#moviereview ‘सुई धागा: मेड इन इंडिया’ मजबूत धागे से बुनी है फिल्म, दिल को छू लेगी लव स्टोरी

डायरेक्टर शरत कटारिया जिन्होंने पहले दम लगा के हईशा जैसी शानदार फिल्म दी थी, जिसमें एक मोटी लड़की और शादी से दूर भागने वाले लड़के की कहानी को दिखाया था। इस बार भी उन्होंने सुई धागा जैसी दिल को छूने वाली लव स्टोरी बनाई है। इस कपल की स्टोरी से आपको शुरू से आखिर तक जोड़े रखते हैं। शरत कटारिया ने एक बार फिर साबित कर दिया कि एक अच्छी फिल्म सामान्य किरदारों के साथ भी बनाई जा सकती हैं। इस मूवी में इस बात पर जोर दिया है कि जब आप सपने को पूरा करने में जुटे हों , तो स्मार्ट होने से ज्यादा जरूरी दयालु होना है।

फिल्म की कहानी

सुई धागा एक परिवार के संघर्ष की कहानी है। परिवार का मिलनसार बेटा मौजी (वरुण धवन के करेक्टर का नाम) शोरूम में काम करता है। उसका स्वभाव ऐसा है कि वह अपने बॉस के अपमान को भी स्वीकार कर लेता है। मौजी की पत्नि ममता (अनुष्का शर्मा के करेक्टर का नाम) को ये बात खटकती है। इसलिए वह मौजी के अंदर जॉब को छोड़ने की इच्छा पैदा करती है और खुद का टेलरिंग बिजनेस शुरू करते है। वही मौजी के अति निराशावादी पिता (रघुवीर यादव) उसे जोरू का गुलाम कहकर ताने देते है। मौजी का भाई और दूसरे पड़ोसी भी नौकरी छोड़ने के फैसले को गलत बताते हैं। लेकिन ममता उसे नए रास्ते पर चलने के लिए विश्वास दिलाती है।




डायरेक्टर कटारिया ने मौजी के जिंदगी के कई सारे किरदारों से मिलवाया है। हर किरदार अपने आप में विशिष्ट है। मौजी की मां (यामिनी दास) अनोखे और प्रैक्टिल महिला हैं जो अपने पति की बिलकुल विपरीत स्वाभाव की हैं। मां शांत तरीके से अपने बेटे और बहु का सपोर्ट करती हैं। इस पूरी कहानी का नायक साफ दिल वाला मौजी है जो कि निःस्वार्थ भाव से हमेशा ताना मारने वाले पिता की इच्छाओं को पूरा करता है।

जब तक कि उसे ये अहसास नहीं हो जाता कि उसकी पत्नी के उसके लिए बड़े सपने हैं जिनका उसे सम्मान करना चाहिए। इस मामले में डायरेक्टर कटारिया तारीफ के काबिल हैं उन्होंने जो ममता का रोल लिखा है। उसमे कर्तव्यों का त्याग किए बिना दृढ़ संकल्प के सहारे आगे बढ़ने का प्रयास करती है।

वरुण धवन ‘मौजी’ के रंग में पूरी तरह से रंगे हुए है। उन्होंने एक विनम्र और मिलनसार व्यक्तित्व वाले इस किरदार को बखूबी निभाया है। उनकी अदाकारी बेहतरीन है। अनुष्का ने भी अपने रोल के साथ न्याय किया है। लेकिन, जो एक्टर आपके दिल को चुरा लेती हैं वो यामिनी दास है जिन्होंने मौजी की मां किरदार निभाया है।

वैसे इन किरदारों के लिए भी शरत कटारिया को धन्यवाद दिया जाना चाहिए जिन्होंने ऐसे एक्टर्स और किरदारों को चुना। स्क्रिप्ट में कुछ गलतियां हैं और क्लाइमैक्स पूर्वानुमानित है। लेकिन फिर भी फिल्म आपको भावुक करते हुए जोड़ कर रखती है।

मूवी:  सुई धागा : मेड इन इंडिया (जेनर – कॉमेडी ड्रामा )
रेटिंग:  (🌟🌟🌟) 3/5
स्टार कास्ट: वरुण धवन, अनुष्का शर्मा, रघुवीर यादव, यामिनी दास
डायरेक्टर:  शरत कटारिया
प्रोड्यूसर: मनीष शर्मा, आदित्य चोपड़ा
म्यूजिक:  अनु मलिक, एंड्रीआ गुएरा
ड्यूरेशन:   2घंटे 16मिनट

अगर आप वरुण धवन के फैन है तो आप ये फिल्म देख सकते है। ये फिल्म हँसाती तो कही-कही भावुक भी करती है। यह एक पारिवारिक फिल्म है।

ट्रेलर देखे




Leave a Reply