corona-virus
Chhattisgarh

विधायक के बेटे समेत छत्तीसगढ़ के 500 छात्र किर्गिज़स्तान में फंसे, मदद के लिए राज्यपाल ने पत्र लिखा

रायपुर | छत्तीसगढ़ के 500 मेडिकल छात्र मध्य एशियाई देश किर्गिज़स्तान में फंस गए हैं। इन छात्रों में रामानुजगंज से कांग्रेस विधायक बृहस्पत सिंह का बेटा भी शामिल है। कोरोना के बढ़ते खतरे को देखते हुए राज्यपाल अनुसुइया उइके ने केंद्र सरकार को पत्र लिखकर मदद मांगी है। वहीं, राज्य सरकार ने मई तक का राशन देने और 31 मार्च तक बिजली बिल रीडिंग पर रोक लगाने जैसी घोषणाएं की हैं।

राज्यपाल ने विदेश मंत्री को छात्रों के बारे में जानकारी दी


छात्रों की भारत वापसी के लिए राज्यपाल अनुसुइया उइके ने विदेश मंत्री एस. जयशंकर को पत्र लिखा। उन्होंने पत्र में किर्गिज़स्तान में फंसे भारतीय छात्रों और नागरिकों को स्वदेस लाने की व्यवस्था करने की मांग की है। उन्होंने लिखा- किर्गिज़स्तान के मेडिकल कॉलेज में छत्तीसगढ़ के कई जिलों के बच्चे पढ़ाई कर रहे हैं।

कोरोना के खतरे से बचने के लिए वे भारत आना चाहते हैं। विधायक बृहस्पति सिंह ने पत्र लिखकर सभी छात्रों के नाम के साथ ही करीब 80 के मोबाइल नंबर और पते भी दिए हैं।

Leave a Reply