जहां जवान लाल आतंक से लड़ रहे है वहां केन्द्रीय मंत्री रविशंकर प्रसाद जाने से डर रहे है: कांग्रेस - गोंडवाना एक्सप्रेस
gondwana express logo

जहां जवान लाल आतंक से लड़ रहे है वहां केन्द्रीय मंत्री रविशंकर प्रसाद जाने से डर रहे है: कांग्रेस

रायपुर (एजेंसी) | भाजपा के पक्ष में चुनाव प्रचार करने छत्तीसगढ़ आये केंद्रीय मंत्री रविशंकर प्रसाद के नक्सल प्रभावित क्षेत्र किरन्दुल नहीं जाने पर कांग्रेस ने कहा भाजपा के नेता डरपोक है जहां हमारे जवान नक्सलवाद खत्म करने लाल आतंक लड़ाई लड़ रहे है, शहीद हो रहे है वहाँ जाने से डर रहे है। प्रदेश कांग्रेस प्रवक्ता धनंजय सिंह ठाकुर ने कहा कि छत्तीसगढ़ में बढ़ते नक्सलवाद के लिये रमन सिंह सरकार ही जिम्मेदार हैं। राज्य निर्माण के वक्त दक्षिण बस्तर के सीमावर्ती क्षेत्रों के तीन ब्लाक तक सीमित नक्सलवाद  15 साल में  14 जिलों तक पहुंचा गया।




प्रदेश कांग्रेस प्रवक्ता धनंजय सिंह ठाकुर ने कहा कि रविशंकर प्रसाद भाजपा का प्रचार प्रसार करने किरन्दुल नही जा सके तो वो किस मुंह से 15 साल की रमन सरकार की नक्सलवाद खत्म करने की गाथा गा रहे है ? रविशंकर प्रसाद और भाजपा को समझ आना चाहिए रमन सिंह सरकार 15 साल के कार्यकाल में छत्तीसगढ़ का विकास नही बल्कि विनाश हुआ है। राज्य निर्माण के समय तीन ब्लाक तक सीमित नक्सलवाद का सुकमा, बीजापुर, दंतेवाड़ा, बस्तर, कोंडागांव, कांकेर, नारायणपुर, राजनंदगांव, बालोद, धमतरी, गरियाबंद, महासमुंद, बलरामपुर, कबीरधाम, बस्तर तक पहुंचने से स्पष्ट हो गया, भाजपा की नीति में नक्सलवाद खत्म करना नही बल्कि लाल आंतक के बहाने विकास कार्यो में कमीशनखोरी, भ्रष्टाचार करना और पांचवी अनुसूची क्षेत्रो के जल, जंगल, जमीन, वन संपदा, खनिज संपदा पर कब्जा करने की नीयत ज्यादा परिलक्षित हो रही है।

2013 के विधानसभा चुनाव के पहले कांग्रेस के परिवर्तन यात्रा में झीरम घाटी में षड्यंत्रपूर्वक नक्सली हमला कराया गया जिसमें काँग्रेस के प्रथम पंक्ति के नेताओ की हत्या की हुई थी। नक्सलियों के कारण ही भाजपा तीन बार से सत्तासुख भोग रही है और छत्तीसगढ़ की ढाई करोड़ जनता बढ़ते नक्सलवाद के दुष्परिणाम झेल रहे है। 2018 के चुनाव को भी प्रभावित करने जिस प्रकार से नक्सलियों ने मतदान करने वालो को नुकसान पहुंचाने की धमकी दी है। नक्सलियों के मतदान प्रभावित करने के धमकी में भी झीरम घाटी कांड षंडयंत्र की तरह है साजिश की बू आ रही है।



Leave a Reply