chhattisgarh-local-election
Chhattisgarh Politics

छत्तीसगढ़ नगर निकाय चुनाव 2019: नतीजे घोषित, कांग्रेस ने मारी बाजी, सरकार के काम पर जनता की मुहर

chhattisgarh-local-election

रायपुर (एजेंसी) | राज्य निर्वाचन आयोग द्वारा देर रात मतों की गिनती समाप्त होने के बाद नगर निकाय चुनाव के परिणाम घोषित किये गए। छत्तीसगढ़ प्रदेश के बड़े एवं शहरी नगर निगमों बिलासपुर, रायपुर, अंबिकापुर, चिरमिरी, दुर्ग, जगदलपुर और रायगढ़ पर कांग्रेस ने कब्ज़ा जमा लिया है। कोरबा नगर निगम में भाजपा अपनी बढ़त 31 पार्षदों के साथ बनाये हुए है। वही, धमतरी और राजनांदगाव में बराबरी की स्थिति है, इन दोनों नगर निकायों पर निर्दलीय निर्वाचित उमीदवार ही महापौर का चुनाव निर्धारित करेंगे। कांग्रेस पार्टी ने 2014 में हुए पूर्व चुनाव से बेहतर प्रदर्शन करके दिखाया है, जबकि भाजपा को 2 नगर निगम में नुकसान हुआ है।

नगर निगमों के नतीजे

नगर निगम कांग्रेस भाजपा जोगी (जेसीसी) अन्य
रायपुर (70) 34 29 0 7
धमतरी (40) 18 17 0 5
बिलासपुर (70) 35 30 0 5
रायगढ़ (48) 24 19 0 5
कोरबा (67) 26 31 2 8
अंबिकापुर (48) 27 20 0 1
चिरमिरी (40) 24 13 0 3
दुर्ग (60) 22 21 0 8
राजनांदगाव (51) 22 21 0 8
जगदलपुर (48) 28 19 0 1

इस बार महापौर चुनाव सीधे ना होकर निर्वाचित पार्षदों में से एक नेता चुनने का दांव चल पड़ा है, सारे निकायों में पिछले वर्ष दिसंबर 2018 के विधानसभा चुनाव के परिणाम कांग्रेस पार्टी के पक्ष में आने के बाद के जैसा रहा। कार्यकर्ता ढोल नगाड़ो के साथ  जीते हुए पार्षद उमीदवार के साथ खुशी मनाते दिखे।

सबसे बड़ी जीत -इजाज ढेबर, कांग्रेस (वार्ड – 46) 4442 वोटो से विजयी हुए।

सबसे छोटी जीत – अंजनी विभार, कांग्रेस (वार्ड – 6) 1  वोट से विजयी हुई।

सरकार के काम पर जनता की मुहर – भूपेश बघेल, मुख्यमंत्री 

“निकाय चुनाव में कांग्रेस जिस तरह जीत की तरफ बढ़ रही है, ये सरकार के एक साल के काम काज पर जनता की मुहर है।  हम सरकार की योजनाओं को सफलता पूर्वक जनता के बीच लेकर गए थे।  निगम, पालिका और पंचायतो में कांग्रेस बेहतर प्रदर्शन कर रही है।”

सत्ता का दुरूपयोग कर रही है कांग्रेस – डॉ रमन सिंह, पूर्व मुख्यमंत्री 

चुनाव में कांग्रेस कोई भी हथकंडा अपनाने से बाज नहीं आयी है।  सीधे महापौर चुनने का अधिकार जनता से छीन लिया। बैलेट पेपर ले आये।  कांग्रेस ने सत्ता का दुरूपयोग करने की कोशिश की।  बावजूद इसके भाजपा ने कड़ी टक्कर दी, इसे बड़ी जीत कहा जा सकता है।

Leave a Reply