Chhattisgarh Education & Jobs

छत्तीसगढ़ माध्यमिक शिक्षा मंडल: दसवीं-12वीं में साढ़े तीन हजार छात्रों को मिलेगा बोनस नंबर

रायपुर | दसवीं-बारहवीं बोर्ड में इस बार साढ़े तीन हजार छात्रों बोनस नंबर मिलेगा। पिछली बार की तुलना में यह संख्या अधिक है। बोनस नंबर पाने वाले में खेलकूद से जुड़े छात्रों की संख्या अधिक है। बोनस नंबर छात्रों को फेल होने से बचाएगा। लेकिन इसकी मदद से कोई छात्र टॉपर नहीं बन सकेगा। क्योंकि, इस बार बोनस नंबर को लेकर नया फार्मूला लागू किया गया है।

इसके तहत यह नंबर महायोग में नहीं जुड़ेगा। पहले के बरसों में गणित, हिंदी, अंग्रेजी, विज्ञान समेत अन्य विषयों में मिले नंबर और बोनस नंबर को आपस में जोड़ा जाता था। लेकिन इस बार सिस्टम में बदलाव किया गया है। इसके तहत बोनस नंबर को अन्य विषयों के नंबर के साथ नहीं जोड़ा जाएगा।

शिक्षाविदों ने बताया कि पिछले कुछ बरसों में यह देखा गया है कि बोनस नंबर की मदद से कई छात्र टॉप-टेन की लिस्ट में जगह बनाने में कामयाब हुए। इसे लेकर कई बार बोनस नंबर को लेकर सवाल भी उठे। गौरतलब है कि पिछले कुछ बरसों में बोनस नंबर पाने वाले छात्रों की संख्या बढ़ी है। विभिन्न कैटेगरी में बोनस नंबर के रूप में 10 से लेकर 20 नंबर तक दिए जाते हैं।

दसवीं-12वीं की कापियों का मूल्यांकन लगभग पूरा

दसवी-बारहवी बोर्ड की कापियों के मूल्यांकन का काम लगभग पूरा हो चुका है। अफसरों का कहना है कि जिन विषयों की परीक्षा नहीं हुई। उसके लिए अधिकांश सेंटरों से नंबर मिल गए हैं। कुछ सेंटरों से नंबर 25 तक मिलने की संभावना है। इसके बाद नतीजे तैयार करने की प्रक्रिया चलेगी। सब कुछ ठीक रहा तो 10 दिन से पहले बोर्ड के नतीजे जारी हो जाएंगे।

गौरतलब है कि पिछली बार 9 मई को दसवीं-बारहवीं दोनों कक्षाओं के नतीजे जारी हुए थे। इस बार परीक्षाएं पर काेरोना वायरस व लॉकडाउन की वजह से प्रभावित हुई। इसलिए नतीजे जारी करने में देरी हो रही है।

Leave a Reply