Chhattisgarh

कोरोना: आंगनबाड़ी कार्यकर्ता घर-घर जाकर तलाशेंगे मरीज, सरकार का ब्लू प्रिंट तैयार

रायपुर | कोरोना से लड़ाई में अब आंगनबाड़ी कार्यकर्ताओं की भूमिका अहम होने जा रही है। सरकार एक ऐसा ब्लू प्रिंट पर काम करने वाली है, जिसके अनुसार अब घर-घर जाकर कोरोना के मरीजों की तलाश की जाएगी।

जानकारी मिली है कि इस ब्लू प्रिंट के मुताबिक स्वास्थ्य विभाग और पंचायत एवं ग्रामीण विकास विभाग को जॉइंटली काम करना होगा। आंगनबाड़ी कार्यकर्ता घर-घर जाकर देखेंगी कि किसी व्यक्ति में कोरोना जैसे लक्षण तो नहीं हैं ? अगर किसी व्यक्ति में ऐसे लक्षण मिलेंगे, तो उसे तुरंत आइसोलेट या क्वेरेंटाइन किया जाएगा।

आंगनबाड़ी कार्यकर्ताओं को इस काम में पंचायतकर्मी यानी सचिव सहयोग करेंगे। संभावना है कि मनरेगा में कार्यरत कर्मचारियों की भी इसमें ड्यूटी लगाई जा सकती है। स्वास्थ्य मंत्री टीएस सिंहदेव ने कहा है कि कोरोना से लड़ाई का यह तरीका बेहद कारगर होगा। स्वास्थ्य मंत्री कहते हैं कि इस योजना पर अमल के बाद कोरोना को लेकर हम बेहतर स्थिति में होंगे।

पद्मावती साहू, प्रांताध्यक्ष, छत्तीसगढ़ जुझारू आंगनबाड़ी कार्यकर्ता सहायिका संघ

आपको बता दें, जिन आंगनबाड़ी कार्यकर्ताओं को सरकार कोरोना के खिलाफ महत्वपूर्ण जिम्मेदारी देने जा रही है, वे आंगनबाड़ी कार्यकर्ता स्वस्फूर्त भी कोरोना के खिलाफ जागरुकता का प्रसार कर रहे हैं। छत्तीसगढ़ जुझारू आंगनबाड़ी कार्यकर्ता सहायिका कल्याण संघ की प्रांताध्यक्ष पद्मावती साहू ने सभी जिलों के आंगनबाड़ी कार्यकर्ताओं से जागरुकता फैलाने की अपील की है, जिसके बाद बड़ी संख्या में आंगनबाड़ी कार्यकर्ता अपना वीडियो बनाकर शेयर कर रहे हैं।

Leave a Reply