Chhattisgarh

छत्तीसगढ़: मुख्यमंत्री ने कहा रिहा किए जाएंगे 313 आदिवासी, विभिन्न विकास कार्यो का भी शिलान्यास किया

सुकमा (एजेंसी) | छत्तीसगढ़ के मुख्यमंत्री भूपेश बघेल सुकमा पहुंचे यहां उन्होंने कहा कि तोंगपाल में अगले शिक्षा सत्र से शासकीय महाविद्यालय प्रारंभ होगा। उन्होंने एक हजार किसानों के सिंचाई पंप ऊर्जीकरण के लिए 13 करोड़ रूपए और छिंदगढ़-गंजेनार की पेयजल व्यवस्था के लिए 8 करोड़ रूपए की घोषणा की।


सीएम बघेल ने शिक्षा सत्र 2020-21 से अतिसंवेदशील क्षेत्र गोलापल्ली में 50 सीटर छात्रावास एवं 100 सीटर आश्रम प्रारंभ करने, तालनार स्कूल का उन्नयन हायर सेकेण्डरी स्कूल में करने, तोंगपाल और दोरनापाल में पोस्ट मैट्रिक छात्रावास तथा सुकमा में पोस्ट मैट्रिक पिछड़ा वर्ग छात्रावास की मंजूरी दी।

सीएम ने बघेल ने कहा कि छोटे अपराधों में जेलों में बंद आदिवासियों को छोड़ा जाएगा। प्रथम चरण में 313 लोगों को रिहा किया जाएगा। आदिवासी बहुल जिले में स्वास्थ्य सुविधा बेहतर हो इसके लिए एएनएम और एमपीडब्ल्यू स्वास्थ्य कार्यकताओं को 50 स्कूटी दी जाएगी। इस दौरान सुकमा के रामपुरम में जैविक खेती से उपजी सब्जियों से मुख्यमंत्री का स्वागत किया गया।

Leave a Reply