अगर आपके फ़ोन में है ये एप, तो हो जाइए सावधान; बैंक खाता हो जाएगा खाली, आरबीआई ने जारी की चेतावनी

नई दिल्ली (एजेंसी) | रिजर्व बैंक ऑफ इंडिया ने मोबाइल फोन के जरिए लेन-देन करने वालों को पर नेट बैंकिंग का इस्तेमाल करने वालों को कोई भी नया एप इंस्टाल करते वक्त सावधानी बरतने को कहा है। आरबीआई के अनुसार प्लेस्टोर और एपस्टोर में मौजूद एनीडेस्क जैसे कई एप यूपीआई और मोबाइल वॉलेट के जरिए मिनटों में आपका पैसा उड़ा सकते सकते हैं।

आरबीआई ने 14 फरवरी को जारी एक अलर्ट में कहा है, “यूपीआई प्लेटफॉर्म पर लेन-देन करने वालों के साथ धोखाधड़ी के मामले बढ़ रहे हैं। मोबाइल फोन को रिमोट एक्सेस पर लेकर धोखे से बैंक खाते से पैसे निकालने का नया हथकंडा भी इन दिनों सामने आया है।’ आरबीआई ने बैंकों को निर्देश दिया है कि ग्राहकों को धोखाधड़ी से बचाने के लिए इस बारे में जागरूक करें।

ऐसे होती है धोखाधड़ी: सोशल मीडिया पर एप डाउनलोड करने का देते हैं लालच

सोशल मीडिया या किसी अन्य माध्यम पर “एनीडेस्क’ या ऐसी कोई अन्य एप डाउनलोड करने का लालच दिया जाता है। एप डाउनलोड होने पर नौ अंकों का एक कोड जेनरेट होता है। धोखाधड़ी करने वाला आपसे यह कोड मांगेगा। धोखाधड़ी करने वाला अपने मोबाइल फोन में यह कोड डालेगा।

फिर आपसे एप को कुछ परमिशन देने को कहेगा। इसके बाद आपके मोबाइल फोन का रिमोट एक्सेस उसे मिल जाएगा। इसके बाद वह मोबाइल में पहले से मौजूद बैंक के एप के जरिये पैसे निकाल लेगा।

Leave a Reply