नक्सली नक़्क़ा राव की जमानत पर भाजपा और कांग्रेस आमने सामने - गोंडवाना एक्सप्रेस
gondwana express logo

नक्सली नक़्क़ा राव की जमानत पर भाजपा और कांग्रेस आमने सामने

रायपुर (एजेंसी) | प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी की हत्या के षड्यंत्र में शामिल लोगों के संपर्क में रहे माओवादी नेशनल को-ऑर्डिनेटर नक्का राव उर्फ मूर्ति को जमानत मिल गई है। जिसे लेकर भाजपा और कांग्रेस आमने सामने आ गई है।

नक्सली को चुनाव के कारण छोड़ा?: कौशिक

नेता प्रतिपक्ष धरमलाल कौशिक ने प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी की हत्या के षड्यंत्र में शामिल लोगों के संपर्क में रहे माओवादी नेशनल को-ऑर्डिनेटर नक्का राव उर्फ मूर्ति को मिली जमानत को लेकर प्रदेश सरकार व पुलिस प्रशासन पर निशाना साधा है। कौशिक ने पूछा कि कहीं अगले लोकसभा चुनाव के मद्देनजर किसी सांठगांठ के चलते तो मूर्ति की जमानत का रास्ता तो आसान नहीं किया गया?

कौशिक ने कहा कि 24 दिसंबर को गिरफ्तार नक्का राव के मामले में पुलिस ने चालान पेश करने में उदासीनता का परिचय दिया जिसके चलते विशेष न्यायालय ने गिरफ्तार माओवादी को जमानत दे दी। नेता प्रतिपक्ष ने कहा कि निर्धारित समय में चालान पेश नहीं कर पाई मूर्ति को जमानत मिल गई।

भाजपा के कार्यकाल में बढ़ा है नक्सलवाद: त्रिवेदी 

कौशिक के बयान पर पलटवार करते हुए कांग्रेस के महामंत्री शैलेश नितिन त्रिवेदी ने कहा कि परिवर्तन यात्रा को झीरम घाटी के पास तत्कालीन भाजपा सरकार द्वारा सुरक्षा मुहैय्या नहीं कराई गई थी। भाजपा की माओवादियों से सांठगांठ उजागर होने के बाद भी कौशिक कांग्रेस पर इस तरह का आरोप लगाकर उसे नकार नहीं सकते।

त्रिवेदी ने कहा कि पूरा छत्तीसगढ़ जानता है कि 2003 में जब भाजपा सरकार बनी उस समय दक्षिण बस्तर के सीमावर्ती 3 ब्लाकों तक सीमित माओवाद रमन सिंह के 15 वर्ष के शासनकाल में बढ़कर 14 जिलों तक पहुंच गया। नक्सलियों को भाजपा के नेता और स्वयं रमन सिंह भाई और बेटा बताते रहे। छत्तीसगढ़ में नक्सलबाद के विस्तार के लिए भाजपा सरकार ही जिम्मेदार है।

Leave a Reply