Chhattisgarh India

रायपुर : रावण दहन देखने के लिए रजिस्टर में लिखवाना होगा नाम-पता, मास्क जरूरी, नाच-गाना और डीजे की अनुमति नहीं

रायपुर जिले में दशहरा पर रावण दहन देखने जाने वालों को रजिस्टर में अपना नाम-पता और मोबाइल नंबर लिखाना होगा। यह रजिस्टर आयोजकों की ओर से वहां रखा जाएगा। आयोजकों और दर्शकों को मास्क लगाना अनिवार्य होगा। वहीं आयोजन में नाच-गाना और डीजे-धुमाल की अनुमति नहीं मिलेगी। धुमाल छत्तीसगढ़ में बैंड का ही एक प्रकार है।

रायपुर के अपर कलेक्टर की ओर से दशहरा आयोजन के दिशा-निर्देश जारी कर दिए गए हैं। इसके तहत कोरोना की रोकथाम के लिए कुछ जरूरी उपाय किए गए हैं। दशहरा आयोजन समितियों के साथ बैठक के बाद कलेक्टर ने जो निर्देश जारी किए हैं, उसके मुताबिक रावण दहन में मुख्य अतिथि सहित मैदान की क्षमता से 50 प्रतिशत से अधिक लोग नहीं आ सकते। दशहरा उत्सव समितियां एक रजिस्टर रखेंगी। जिसमें वहां आने वाले सभी व्यक्तियों के नाम, पता और मोबाइल नंबर दर्ज होगा। ताकि संक्रमण मिलने की स्थिति में कांटैक्ट ट्रेसिंग की जा सके।

सभी आयोजन समितियां विभिन्न माध्यमों से लोगों को यह जानकारी देंगी कि इस साल कार्यक्रम को सीमित किया गया है। रावण दहन के किसी कार्यक्रम में सांस्कृतिक कार्यक्रम, भंडारा और पंडाल लगाने की अनुमति नहीं होगी। वहीं, डीजे-धुमाल और बैंड-बाजे को भी मना कर दिया गया है। प्रशासन ने आयोजन में किसी अतिरिक्त साज-सज्जा और झांकी को भी प्रतिबंधित कर दिया है।

आयोजन में शामिल प्रत्येक व्यक्ति को शारीरिक दूरी का पालन करना, मास्क लगाना और समय-समय पर हाथ को सैनिटाइज करते रहना अनिवार्य होगा। ऐसा नहीं करने वालों पर प्रशासन महामारी कानून के तहत कार्रवाई भी कर सकता है।

Advertisement
Rahul Gandhi Ji Birthday 19 June