देश में पहली बार ‘राष्‍ट्रीय पुलिस स्‍मारक’ पीएम मोदी ने किया उद्घाटन, शहीद पुलिस कर्मियों के स्मृति चिन्ह रखे जाएंगे

नेशनल न्यूज़ (एजेंसी) | पीएम मोदी ने दिल्‍ली के चाणक्‍यपुरी स्थित राष्‍ट्रीय पुलिस स्‍मारक का आज (21 अक्‍टूबर) उद्घाटन किया। पुलिस स्‍मृति दिवस के मौके पर पीएम मोदी ने शहीद पुलिसकर्मियों को श्रद्धांजलि दी। श्रद्धांजलि देते हुए पीएम मोदी भावुक हो गए। उन्‍होंने पुलिसकर्मियों को संबोधित करते हुए कहा ‘यह आप लोगों की सतर्कता का ही नतीजा है कि देश में अशांति फैलाने वाले अपनी कोशिशों में विफल होते हैं। आप लोगों के कारण ही देश में शांति व्‍याप्‍त है।

आज ‘आजाद हिंद सरकार’ की 75वीं वर्षगांठ के ऐतिहासिक मौके पर प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने लाल किले की प्राचीर से तिरंगा फहराया। इस अवसर पर पीएम मोदी आज आजाद हिंद संग्रहालय का भी उद्घाटन भी करेंगे।

पुलिसकर्मियों के शौर्य को’शत-शत नमन’

पीएम मोदी ने इस दौरान कहा ‘मैं पुलिसकर्मियों के शौर्य को नमन करता हूं. हर वीर वीरांगना को शत शत नमन.’ उन्‍होंने कहा कि आज का दिन देश के लिए जीवन समर्पित करने वालों को याद करने का दिन है. हर मौसम, हर त्‍योहार, हर समय पुलिस देशसेवा के लिए तैयार रहती है. मैं पुलिसकर्मियों के परिवार को भी शत-शत नमन करता हूं।




पीएम मोदी ने पिछली सरकार पर भी निशाना साधा 

पीएम मोदी ने कहा कि राष्‍ट्रीय पुलिस स्‍मारक के निर्माण में कई अड़ंगे लगाए गए. देश के वीरों के लिए पहले की सरकारों ने बेरुखी दिखाई. हमारी सरकार ने वीरों को सम्‍मान दिया. आजादी के बाद भी 70 साल क्यों लग गए इस मेमोरियल को बनाने में. पहले की सरकार चाहती तो बहुत पहले यह काम कर चुकी होती. आडवाणी जी के द्वारा शिलान्यास के बाद भी इस मेमोरियल को बनाने में बहुत वक्‍त लग गया. हमारी सरकार के आने के बाद इस मेमोरियल का काम फिर से शुरू किया गया।

मैं आप सभी के सामने नतमस्तक हूं : पीएम मोदी

आज का यह दिन आप सभी की सेवा के साथ-साथ आपके शौर्य और बलिदान को याद करने का है. पुलिस स्मृति दिवस उन साहसी पुलिस वालों की गाथा है, जिन्होंने लद्दाख की कठिन परिस्थितियों में हमेशा काम किया. ऐसे हर वीर वीरांगना को मैं शत-शत नमन करता हूं. मैं आप सभी के सामने नतमस्तक हूं, जिन्होंने अपने देश के लिए इतना बलिदान दिया. यह मेरा सौभाग्य है कि मुझे राष्ट्रीय पुलिस मेमोरियल को देश को समर्पित करने का मौका मिला।

आज का दिन जम्मू-कश्मीर और नक्सलियों से लोहा लेने वाले जवानों को याद करने का दिन है. नार्थ-ईस्ट में डटे हमारे साथियों का शौर्य और बलिदान भी आज हम महसूस कर रहे हैं. देश उनके साहस, उनके समर्पण, उनकी सेवा को कभी नहीं भूलेगा।

आडवाणी और राजनाथ भी रहे मौजूद

पीएम मोदी के साथ इस दौरान लालकृष्‍ण आडवाणी, गृह मंत्री राजनाथ सिंह भी मौजूद रहे. बता दें कि राष्‍ट्रीय पुलिस स्‍मारक शहीद पुलिसकर्मियों की याद में बनाया गया है. इस स्मारक में एक नया संग्रहालय भी बनाया गया है. बता दें कि 1959 में लद्दाख में चीनी सेना के हमले में मारे गए पुलिसकर्मियों की याद में पुलिस स्‍मृति दिवस मनाया जाता है. इसमें दस पुलिसकर्मी शहीद हुए थे।



Leave a Reply