advocate - गोंडवाना एक्सप्रेस
gondwana express logo

टैग: advocate

सोशल मीडिया पर तस्वीरें वायरल होने के बाद बढ़ा विरोध, रायपुर जिला कोर्ट के टॉयलेट में लगाए गए भगवा रंग के टाइल्स को वकीलों ने तोड़ा

सोशल मीडिया पर तस्वीरें वायरल होने के बाद बढ़ा विरोध, रायपुर जिला कोर्ट के टॉयलेट में लगाए गए भगवा रंग के टाइल्स को वकीलों ने तोड़ा

politics, छत्तीसगढ़
रायपुर | छत्तीसगढ़ की राजधानी रायपुर के जिला कोर्ट परिसर में बने टॉयलेट के टाइल्स सोमवार को वकीलों ने तोड़ दिए। टॉयलेट में भगवा रंग के टाइल्स लगाए गए थे। वकीलों ने इस दौरान नारेबाजी की और इसको लेकर नाराजागी जताई। इस संबंध में जिला न्यायाधीश (डीजे) से भी मुलाकात की। इसके बाद डीजे ने टाइल्स बदलने के निर्देश दिए हैं। वकीलों ने दोबारा से भगवा रंग की टाइल्स नहीं लगाने को लेकर चेतावनी भी दी है। दरअसल, यह सारा विवाद सोशल मीडिया पर तस्वीरें वायरल होने के बाद बढ़ा। कचहरी के पिछले हिस्से में होने के कारण कम होता था टॉयलेट का उपयोग जिला कचहरी परिसर के भीतर शास्त्री चौक से पंडरी जाने वाली सड़क के किनारे दो साल पहले आम लोगों के लिए यूरिनल बनाया गया। चूंकि यह कचहरी के पिछले हिस्से में है, इसलिए उपयोग कम होता था। कुछ दिन पहले इसके टाइल्स के रंग पर कुछ लोगों ने गौर किया और यह उन्हें नागवार गुजरा। इसका
वकीलों के बीच सीएम बघेल बोले, ‘नहीं करूँगा NRC रजिस्टर पर दस्तख़त, प्रदेश में एनआरसी कभी लागू नहीं होने दूंगा’

वकीलों के बीच सीएम बघेल बोले, ‘नहीं करूँगा NRC रजिस्टर पर दस्तख़त, प्रदेश में एनआरसी कभी लागू नहीं होने दूंगा’

politics, video, छत्तीसगढ़
रायपुर (एजेंसी) | रायपुर कोर्ट परिसर में अधिवक्ताओं का लॉ डिनर कार्यक्रम हुआ। कार्यक्रम में मुख्यमंत्री भूपेश बघेल और विशेष अतिथि के रुप में जिला एवं सत्र न्यायाधीश राम कुमार तिवारी शामिल हुए। इस मौके पर सीएम ने प्रदेश में एनआरसी का विरोध करते हुए कहा कि छत्तीसगढ़ में एनआरसी लागू नहीं होने दूंगा। मैं प्रदेश का पहला व्यक्ति रहूंगा, जो कि इस रजिस्टर पर हस्ताक्षर नहीं करूंगा। कार्यक्रम में ग्रीष्मकालीन खेल स्पर्धाओं के विजेता सदस्यों और 35 वर्ष से वकालत करने वाले वरिष्ठजनों का सम्मान किया। https://www.youtube.com/watch?v=jisC_UbJ1Gk सीएम बघेल ने कहा कि प्रदेश में अधिवक्ता संघ का गौरवशाली इतिहास रहा है। संघ वर्ष 1867 से अस्तित्व में आया, यहां स्वामी विवेकानंद के पिता विश्वनाथ दत्त ने वकालत की है। देश की आजादी में वकीलों का सबसे बड़ा हाथ रहा है। वहीं एनआरसी बिल पर विराेध जताते हुए सीएम
विरोध प्रदर्शन: कलेक्टोरेट और कोर्ट के बीच बने गेट पर लगा ताला तो भड़के वकील, अधिकारियों से भिड़े

विरोध प्रदर्शन: कलेक्टोरेट और कोर्ट के बीच बने गेट पर लगा ताला तो भड़के वकील, अधिकारियों से भिड़े

video, छत्तीसगढ़
रायपुर (एजेंसी) | देशभर में वकीलों के तेवर चर्चा में हैं। छत्तीसगढ़ की राजधानी रायपुर में भी शनिवार की दोपहर वकीलों ने दबंगई दिखाई। जिला प्रशासन के अधिकारियों से भिड़ गए, जमकर बहसबाजी भी हुई। हालात इस कदर बिगड़े कि दफ्तर परिसर में अलग से पुलिस बल की तैनाती करनी पड़ी। यह सारा विवाद एक छोटे से गेट को लेकर शुरू हुआ। https://youtu.be/eNhqwCurF8Y दरअसल कलेक्टारेट परिसर से होकर एक छोटा रास्ता पास के कोर्ट परिसर को जोड़ता है। इससे कलेक्टर परिसर में लोग गाड़ियां खड़ी कर कोर्ट की तरफ चले जाते हैं। इसे रोकने के लिए यह गेट बंद कर दिया गया। वकीलों ने इसी बात का विरोध करते हुए गेट में लगा ताला तोड़ा और जिला प्रशासन के अधिकारियों को खरी-खोटी सुना दी। अब कलेक्टर से मुलाकात कर इस मसले का हल निकालने की तैयारी की जा रही है।