Chhattisgarh Sports

अबूझमाड़ मैराथन 2020: इंडियन आर्मी के शंकर ने जीती अबूझमाड़ की मैराथन, केन्या के साइमन दूसरे स्थान पर

नारायणपुर | जिला प्रशासन और पुलिस ने अबुझमाड़ मैराथन का आयोजन किया। इसके जरिए नक्सल प्रभावित इलाके में शांति का संदेश दिया गया। युवाओं को खेलों के प्रति प्रोत्साहित करने के मकसद से आयोजित इस दौड़ में देश के कई हिस्सों से प्रतिभागी पहुंचे। 21 किलोमीटर की इस रेस को जीतकर शंकर माथन ने विजेता का खिताब अपने नाम किया।

प्रथम स्थान हासिल करने वाले शंकर को 1 लाख 21 हजार का पुरस्कार दिया गया। शंकर भारतीय  सेना के जवान हैं। देहरादून में पोस्टेड शंकर हर रोज अपनी ड्यूटी के साथ मैराथन के लिए प्रैक्टिस करते हैं। इससे पहले शंकर 60 मैराथन रेस में हिस्सा ले चुके हैं।

पुलिस विभाग के मुताबिक, इस रेस में पेशेवर धावकों के अलावा आम लोगों ने भी हिस्सा लिया। बड़ी तादाद में यहां स्कूल और कॉलेज के युवा भी पहुंचे। करीब 11 हजार लोगों ने इस दौड़ में हिस्सा लिया। दूसरे स्थान पर केन्या के साइमन रहे। साइमन पेशेवर धावक हैं। उन्हें 61 हजार रुपए का पुरस्कार दिया गया।

छत्तीसगढ़ के दल्ली राजहरा के रामनारायण ने इस रेस में तीसरा स्थान प्राप्त कर 31 हजार के पुरस्कार को अपने नाम किया। महिला वर्ग में केन्या की एलिसा कमोनिया विजेता बनी। बस्तर संभाग से इस रेस में कोई भी खिलाड़ी विजेता की लिस्ट में शामिल नहीं हो सका।

मंत्री कवासी लखमा ने विजेताओं को किया पुरस्कृत

आबकारी एवं उद्योग मंत्री कवासी लखमा ने नारायणपुर जिले के ग्राम बासिंग, ओरछा विकासखंड के अबूझमाड़ पीस हाफ मैराथन के पुरस्कार वितरण कार्यक्रम में विजयी धावकों को पुरस्कार वितरण किया। ‘‘अबूझमाड़ पीस हॉफ मैराथन‘‘ में पुरूष वर्ग में मेघालय के शंकर मानथापा ने 1 घंटा 2 मिनट में 21 किलोमीटर की दौड़ पूरी कर प्रथम स्थान प्राप्त किया।

वहीं केन्या के साइमन 1 घंटे 5 मिनट 20 सेकेण्ड में दौड़ पूरी कर दूसरे स्थान पर रहे। छत्तीसगढ़ के दल्लीराजहरा के श्री रामनारायण 1 घंटा 8 मिनट 7 सेकण्ड में दौड़ पूरी कर तीसरे स्थान पर रहे। वही महिला वर्ग में केन्या देश की एलीसा ने 1 घंटा 11 मिनट 22 सेकेन्ड में दौड़ पूरी कर पहले स्थान पर रही। वहीं दूसरे स्थान पर उत्तर प्रदेश की राजधानी लखनऊ की डिम्पल ने बाजी मारी।

तीसरा स्थान उत्तर प्रदेश की रेनू ने प्राप्त किया। इन्होंने दौड़ 1 घंटा 17 मिनट में पूरी की। कलेक्टर पी.एस. एल्मा ने अतिथियों का स्वागत किया और मैराथन आयोजन के उदेश्य पर प्रकाश डाला। कार्यक्रम में लोकसभा सांसद बस्तर दीपक बैज, विधायक कोण्डागांव मोहन मरकाम, विधायक नारायणपुर चंदन कश्यप नगर पालिका अध्यक्ष सुनीता मांझी, रजनू नेताम मौजूद रहे।

प्रथम स्थान पर आने वाले विजेताओं को मैडल और 1 लाख 61 हजार रूपए की नकद राशि से पुरस्कृत किया गया। वही द्वितीय स्थान को 61 हजार रूपए और तृतीय स्थान प्राप्त करने वाले विजेताओं को 31 हजार रूपए की नकद राशि और मैडल से पुरस्कृत किया गया। मैराथन दौड में 10 स्थान प्राप्त करने वालों को भी पुरस्कृत किया गया। इसके साथ ही नारायणपुर जिले और ओरछा विकास खंड के 10 पुरूष वर्ग और 10 महिला वर्ग को भी मैडल और 10-10 हजार रूपए की नकद राशि देकर सम्मानित किया गया। मंत्री श्री कवासी लखमा ने सभी धावकों को अपनी शुभकामनाएं दी और उनके उज्जवल भविष्य की कामना की।

इस मैराथन दौड़ के लिए छत्तीसगढ़ समेत देश के विभिन्न राज्यों और केन्या देश के 6 धावकों सहित 11 हजार से अधिक धावकों ने ऑनलाइन पंजीयन कराया था। मैराथन दौड़ आज सवेरे 7 बजे जिला मुख्यालय के उच्चतर माध्यमिक विधालय मैदान से शुरू हुई। दौड़ को कोण्डागांव विधायक श्री मोहन मरकाम और विधायक नारायणपुर श्री चंदन कश्यम ने हरी झंडी दिखाई।

Leave a Reply