Politics

माँ बनाम बेटा: अपनी माँ देवती कर्मा के विरुद्ध चुनाव लड़ेंगे उनके बेटे छविंद्र कर्मा, जानिए कौन सी सीट से लड़ेंगे दोनों

दंतेवाड़ा (एजेंसी) | छत्तीसगढ़ की राजनीति में कांग्रेस को गठबंधन की राजनीति में जोर का झटका लगा है। कांग्रेस के हाथ से एक-एक करके गठबंधन के सारे मौके हाथ से फिसल गए। पहले छजकाँ, बसपा फिर गोंगपा और सपा। अब कांग्रेस बिना गठबंधन के ही चुनावी महासमर में कूदेगी। हाल ही में सपा और गोंडवाना गणतंत्र पार्टी (गोंगपा) के हुए गठबंधन के बाद रविवार को कांग्रेस के दिवगंत नेता महेंद्र कर्मा के बेटे छविंद्र कर्मा को दंतेवाड़ा सीट से अपना उम्मीदवार बनाया है। अब वह अपनी ही मां और कांग्रेस की वर्तमान विधायक देवती कर्मा को चुनौती देंगे। अब ये लड़ाई माँ बनाम बेटा हो गई है।

दरअसल, कांग्रेस को पहले बसपा से गठबंधन की आस थी, लेकिन वह जोगी कांग्रेस के साथ चली गई। सपा ने पहले ही दूरी बना ली थी, लेकिन गगपा ने किनारा करते हुए सपा के साथ ही गठबंधन की घोषणा कर दी। अब सपा ने कांग्रेस को उसके ही घर में घेरने का प्रयास किया है।

सपा ने रायपुर पश्चिम से नवीन गुप्ता को दिया टिकट

समाजवादी पार्टी की ओर से घोषित प्रत्याशियों में प्रथम चरण के चुनाव के लिए दंतेवाड़ा से छविंद्र कर्मा, बीजापुर से संतोष पुनेम, जगदलपुर से विमलेश दुबे और दूसरे चरण में होने वाले चुनाव के लिए रायपुर पश्चिम से नवीन गुप्ता, बसना से यागेंद्र भोई, अलकतरा से जीवन सिंह यादव, पामगढ़ से मुकेश लहरे, कोरबा से अमरनाथ अग्रवाल, वैशाली नगर से सूबेदार सिंह को उम्मीदवार बनाया है।

वहीं सपा के साथ गठबंधन के बाद गोंडवाना गणतंत्र पार्टी ने पदाधिकारियों ने प्रदेश की 60 विधानसभा सीटों पर चुनाव लड़ने की घोषणा करते हुए रविवार को 8 सीटों पर अपने उम्मीदवार उतार दिए। उनके नामों की घोषणा करते हुए लिस्ट जारी की है।

गोंगपा की ओर से जारी सूची में पाली तानाखार से हीरा सिंह मरकाम, बैकुंठपुर से संजय सिंह कमरो, भरतपुर-सोनहत से श्याम सिंह मरकाम, मरवाही से ऋतु पन्द्राम, सक्ति से कलेश्वर मरावी, पत्थलगांव से लालेश्वर जगत, कुनकुरी से श्यामसुंदर मरावी और रामानुजगंज सुखराज पोया को शामिल किया गया है।

Advertisement
Rahul Gandhi Ji Birthday 19 June

Leave a Reply