भारतीय रेल ने महिलाओ की सुरक्षा के लिए उठाए कड़े कदम, ट्रेन में महिला से छेड़छाड़ करने वाले को अब तीन साल तक की सजा - गोंडवाना एक्सप्रेस
gondwana express logo

भारतीय रेल ने महिलाओ की सुरक्षा के लिए उठाए कड़े कदम, ट्रेन में महिला से छेड़छाड़ करने वाले को अब तीन साल तक की सजा

नई दिल्ली (एजेंसी) | ट्रेन में किसी महिला से छेड़छाड़ करने वाले को अब तीन साल तक की सजा हो सकेगी। इस संबंध में रेलवे की ओर से रेलवे एक्ट में बदलाव किए जा रहे हैं। फिलहाल इस तरह की घटना में रेलवे एक्ट के तहत कार्रवाई नहीं की जा सकती थी। महिला सुरक्षा को ध्यान में रखते हुए रेलवे ने एक्ट में इस तरह का बदलाव करने का निर्णय लिया है।

आरपीएफ को मिलेंगे ये अधिकार 






रेलगाड़ियों में महिलाओं के खिलाफ बढ़ते अपराध को ध्यान में रखते हुए रेलवे सुरक्षा बल ने रेलवे एक्ट में सुधार करने का प्रस्ताव दिया है। रेलवे एक्ट में इस तरह के सुधार के बाद आरपीएफ को ट्रेन में महिला से छेड़छाड़ करने वाले अपराधी पर कार्रवाई करने के लिए जीआरपी की मदद की जरूरत नहीं होगी। अभी तक आरपीएफ को किसी भी तरह के आपराधिक मामले में कोई कार्रवाई करने का अधिकार नहीं है। ऐसे में रेलगाड़ियों में महिला के साथ होने वाले किसी भी अपराध की स्थिति में आरपीएफ को मामले की सूचना जीआरपी को दे कर उनकी मदद लेनी होती थी। इस एक्ट के लागु हो जाने के बाद आरपीएफ अपराधियों पर तत्काल कार्यवाही कर सकेगा।

ट्रेन में लगातार बढ़ रहे हैं महिला के खिलाफ अपराध

आरपीएफ के एक वरिष्ठ अधिकारी के अनुसार महिला अपराधों में हम तेजी से कार्रवाई कर सकें इसके लिए हमने रेलवे एक्ट में बदलाव की मांग की है। वर्तमान समय में हमें हर बार जीआरपी की मदद लेनी होती है। राज्यसभा में एक सवाल के जवाब में रेल मंत्रालय ने बताया कि वर्ष 2014 से 2016 के बीच रेलवे में महिला अपराधों में 35 फीसदी की वृद्धि हुई है। इस दौरान लगभग 1607 मामले महिला अपराध से जुड़े हुए दर्ज किए गए। वर्ष 2014 में जहां 448 मामले दर्ज हुए वहीं वर्ष 2015 में 553 मामले दर्ज हुए और वर्ष 2016 में 606 मामले दर्ज हुए।



Leave a Reply