Chhattisgarh

कार्यवाही: चेतावनी के बाद भी नहीं पहना मास्क, निगम ने 25 हजार लोगों से वसूला 20 लाख फाइन, अब FIR भी दर्ज़ होगी

रायपुर | राजधानी में कोरोना के बढ़ते मामलों के बावजूद लोग सावधान नहीं हो रहे हैं। सख्ती और लगातार जागरुक करने के बावजूद कई लोग न तो मास्क पहन रहे और न ही सोशल डिस्टेंसिंग का पालन कर रहे हैं। सार्वजनिक स्थानों में थूकने पर पाबंदी के बावजूद लोग सड़क को ही पीकदान बनाकर दूसरों के लिए खतरा पैदा कर रहे हैं। नगर निगम और पुलिस की टीम अब ऐसे लोगों पर सख्ती के लिए सड़क पर उतर गई है।

पिछले 20 दिन में निगम और पुलिस की टीम ने 25 हजार से ज्यादा लोगों को कोरोना को लेकर लापरवाही बरतने की वजह से पकड़ा। उनसे 20 लाख जुर्माना वसूला किया गया। निगम और पुलिस की टीम ने कार्रवाई के साथ चेतावनी दी है कि दोबारा पकड़े जाने पर उनके खिलाफ कानूनी कार्रवाई की जाएगी।

आदेश के उल्लंघन के लिए धारा 188 के तहत केस दर्ज किया जा सकता है। जांच टीम अचानक किसी भी चौराहे के माेड़ पर तैनात होकर आने जाने वालों पर कार्रवाई कर रही है। भीड़ भरे चौराहे की जगह ऐसी सड़क पर डेरा डाला जा रहा है जहां लोगों को रोककर कार्रवाई करने से ट्रैफिक प्रभावित न हो। अब तक की गई कार्रवाई की समीक्षा से स्पष्ट हो रहा है कि सबसे ज्यादा मास्क न पहनने की लापरवाही सामने आई है। भीड़भाड़ वाली जगहों पर भी लोग बिना मास्क के घूम रहे हैं।

बाजार में सोशल डिस्टेंसिंग के नियम का पालन नहीं हो रहा है। इस नियम का पालन न करने वालों से अब तक करीब ढ़ाई लाख का जुर्माना वसूल किया जा चुका है। इतना ही नहीं सार्वजनिक जगहों पर पान गुटखा खाकर थूकने वाले भी खुद के साथ दूसरों की जिंदगियों को भी खतरे में डाल रहे हैं। शहर में दो हजार से ज्यादा लोग पब्लिक प्लेस पर थूकते पकड़े जा चुके हैं। करीब एक हजार से ज्यादा दुकानदारों पर मास्क नहीं पहनने के लिए अलग श्रेणी में कार्रवाई की गई है। सीएमएचओ मीरा बघेल के मुताबिक कोरोना के केस इसलिए और भी ज्यादा बढ़ रहे हैं, क्योंकि लोग छोटी सावधानियों को दरकिनार रह रहे हैं।

गलती कर रहे हैं, पकड़े जाने पर कर रहे विवाद

कई लोग ऐसे भी हैं जो सड़क पर स्पॉट फाइन किए जाने पर निगम मुख्यालय तक आ रहे हैं। ऐसे लोग उल्टा प्रशासन की कार्रवाई पर सवाल उठा रहे हैं। ऐसे लोगों को भी समझाया जा रहा है कि मास्क पहनना, सार्वजनिक जगहों पर नहीं थूकना, भीड़भाड़ में सुरक्षित दूरी का पालन करने में उनकी ही भलाई है।

फाइन से बचने कई तरह के बहाने बना रहे लोग

कार्रवाई होने पर कई लोग बहाने भी बना रहे हैं। कुछ लोग फाइन के लिए पैसा नहीं होने का हवाला देकर जाने लगते हैं। कई लोग जेब से मास्क निकालकर कहते हैं उन्हें सांस लेने में तकलीफ हो रही थी। कई लोग कान में दर्द का बहाना करते हैं। कोरोना से बचाव की जागरूकता के तहत शहर में अब यमराज चित्रगुप्त बने कलाकार भी लोगों को सचेत कर रहे हैं।

Leave a Reply