टाटा को दी गई 1707 किसानों को जमीन लौटाने का आदेश जारी

बस्तर (एजेंसी) |  राजस्व विभाग ने बस्तर जिले के लोहांडीगुड़ा क्षेत्र के 1707 भू-विस्थापित आदिवासी किसान परिवारों को जमीन वापस करने का आदेश जारी कर दिया है। यह जमीन लगभग एक दशक पहले टाटा के वृहद इस्पात संयंत्र के लिए अधिग्रहित की गई थी। बता दें कि 25 दिसंबर को कैबिनेट मीटिंग में टाटा को दी गई जमीन किसानों को लौटाने का फैसला हुआ था। राजस्व विभाग ने बुधवार को बस्तर कलेक्टर को इस आशय का आदेश जारी किया।




इसमें लोहांडीगुड़ा तहसील के 10 गांवों के 1707 खातेदारों की कुल 1764.61 हेक्टेयर यानी लगभग 4400 एकड़ जमीन वापस करने की प्रक्रिया तय कर दी गई है। जिन गांवों के किसानों को जमीन वापस मिलेगी, उनमें बड़ांजी, बड़ेपरोदा, बेलर, बेलियापाल, छिन्दगांव, दाबपाल, धुरागांव, कुम्हली, सिरिसगुड़ा और टाकरागुड़ा शामिल हैं। अपनी तरह का यह पहला मामला है, जिसमें 1700 से ज्यादा आदिवासी परिवारों को अधिग्रहित की गई जमीन वापस की जा रही है।



Leave a Reply