युवाओं के नाम खुली चिट्ठी में सीएम भूपेश ने कहा, 'प्रदेश के युवा उन लोगों की राजनीति में न फंसें जिन्होंने आपके अधिकारों पर पिछले 15 सालों तक डाका डाला।' - गोंडवाना एक्सप्रेस
gondwana express logo

युवाओं के नाम खुली चिट्ठी में सीएम भूपेश ने कहा, ‘प्रदेश के युवा उन लोगों की राजनीति में न फंसें जिन्होंने आपके अधिकारों पर पिछले 15 सालों तक डाका डाला।’

रायपुर (एजेंसी) | मुख्यमंत्री भूपेश बघेल ने प्रदेश के युवाओं के नाम खुली चिट्ठी लिखी है। इस चिट्ठी के जरिए उन्होंने भाजपा पर अपरोक्ष रूप से हमला किया है। सीएम ने चिट्ठी ऐसे समय लिखी है, जब देश के आम चुनावों के कार्यक्रम सप्ताहभर में जारी होने वाले हैं। राज्य में पहली बार वोट करने वाले करीब साढ़े पांच लाख वोटर को टारगेट करते हुए सीएम ने अपनी चिट्ठी में में कुछ नसीहत है तो कुछ सुझाव भी।

स्व. महेंद्र कर्मा के बेटे को डिप्टी कलेक्टर की नौकरी देने के मामले का भी जिक्र इसमें है। पढ़ें सीएम की चिट्‌ठी उन्हीं के शब्दों में…

छत्तीसगढ़ के युवा साथियों,

आज आप सबसे अपनी दिल की बात साझा कर रहा हूं। छत्तीसगढ़ में कांग्रेस की सरकार बने लगभग 60 दिन से अधिक हो चुके हैं। इन 60 दिनों में मैंने अपना हर एक पल छत्तीसगढ़ की जनता के लिए उपलब्ध रहने और ‘नवा छत्तीसगढ़’ गढ़ने के संकल्प को पूरा करने की प्रक्रिया में समर्पित करने का प्रयास किया है।

मैं भी आप सभी की तरह एक साधारण किसान परिवार से संबंध रखता हूं। एक किसान का बेटा होने के कारण मैंने भी युवा अवस्था में कई तरह की चुनौतियों का सामना किया है। वर्ष 2018 प्रदेश में बदलाव की एक नई उम्मीद लेकर आया। इस बार पुनः लोकतांत्रिक प्रक्रिया ने वयस्क छत्तीसगढ़ की जिम्मेदारी कांग्रेस के कंधों पर दी।

हम युवाओं के सशक्तिकरण के लिए गंभीरता से काम कर रहे हैं। जल्द ही प्रोफेसर, चिकित्सक, शिक्षकों के खाली पदों पर भर्ती की प्रक्रिया शुरू करने जा रहे हैं। युवा खिलाड़ियों को भी उत्तम सुविधा दिलाएंगे। पीएससी की प्रवेश परीक्षा में सुधार के लिए सुझावों पर अमल कर रहे हैं। सॉफ्टवेयर पार्क, औषधि प्लांट एवं फूड पार्क स्थापित किए जाएंगे।

लेकिन इन सबके बीच मेरी आपसे अपील है कि आप उन लोगों की राजनीति में न फंसें, जिन्होंने आपके हक एवं अधिकार पर पिछले 15 सालों तक डाका डाला है। जिन्होंने छत्तीसगढ़ के युवाओं को मजदूर बनाने का काम किया हो, वे किस मुंह से आज हम पर सवाल उठा रहे हैं? क्या वे योगेश साहू को भूल गए? नवा छत्तीसगढ़ गढ़ने की चुनौती बहुत बड़ी है और यह मैं अकेले आप सबके सहयोग के बिना पूरा नहीं कर सकता।

मेरा सपना है कि नवा छत्तीसगढ़ में किसान कर्जमुक्त रहें, आदिवासी आत्मनिर्भर बनें और युवाओं को कोई भी सरकार मोबाइल देकर अपमानित करने की जुर्रत न कर सके। मैं लाखों युवाओं से आह्वान करता हूं कि वे आरोप-प्रत्यारोप छोड़कर आगे आएं और नवा छत्तीसगढ़ के सपने को मिलकर साकार करें।

आशीष कर्मा की नियुक्ति का वादा भाजपा ने किया था, हमने तो सिर्फ पूरा किया

सीएम ने कहा है, जहां तक आदिवासियों के हक की लड़ाई लड़ते-लड़ते नक्सलियों की गोली से शहीद हुए महेंद्र कर्मा के पुत्र आशीष कर्मा की बात है तो मैं आप सभी को बता दूं कि हमने किसी भी सामान्य युवा का अधिकार छीनकर उन्हें नहीं दिया है। शहीद पुत्र को अनुकंपा पर नौकरी देने का वादा भाजपा की सरकार ने ही किया था। हमने बस उसे पूरा किया है।

Leave a Reply