Chhattisgarh

सभी 900 अफसर-कर्मियों के साथ 83 दिनों बाद मंत्रालय में काम-काज शुरू, मंत्रालयीन कर्मचारी संघ ने किया विरोध

रायपुर | नवा रायपुर में मंत्रालय में अब सभी 900 से अधिक अधिकारियों- कर्मचारियों की शत-प्रतिशत उपस्थिति रहेगी। सबको काम पर आना होगा। अब तक पचास फीसदी कर्मचारियों से ही रोज काम कराया जा रहा था।

कोरोना वायरस के संक्रमण की रोकथाम के लिए मंत्रालय में सरकारी काम-काज पहले एक तिहाई और वर्तमान में 50 प्रतिशत अधिकारियों-कर्मचारियों की उपस्थिति को अनुमति दी गई थी। राज्य शासन द्वारा मंत्रालय के काम-काज में तेजी लाने के उद्देश्य से अब शत-प्रतिशत अधिकारियों-कर्मचारियों को उपस्थित होने कहा गया है।

इस संबंध में मंगलवार को जीएडी सचिव डीडी सिंह ने आदेश भी जारी कर दिया है। इधर, इसका विरोध शुरू हो गया है। मंत्रालयीन कर्मचारी संघ ने कहा कि कर्मचारियों को पर्याप्त सुरक्षा प्रदान किए बगैर ही आदेश जारी कर दिया गया है। इस पर पुनर्विचार करना चाहिए, क्योंकि 500 मिलीलीटर की सेनेटाइजर की शीशी से मंत्रालय के विभिन्न गेटों में कर्मचारियों को सेनेटाइज नहीं किया जा सकता।

ना ही किसी भी जिम्मेवार अधिकारी की ड्यूटी इस कार्य के लिए लगाई गई है कि कर्मचारियों की थर्मल स्क्रीनिंग के बाद ही मंत्रालय प्रवेश दिया जाए। अभी भी मंत्रालय के कर्मचारियों को आशंका है कि अधिकारी मंत्रालय में शत- प्रतिशत नही आएंगे। जबकि सभी कर्मचारियों को आना पड़ेगा। बुधवार को मुख्यसचिव आरपी मंडल को ज्ञापन सौंपा जाएगा।

Advertisement
Rahul Gandhi Ji Birthday 19 June

Leave a Reply