India

21 जून सूर्यग्रहण: आज रात 10.18 बजे से लगेगा सूतक, सूर्यग्रहण 3 घंटे 44 मिनट रहेगा, कल दोपहर 02.02 बजे के बाद मंदिरों के पट खुलेंगे

रविवार (21 जून) को होने वाला सूर्यग्रहण पूरे भारत में दिखाई देगा। आज रात 10.18 बजे से सूतक लगेगा जोकि कल सुबह 10 बजकर 18 मिनट तक रहेगा। इससे 12 घंटे पहले यानी आज रात 10.18 बजे से सूतक लग जाएगा। इससे मंदिरों के पट बंद हो जाएंगे, जो मोक्ष होने के बाद ही खोले जाएंगे। मंदिर में पूजन आज रात 9 बजे तक संपन्न करा दी जाएगी। इसके बाद भगवान के शयन में जाते ही मंदिर के पट बंद कर दिए जाएंगे।

रविवार सुबह 10 बजकर 18 मिनट से लेकर 3 घंटे 44 मिनट सूर्यग्रहण रहेगा। दोपहर 02.02 बजे मोक्ष होने पर मंदिरों के पट खोले जाएंगे। भगवान को तीर्थ जल से स्नान कराने के बाद पूजा अर्चना कर उन्हें भोग लगाया जाएगा। जिन लोगों को अपनी राशि का पता नहीं है, वह लोग स्नान कर लाल वस्त्र पहनें और सूर्य मंत्र का जाप करें।

ग्रहण के दौरान हवन-पूजन करें

ग्रहण समय में जाप, हवन, आदि करने से हजार गुणा फल प्राप्त होता है। इसके बाद तीर्थ, स्नान, दान, आवश्यक रूप से करना चाहिए। खाने-पीने की वस्तुओं में कुशा या तुलसी पत्र डाल दें। मूर्तियों को स्पर्श ना करें। इस समय किए गए मंत्र, जाप, पाठ अत्यधिक लाभदायक होते हैं। मिथुन, कर्क, वृश्चिक, मीन राशि वाले भी ग्रहण ना देखें। इस दिन रवि योग भी बनेगा। ये ग्रहण बहुत महत्वपूर्ण होगा। इस ग्रहण से तीन ग्रह प्रभावित हो रहे हैं। राहु ग्रहण लग रहा है, बुध सूर्य के साथ बैठा हुआ है और मंगल सूर्य को देख रहा है।

ग्रहण का राशियों असर पड़ेगा

मेष राशि- इस राशि वालों को लाभ होगा। 15 दिनों के बाद अचानक धन का मिल सकता है। कार्य भी अच्छे चलेंगे। ग्रहण काल के बाद गंगाजल से स्नान और जल को लें।

वृष राशि- इस राशि वालों को सावधान रहने की आवश्यकता है। धन की हानि हो सकती है। कर्जा भी बढ़ सकता है। ग्रहण काल के बाद एक नारियल और मिश्री दान करें।

मिथुन राशि- इस राशि वालों के ऊपर ही सूर्य ग्रहण लग रहा है। ऐसे में इस राशि वालों को ज्यादा सावधान रहने की जरूरत होगी। वाहन सावधानी से चलाएं। ग्रहण काल में सूर्य मंत्र का जप करना लाभकारी है। तुलसी के पास घी का दीपक जलाएं।

कर्क राशि- इस राशि वालों का खर्चा अचानक बढ़ सकता है। नींद कम आएगी, चिंता अधिक रहेगी। ग्रहण काल में लाल कपड़े पहने और हल्दी का तिलक लगाएं।

सिंह राशि-  इस राशि वालों को अधिक लाभ होगा। सिंह राशि का स्वामी सूर्य है। इसलिए इस राशि वालों को महालाभ होने वाला है। धन के साथ-साथ बहुत अच्छा संदेश मिलने की संभावना है। जल में गुड डाल कर सूर्य को अर्घ्य दें।

कन्या राशि- इस राशि वालों को रोग और कष्ट का भय हो सकता है। ये ग्रहण आपके दसवें भाग में लग रहा है, तो काम धंधे में थोड़ी रुकावट आ सकती है। आपके शत्रु भी आपको परेशान कर सकते हैं। तांबे के लोटे में लाल रंग के बीज डालकर सूर्य को जल चढ़ाएं और सूर्य के मंत्रों का जाप करें।

तुला राशि- इस राशि वालों के लोगों को संतान के प्रति सावधानी रखनी होगी। बच्चों को इस दौरान घर से बाहर ना जाने दें। उन पर नजर बनाए रखें। संतान को किसी तरह का रोग भी हो सकता है। ग्रहण के बाद संतान के सिर के ऊपर से गुड़ घुमाकर किसी को दान कर दें।

वृश्चिक राशि- ये ग्रहण वृश्चिक राशि वालों के लिए बहुत अच्छा समय लेकर आ रहा है। नई नौकरी या नए व्यापार के अवसर मिलेंगे, जिससे लाभ होगा। सारी परेशानियां दूर होंगी और घर में सुख शांति आएगी। विवाह का भी योग बनेगा। गंगाजल से स्नान करें, नारंगी रंग के वस्त्र पहनें और लाल टीका लगाएं।

धनु राशि- इस राशि के लोगों को वाहन सुख मिलेगा और यात्रा का योग बनेगा। सारे अधूरे काम बन जाएंगे। व्यापार के कारण कहीं बाहर जा रहे हैं, तो बहुत लाभ मिलने वाला है। नारियल पर लाल टीका लगाकर मंदिर में दान करें। कलाई में लाल धागा पहन कर रखें।

मकर राशि- आपकी साढ़साती पहले से ही चल रही है। ऐसे में इस दौरान आपकी चिंता और बढ़ जाएगी। ज्यादा सोचें मत और आराम से रहें। तांबे का एक कड़ा पहन लें। तांबे के लोटे से पानी लें। सब ठीक हो जाएगा।

कुंभ राशि- खर्चों में बढ़ोतरी होगी और काम में भी बाधा आ सकती है। कई तरह की परेशानियां बढ़ सकती हैं। धन का बचाव करें। ग्रहण काल के 15 दिनों के बाद तक सभी से अच्छा व्यवहार रखें। दही-हल्दी मिलाकर लाल टीका लगाएं।

मीन राशि- मीन राशि वालों के लिए ये ग्रहण बहुत अच्छा रहने वाला है। उनके सारे काम बन जाएंगे। ग्रहण का आप पर बहुत अच्छा असर पड़ने वाला है। आप जो भी मेहनत करेंगे, उसका फल मिलेगा। सूर्य के मंत्रों का जाप करें।

Leave a Reply