Chhattisgarh

नारायणपुर में नक्सलियों से मुठभेड़, सीएएफ का जवान जितेन्द्र बागड़े शहीद

नारायणपुर | छत्तीसगढ़ के नारायणपुर में नक्सलियों और सुरक्षाबलों के बीच सोमवार सुबह मुठभेड़ हो गई। इसमें सीएएफ (छत्तीसगढ़ आर्म्ड फोर्स) जवान शहीद हो गया। जवान करियामेटा कैंप की सुरक्षा में लगे हुए थे। मुठभेड़ अभी जारी है। सर्च ऑपरेशन चल रहा है। घटना की पुष्टि आईजी बस्तर पी. सुंदरराज ने की है।

जानकारी के मुताबिक, कड़ेमेटा कैंप सुरक्षा में लगे जवानों पर नक्सलियों ने सोमवार को घात लगाकर हमला किया। बताया जा रहा है कि नक्सलियों ने स्नैपिंग अटैक किया है। इसमें सीएएफ जवान बीजापुर के माझीगुड़ा निवासी जितेंद्र बाकड़े (27) पुत्र नंदलाल बाकड़े शहीद हो गया। यहां कैंप बनाए जाने का नक्सली लगातार विरोध कर रहे हैं। करीब पांच माह पहले फरवरी में भी नक्सलियों ने यहां हमला किया था।

नक्सलियों के इस हमले में छ्त्तीसगढ आर्म्ड फोर्स का एक जवान आर. -295 जितेन्द्र बागड़े (22वीं वाहिनी, ए कम्पनी) को गोली लगने से शहीद हो गया है। वही पिछले 2 घंटो से नक्सली कैम्प पर रुक रुक रुककर फायरिंग कर रहे है। सीएएफ का यह कैम्प दंतेवाड़ा और नारायणपुर के बीच घनघोर जंगल मे बारसूर पल्ली मार्ग पर स्तिथ है। आज सुबह 8: 30 बजे के करीब नक्सलियों सैकड़ो हथियार बंद नक्सलियों ने अचानक कैम्प पर धावा बोल दिया।
शहीद जवान को शत् शत् नमन्।।

Leave a Reply