सबकी मदद को तत्पर सुषमा जी से जब रायपुर के लोगो ने एम्स की मांग की तो उन्होंने तुरंत मंजूर किया और बनते तक साथ खड़ी रहीं - गोंडवाना एक्सप्रेस
gondwana express logo
Gondwana Express banner

सबकी मदद को तत्पर सुषमा जी से जब रायपुर के लोगो ने एम्स की मांग की तो उन्होंने तुरंत मंजूर किया और बनते तक साथ खड़ी रहीं

रायपुर (एजेंसी) | सुषमा जी जितनी राजनीती में कुशल थी उतना ही उनके ह्रदय में उदारता भरी थी। एक ट्वीट पर त्वरित कार्यवाही करते हुए लोगों को मदद मुहैया कराती थी। ऐसा ही एक किस्सा छत्तीसगढ़ से भी जुड़ा हुआ है। केंद्रीय मंत्री के रूप में उन्होंने इस राज्य को उदारता पूर्वक सुविधाएं मुहैय्या कराईं।

2001 में जब रायपुर में एम्स खोलने का प्रस्ताव उनके सामने रखा तो वे तत्काल तैयार हो गईं और एक महीने बाद ही रायपुर आकर स्थल का चयन भी कर लिया। टाटीबंध में आज जहां पर एम्स संचालित हो रहा है वह दरअसल रायपुर का पुराना टीबी अस्पताल परिसर हुआ करता था। सुषमा जब स्थल चयन के लिए रायपुर आईं थीं तब उनके साथ रायपुर का सांसद होने के नाते मैं भी था।

तत्कालीन मुख्यमंत्री अजीत जोगी को जमीन देने के लिए किया राजी

टीबी अस्पताल के अलावा उनको शहर में 2-3 और जगह लेकर गया लेकिन उन्हें वही जगह पसंद आई। उन्होंने रायपुर छोड़ने से पहले ही घोषणा कर दी थी कि एम्स उसी जगह पर बनेगा। सुषमा ने खुद तत्कालीन मुख्यमंत्री अजीत जोगी से चर्चा कर एम्स के लिए जमीन देने पर भी राजी कर लिया था।

यूपीए सरकार के समय जब-जब एम्स के निर्माण टलने की बात आती रही, सुषमा जी ने पूरी प्रखरता से संसद में इसे उठाया। एक बारगी तो यूपीए के स्वास्थ्य मंत्री गुलाम नबी आजाद ने कहा भी कि सुषमा जी के दबाव से ही सभी छह एम्स निर्माण को हमें मंजूरी देनी पड़ी।

Leave a Reply