bhupesh-baghel-pic
Chhattisgarh

कोरोना वायरस: छत्तीसगढ़ विधानसभा 25 मार्च तक स्थगित, 31 मार्च तक स्कूल-कॉलेज बंद, परीक्षाएं चलती रहेंगी

रायपुर | कोरोनावायरस (कोविड-19) के संक्रमण को देखते हुए छत्तीसगढ़ सरकार ने प्रदेश के सभी सार्वजनिक स्थलों पर रोक लगा दी है। पब्लिक लाइब्रेरी, स्वीमिंग पूल और वाटरपार्क सहित सभी आंगनवाड़ी केंद्रों को 31 मार्च तक बंद करने के आदेश दिए गए हैं। वहीं प्रदेश के सभी स्कूलों में चल रही स्थानीय परीक्षाओं को स्थगित कर दिया गया है। हालांकि 10वीं और 12वीं की बोर्ड परीक्षाएं यथावत चलती रहेंगी। विधानसभा की कार्यवाही को भी 25 मार्च तक स्थगित कर दिया गया है।

यह फैसला गुरुवार शाम उस समय लिया गया जब दिल्ली से लौटते ही मुख्यमंत्री भूपेश बघेल ने अपने निवास पर प्रमुख अधिकारियों की बैठक लेकर स्थिति की समीक्षा की। बैठक में तय किया गया कि बोर्ड की परीक्षाएं यथावत् चलती रहेंगी। कॉलेज की परीक्षाओं को भी स्थगित नहीं किया गया है लेकिन प्रशिक्षण से संबंधित सारे सेंटर इस दौरान बंद रहेंगे।

सभी स्कूल 31 मार्च तक बंद, परीक्षाएं स्थगित

प्रदेश सरकार ने एक दिन पहले ही सभी स्कूलों को 31 मार्च तक बंद करने के आदेश जारी किए थे। अब शुक्रवार को नया आदेश जारी कर स्कूलों में चल रही पहली से 8वीं तक की परीक्षाओं के साथ पहली बार बोर्ड स्तर पर हो रही 9वीं और 11वी की परीक्षाएं भी स्थगित कर दी गई हैं। शनिवार से 11वीं की और 19 मार्च से 9वीं की परीक्षाएं होनी थी। हालांकि प्रदेश में 10वीं और 12वीं बोर्ड की परीक्षाएं चलती रहेंगी।

इसी तरह दिल्ली से लौटीं दो छात्राओं में सर्दी-खांसी की शिकायत मिली तो हिदायतुल्लाह नेशनल लॉ यूनिवर्सिटी ने हॉस्टल खाली करवा दिया और 18 मार्च तक छुट्टी का ऐलान किया। स्टूडेंट्स की घर वापसी के लिए यूनिवर्सिटी ने बसें भी लगवा दीं। हालांकि जांच में दोनों छात्राओं के सैंपल नेगेटिव निकले।

यूनिवर्सिटी प्रबंधन ने आनन-फानन में 18 मार्च तक छुट्टी की घोषणा करते हुए कहा कि हालात का 16 तारीख को रिव्यू किया जाएगा। देश की स्थिति भी देखी जाएगी। उस समय तक देश में कोरोना के मरीज बढ़ते रहे तो छुट्टी बढ़ा दी जाएगी और हास्टल तब तक बंद रहेगा। अगर मामले बढ़े तो फिर छुट्टी भी बढ़ाई जाएगी। एचएनएलयू में बीए एलएलबी, एलएलएम और पीएचडी की पढ़ाई होती है। यहां करीब 900 स्टूडेंट्स हैं। एचएनएलयू छात्रसंघ के अध्यक्ष एकांश जैन ने बताया कि विवि में दहशत जैसी बात नहीं है और छुट्टी एहतियातन दी गई है।

भोरमदेव महोत्सव स्थगित धार्मिक अनुष्ठान होंगे

कोरोना वायरस के डर से कबीरधाम जिले के ऐतिहासिक भोरमदेव मंदिर में इस साल भोरमदेव महोत्सव नहीं होगा। कलेक्टर अवनीश कुमार शरण ने बताया कि 21, 22 व 23 मार्च को 3 दिवसीय भोरमदेव महाेत्सव होने वाला था। भोरमदेव मंदिर में होने वाले दीपदान सहित सभी व्यक्तिगत धार्मिक अनुष्ठान होंगे।

विदेश से 12 लोग दुर्ग लौटे, सभी आइसोलेशन में

कोरोना वायरस फैलने के बाद विदेशों में नौकरी करने गए लोग अब लौटने लगे हैं। पिछले तीन दिन में ही 12 लोग यहां लौटे हैं, जिनमें 8 लोग विदेशों में नौकरी करने वाले हैं। सभी लोगों को उनके घर पर ही होम आइसोलेशन में रखा गया है। हैरत की बात यह है कि अब तक 60 लोग विदेश से शहर में लौटे हैं, लेकिन 44 लोगों को ही स्वास्थ्य विभाग ट्रेस कर पाया है। 16 लोगों की पतासाजी की जा रही है।

Leave a Reply