padhai-tuhaar-dr-premsay-tekam
Chhattisgarh Education & Jobs

ऑनलाईन शिक्षा पोर्टल में नया स्तंभ ‘हमारे नायक’ : स्कूली बच्चों में मौलिक लेखन और सृजनात्मक क्षमता बढ़ाने नयी पहल

रायपुर। स्कूली बच्चों में मौलिक लेखन और सृजनात्मक क्षमता के विकास के लिए नयी पहल की जा रही है। लॉकडाउन के दौरान स्कूली बच्चों की नियमित पढ़ाई के लिए शुरू किए गए ऑनलाईन पोर्टल ‘पढ़ई तुंहर दुआर’ में एक नया स्तंभ शुरू किया गया है। हमारे नायक नाम से शुरू किए गए स्तंभ प्रतिदिन स्कूली बच्चों की स्व-रचित मौलिक कहानियों का प्रकाशन किया जा रहा है। इससे बच्चों में जहां सृजनात्मक क्षमता को बढ़ावा मिल रहा है। वहीं वे दिन-प्रतिदिन इस वेबसाईट से जुड़कर नयी-नयी चीजें सीख रहे हैं।

स्कूल शिक्षा मंत्री डॉ. टेकाम ने गरियाबंद की छात्रा से की दूरभाष पर चर्चा

स्कूल शिक्षा मंत्री डॉ. प्रेमसाय सिंह टेकाम भी इस पोर्टल के द्वारा दी जा रही ऑनलाईन शिक्षा की मॉनिटरिंग कर रहे हैं। आज सुबह उन्होंने पोर्टल पर जाकर शीतल राजपूत की कहानी पढ़ी और छात्रा से दूरभाष पर चर्चा की। अचानक मंत्री द्वारा फोन पर सीधे बात करने की जानकारी मिलने पर वह बहुत खुश हुई।

गरियाबंद जिले में कक्षा 12वीं पढ़ने वाली इस छात्रा ने मंत्री श्री टेकाम को अपनी पढ़ाई-लिखाई के बारे में जानकारी दी। छात्रा ने पढ़ाई के टाइम-टेबल के बारे में बताया और चर्चा के दौरान डॉक्टर बनने की इच्छा जतायी। डॉ. टेकाम ने कहा कि वेबसाईट के जरिए उच्च स्तरीय शैक्षणिक सामग्री और वीडियो लेक्चर शिक्षकों के द्वारा तैयार कर दिए जा रहे हैं। उन्होंने इसका मन लगाकर नियमित रूप से अध्ययन करने की समझाईश दी। स्कूल शिक्षा मंत्री ने कहा कि पढ़ाई में लगन के साथ-साथ पूरा ध्यान रखने पर सफलता मिलती है। उन्होंने छात्रा को खूब मेहनत करने के लिए अपना आशीष दिया।

उल्लेखनीय है कि शिक्षा विभाग द्वारा ऑनलाईन पढ़ाई के लिए शुरू किए गए इस पोर्टल की लोकप्रियता लगातार बढ़ते जा रही है। लगभग 20 लाख से अधिक विद्यार्थी और शिक्षक जुड़ चुके हैं। इस पोर्टल में ऑनलाईन पढ़ाई के लिए स्तरीय शैक्षणिक सामग्री और वीडियो लेक्चर अपलोड किए गए हैं।

Advertisement
Rahul Gandhi Ji Birthday 19 June

Leave a Reply