दिनांक : 25-Nov-2022 10:13 PM   रायपुर, छत्तीसगढ़ से प्रकाशन   संस्थापक : पूज्य श्री स्व. भरत दुदानी जी
Follow us : Youtube | Facebook | Twitter English English Hindi Hindi
Shadow

Broom Tips: झाड़ू पर गलती से लग जाए पैर तो तुरंत करें ये काम, वरना घर में कंगाली आने में नहीं लगेगी जरा भी देर!

01/10/2022 posted by Priyanka (Media Desk) Vishesh Lekh    

घर की साफ-सफाई के लिए हर घर में झाड़ू का इस्तेमाल किया जाता है. हिंदू धर्म में झाड़ू को मां लक्ष्मी का स्वरूप माना गया है. ऐसे में ज्योतिष शास्त्र में झाड़ू से जुड़ी कई मान्यताओं के बारे में बताया गया है. अगर इन बातों को जरा भी नजरअंदाज किया जाए, तो व्यक्ति को गरीब या कंगाल होने में जरा देर नहीं लगेगी.  झाड़ू को खरीदने के दिन से लेकर पुरानी झाड़ू के साथ क्या किया जाए, कहां रखा जाए आदि बातों को ध्यान में रखने से व्यक्ति को धनवान बनने में भी देर नहीं लगेगी. आज हम जानेंगे, अगर गलती से भी झाड़ू पर पैर लग जाए, तो क्या करना चाहिए.

वास्तु शास्त्र में झाड़ू को लेकर कई नियमों के बारे में बात की गई है. कई बार जाने-अनजाने में व्यक्ति से झाड़ू पर पैर लग जाता है, लेकिन क्या आप जानते हैं ऐसे में क्या करें. झाड़ू पर पैर लगना मां लक्ष्मी का अपमान है. इस वजह से व्यक्ति को आर्थिक तंगी का सामना करना पड़ सकता है. अगर आपसे भी कभी ऐसा होता है, तो झाड़ू को हाथ से छूकर माथे पर लगाएं और मां लक्ष्मी से अपनी इस गलती के लिए माफी मांगे.

Disclaimer: यहां दी गई जानकारी सामान्य मान्यताओं और जानकारियों पर आधारित है. गोंडवाना न्यूज इसकी पुष्टि नहीं करता है.

ये हैं झाड़ू से जुड़े नियम

– झाड़ू को कभी भी खड़ी न रखें. वास्तु में कहा गया है कि इसे हमेशा लिटाकर रखा चाहिए. कहते हैं कि खड़ी झाड़ू अपशगुन मानी गई है इसकी वजह से आपको मुसीबतों का सामना करना पड़ सकता है.

– घर में कभी भी टूटी झाड़ू का प्रयोग न करें. झाड़ू के टूटने या खराब होने पर इसे तुरंत बदल लें. साथ ही, इस बात का ध्यान रखें कि शुक्रवार और गुरुवार के दिन झाड़ू बाहर न फेंके.

– इसके अलावा, रात में कभी भी झाड़ू न लगाएं. अगर आप ऐसा करते हैं तो आपको धन संबंधी समस्याओं से जुझना पड़ सकता है.

– झाड़ू को अगर दक्षिण-पश्चिम या दक्षिण दिशा में रखेंगे, तो जीवन में कभी भी धन हानि नहीं होगी और मां लक्ष्मी की कृपा बनी रहेगी.

Author Profile

Priyanka (Media Desk)
Priyanka (Media Desk)प्रियंका (Media Desk)
"जय जोहार" आशा करती हूँ हमारा प्रयास "गोंडवाना एक्सप्रेस" आदिवासी समाज के विकास और विश्व प्रचार-प्रसार में क्रांति लाएगा, इंटरनेट के माध्यम से अमेरिका, यूरोप आदि देशो के लोग और हमारे भारत की नवनीतम खबरे, हमारे खान-पान, लोक नृत्य-गीत, कला और संस्कृति आदि के बारे में जानेगे और भारत की विभन्न जगहों के साथ साथ आदिवासी अंचलो का भी प्रवास करने अवश्य आएंगे।