Chhattisgarh

राजस्व मंत्री जयसिंह अग्रवाल : स्वरोजगार के माध्यम से ग्रामीणों और महिलाओं का होगा आर्थिक सशक्तिकरण

प्रदेश के राजस्व एवं आपदा प्रबन्धन मंत्री तथा गौरेला पेंड्रा मरवाही जिले के प्रभारी मंत्री श्री जयसिंह अग्रवाल ने आज  गौरेला पेंड्रा मरवाही जिले  में राष्ट्रीय ग्रामीण आजीविका मिशन छत्तीसगढ़ के तहत ग्राम कुड़कई एवं सदभावना भवन मरवाही में महिला स्वसहायता समूहों को चक्रीय निधि, सामुदायिक निवेश निधि व आपदा प्रबंधन निधि वितरण कार्यक्रम में गौरेला के 65 समूहों को 19.20 लाख, पेंड्रा के 18 समूहों को 7.95 लाख, महिला एवं बाल विकास विभाग अंतर्गत 5 समूहों को 1 लाख रुपये की राशि के चेक का वितरण किया।

प्रभारी मंत्री श्री अग्रवाल ने कहा कि गौरेला पेंड्रा मरवाही जिला बनने के बाद क्षेत्र के विकास की गति बेहद तीव्र हुई है और बहुत ही कम समय में जिले ने विकास की नई ऊंचाइयों को छुआ है। उन्होंने कहा कि मुख्यमंत्री श्री भूपेश बघेल के नेतृत्व में छत्तीसगढ़ शासन क्षेत्र के विकास के लिए कटिबद्ध है और भविष्य में भी बड़ी तेजी से अंचल का विकास हो यह सुनिश्चित किया जाएगा। उन्होंने कहा कि स्वरोजगार के माध्यम से ग्रामीणों और महिलाओं का आर्थिक सशक्तिकरण होगा।

मंत्री श्री जयसिंह अग्रवाल ने कहा कि ग्रामीण आजीविका मिशन  का उददेश्य ग्रामीण गरीब परिवारों को विकास की मुख्यधारा से जोड़ना और विभिन्न कार्यक्रमों के जरिये आर्थिक रूप से समृद्ध करना और उनकी पारिवारिक आय को बढ़ाना है। ग्रामीणों की सहज क्षमताओं का सदुपयोग कर देश की बढ़ती अर्थव्यवस्था में उनका योगदान सुनिश्चित करने के लिए ग्रामीण आजीविका मिशन के माध्यम से प्रयास किया जा रहा है।

कार्यक्रम में एडवांस ग्राम संगठन जिल्दा, अनमोल ग्राम संगठन फुलवारी पारा, हुनर ग्राम संगठन गांजन, उल्लास ग्राम संगठन पडरिया, हौसला ग्राम संगठन खरडी, सपना महिला स्व सहायता समूह झाबर,  सिवम महिला स्व सहायता समूह फुलवारी पारा,  जय मां दुर्गा महिला स्वसहायता समूह नवागांव, जागृति महिला स्व सहायता समूह बम्हनी, नितिन महिला स्वसहायता समूह नवागांव, जय अम्बे महिला स्वसहायता समूह सरखोर, आरती महिला स्व सहायता समूह सरखोर , कृष्णा स्वसहायता समूह बेंदरचुवा,  साईबाबा स्व सहायता समूह गोढा, बिटिया स्व सहायता समूह देवरीखुर्द, कान्हा स्वसहायता समूह देवरीखुर्द, रंजना महिला स्व सहायता समूह टंगियामार, सृष्टी महिला स्व सहायता समूह गिरारी को कुल 7 लाख 95 हजार रुपये की राशि वितरित की गई। राष्ट्रीय ग्रामीण आजीविका मिशन छ.ग. के तहत् महिला स्व सहायता समूहों का चक्रीय निधि सामुदायिक निवेश व आपदा प्रबंधन निधि का मरवाही के 35 स्वसहायता समूह को 5.25 लाख रुपये का वितरण किया गया। एकीकृत महिला एवं बाल विकास से इंदिरा महिला स्वसहायता समूह भरीडांड को किराना दुकान हेतु, इंदिरा महिला स्वसहायता समूह पथर्रा को बकरी पालन हेतु, इंदिरा महिला स्व सहायता समूह लरकेनी को किराना दुकान हेतु,  इंदिरा महिला स्वसहायता समूह मझगवां को रेडी-टू-ईट हेतु बीस बीस हजार रूपये का चेक वितरण किया गया। श्रीमती सुनीता रैदास को छ.ग. महिला कोष अंतर्गत सक्षम योजना अंतर्गत 1 लाख रूपये का चेक प्रदान किया गया।

इस अवसर पर जनप्रतिनिधि,  स्वसहायता समूह के सदस्य तथा बड़ी संख्या में ग्रामीण उपस्थित थे।

Leave a Reply