Chhattisgarh

योग दिवस: राजधानी के इंडोर स्टेडियम, नक्सल पीड़ित इलाके में आईटीबीपी जवानों ने किया योग, वीरभद्रासन से बनाया लिम्का बुक ऑफ वर्ल्ड रिकॉर्ड

रायपुर (एजेंसी) | दिल्ली स्थित छत्तीसगढ़ सदन से लेकर नक्सली गढ़ तक, हर जगह शुक्रवार सुबह योग हुआ। जहाँ प्रधानमंत्री मोदी रांची में योग कार्यक्रम में भाग लिए, वही मुख्यमंत्री भूपेश बघेल ने दिल्ली स्थित छत्तीसगढ़ सदन में ही योगाभ्यास किया। राजधानी रायपुर सहित समूचे प्रदेश में करीब 60 लाख लोग योग करते नजर आए। राजधानी का इंडोर स्टेडियम में मुख्य कार्यक्रम हुआ, जहां 600 से ज्यादा बच्चों ने एक साथ योग किया।

वहीं बस्तर के नक्सली इलाकों में आईटीबीपी के जवान योग करते दिखाई दिए। इन सबसे अलग युवाओं और बच्चों ने एक साथ वीरभद्रासन कर लिम्का बुक ऑफ वर्ल्ड रिकॉर्ड में दर्ज करा दिया।

इंडोर स्टेडियम में मेयर, पूर्व मंत्री, कलेक्टर, एसपी सहित 600 बच्चों ने किया योग

अंतरराष्ट्रीय योग दिवस पर राज्य स्तरीय आयोजन किए गए। राजधानी रायपुर के बूढ़ापारा स्थित सरदार बलवीर सिंह जुनेजा इंडोर स्टेडियम में सुबह 7 बजे से योग कार्यक्रम प्रारंभ हुआ। इसमें 600 से ज्यादा बच्चों ने एक साथ योग किया।

स्टेडियम में हो रहे कार्यक्रम में मुख्य अथिति मेयर प्रमोद दुबे, पूर्व मंत्री बृजमोहन अग्रवाल और कांग्रेस नेत्री किरणमई नायक सहित कलेक्टर और एसपी भी योग करते दिखाई दिए। वहीं छत्तीसगढ़ योग आयोग की भी रायपुर में 50 हजार से भी ज्यादा लोगों को योग कराकर वर्ल्ड रिकॉर्ड बनाने की तैयारी रही।

इस रिकॉर्ड को बनाने के लिए शहर के सभी इलाकों में कई संस्थाओं ने हिस्सा लिया। उधर, बीटीआई ग्राउंड में 3 मिनट तक वीरभद्रासन में बने रहकर 3640 लोगों ने लिम्का बुक ऑफ वर्ल्ड रिकॉर्ड में इसे दर्ज करा दिया। आर्ट ऑफ लिविंग की ओर से इस रिकॉर्ड के लिए देश के अलग-अलग हिस्सों में वीरभद्रासन किए गए। इसमें शामिल लोगों को पुरस्कृत भी किया जा रहा है। इसके साथ ही माना कैंप, अमलेश्वर और मरीन ड्राइव में भी योग कार्यक्रम हुए।

प्रदेश मुखिया भूपेश बघेल ने ट्वीट करके छत्तीसगढ़वासियो को बधाई देते हुए कहा, “आज छत्तीसगढ़ के लोगों ने ‘योग’ को जन -आंदोलन के रूप में स्वीकार करके एवं एक नया रिकॉर्ड गढ़कर यह सिद्ध कर दिया है कि छत्तीसगढ़ की महान जनता प्रत्येक सकारात्मक कदम में भागीदारी निभाने हेतु अग्रणी भूमिका निभाने को तैयार है। सभी प्रदेशवासियों को इस नए खिताब के लिए बहुत-बहुत बधाई।”

धुर नक्सल प्रभावित इलाके में आईटीबीपी का योग

छत्तीसगढ़ के बस्तर में धुर नक्सल प्रभावित इलाके कोंडगांव में भी योग किया गया। नक्सलबाड़ी में आईटीबीपी जवानों ने योग के विभिन्न आसन किए। 41वीं बटालियन आईटीबीपी जवानों ने अनुलोम विलोम, वीरभद्रासन, शव आसन आदि किया। इधर, रायपुर के डब्ल्यूआरएस कॉलोनी में रेलवे की ओर से योग शिविर का आयोजन किया गया था। इसमें रायपुर मंडल के अधिकारी, कर्मचारियों ने बड़ी संख्या में भाग लिया।

Leave a Reply