Chhattisgarh

कोरोना संक्रमण के खतरे से लोगों को बचाने अब आदतें बदलने की अपील कर रही सरकार, एम्स ने ओपीडी शुरू की

रायपुर | प्रदेश सरकार अब लोगों से आदतें बदलने को कह रही है। जैसे-जैसे अनलॉक की प्रक्रिया आगे बढ़ रही है, राज्य के शहरों में भीड़ और कोरोना संक्रमण दोनों बढ़ रहा है। इस वजह से अब सरकार का ध्यान हर व्यक्ति के व्यवहार को बदलने की तरफ है। कोशिश यह समझाने की हो रही है कि लोग अपनी आदतें ऐसे बदलें जिससे वो खुद को इस संक्रमण से बचा सकें। इसे लेकर एक वीडियो संदेश स्वास्थ्य विभाग की सचिव निहारिक बारिक सिंह ने ट्वीटर पर शेयर किया है।

स्वास्थ्य विभाग का ट्वीट


एम्स ने शुरू की ओपीडी

अखिल भारतीय आयुर्विज्ञान संस्थान (एम्स) रायपुर में कुछ वक्त के लिए ओपीडी को बंद कर दिया गया था। इसे शनिवार से शुरू कर दिया गया है। निदेशक  डॉ. नितिन एम. नागरकर ने बताया कि एम्स ने सुबह नौ से दोपहर 1.30 बजे तक ओपीडी शुरू करने पर फैसला लिया है। पहले चरण में ब्रॉड स्पेशियल्टी विभाग के लिए प्रतिदिन 30 रोगियों को परामर्श दिया जाएगा, इनमें 20 नियमित रोगी और 10 नए रोगी होंगे।

सुपर स्पेशियल्टी विभागों के लिए रोगियों की संख्या 15 होगी जिसमें 10 नियमित और पांच नए रोगी शामिल होंगे। ओपीडी में पहली बार जांच के लिए आने वाले रोगियों को https://ors.gov.in/index.html के जरिए से ऑनलाइन पंजीयन कराना होगा। इसके साथ ही ओआरएस एप के जरिए भी रजिस्ट्रेशन करवाया जा सकेगा।

छत्तीसगढ़ में कोरोना की स्थिति

शनिवार शाम तक 57 मरीज नए मिले। अब कुल संक्रमितों की संख्या 2602 हो गई है, इनमें एक्टिव केस 652 हैं । शनिवार को 52 लोगों को डिस्चार्ज किया गया। प्रदेश में अब तक 1937 कोरोना संक्रमितों को ठीक होने के बाद डिस्चार्ज किया जा चुका है। राज्य में अब तक 13 कोरोना संक्रमितों की मौत हो चुकी है।

Advertisement
Rahul Gandhi Ji Birthday 19 June

Leave a Reply