Chhattisgarh

छत्तीसगढ़: धमतरी में कीचड़ में सना मिला हाथी का शव, रायगढ़ में करंट से गई जान, एक हफ्ते में 5 हाथियों की मौत

धमतरी | जिले में एक हाथी का शव कीचड़ में सना मिला। शव की हालत देखकर लगा कि हाथी जिंदगी की जंग थककर हार गया और हमेशा के लिए सो गया। इसी बीच रायगढ़ जिले में भी हाथी के मारे जाने की खबर आई। पिछले एक सप्ताह में हाथियों के मारे जाने की यह पांचवीं घटना है। इससे पहले सरगुजा संभाग के गणेशपुर के जंगलों में तीन हाथियों की मौत हो चुकी है। इन मामलों की भी जांच जारी है।

धमतरी

यहां गरियाबंद मैनपुर क्षेत्र से 21 हाथियों का दल पहुंचा है। वन विभाग के एसडीओ केएल निर्मलकर ने बताया कि धमतरी ब्लॉक के मोंगरी गांव में हाथियों का झुंड दलदल क्षेत्र से होकर गुजर रहा था। 15 जून सोमवार की रात यहां हाथी का बच्चा फंस गया। ग्रामीणों की मदद से उसे निकालने की कोशिश की गई, लेकिन अधिक गहराई में फंसने के कारण मंगलवार की सुबह उसकी मौत हो गई। ग्रामीण सगनु राम नेताम ने बताया कि 7 जून से हाथी इसी इलाके में थे। अब पोस्टमाॅर्टम के बाद हाथी का अंतिम संस्कार किया जाएगा।

रायगढ़

धरमजयगढ़ में करंट की चपेट में आने से हाथी की मौत हो गई। घटना गेरसा गांव की है। यहां खेत में सिंचाई के लिए एक किसान ने अवैध बिजली का कनेक्शन कर रखा था। खुले तार की चपेट में आने से हाथी की मौत हुई। डीएफओ प्रियंका पांडे ने बताया कि करीब 5 फीट की हाइट पर वायर था। यह अवैध कनेक्शन भादो नाम के किसान का था। इसके खिलाफ कार्रवाई की जाएगी। इस क्षेत्र में पिछले कुछ दिनों से 27 हाथियों का दल मौजूद है। पहाड़ के इलाके से हाथी कटहल खाने आते हैं। बीती रात हाथी कटहल खाने आया करंट लगने से उसकी मौत हो गई। फिलहाल, ग्रामीणों से पूछताछ की जा रही है।

Leave a Reply