवल दो दिन बाद, 1 नवंबर से शुरू होने वाले राज्योत्सव के लिए साइंस काॅलेज ग्राउंड पर स्टाॅल सजने लगे हैं। इन स्टाॅल में प्रदेश की पुरातन बाजार व्यवस्था पौनी-पसारी के अपडेट वर्जन की झलक होगी तो नो-प्लास्टिक का संदेश भी। राजधानी का नगर निगम पौनी पसारी के साथ-साथ रामकृष्ण आश्रम में अमृत मिशन के तहत बनाए गए उद्यान का माॅडल भी दिखाने जा रहा है। इसके अलावा राज्योत्सव में कई और शहरों के स्टाॅल रहेंगे। पौनी-पसारी की मिलेगी झलक राजधानी में पिछले महीने निगम ने छोटा बाजार पौनी-पसारी के नाम से शुरू किया है। इसे पुराने पौनी-पसारी का अपडेट तथा शहरी संस्करण कहा जा रहा है। इसका माॅडल रायपुर निगम के स्टॉल में दिखेगा। इसके जरिए महिलाओं के सशक्तिकरण और ग्रामीण अंचलों के पारंपरिक बाजार को दिखाया जाएगा। ज्यादातर की थीम सफाई, पर्यावरण और बुनियादी जरूरतों पर आधारित जबकि स्मार्ट सिटी नो