Chhattisgarh Politics

मरवाही उपचुनाव : मतदाताओं में उत्साह में सुबह 8 बजे से शुरू होगी वोटिंग, सुबह 11 बजे तक 21.5 प्रतिशत वोटिंग, महिलाएं मतदान में आगे

छत्तीसगढ़ मरवाही उपचुनाव के लिए मंगलवार को मतदान शुरू हो गया है। समय बढ़ने के साथ ही मतदाताओं में उत्साह भी बढ़ता जा रहा है। दो घंटे के दौरान ही मतदान में 19 फीसदी की बढ़त हो गई है। सबसे ज्यादा महिलाएं मतदान में आगे हैं। सुबह 11 बजे तक 21.52 फीसदी वोटिंग हो चुकी है, जबकि 9 बजे तक एक घंटे में 2.4 प्रतिशत मतदान हुआ था।

मतदाता सुबह 6.30 बजे से ही लाइन में लग गए थे। वहीं मतदान शुरू होने के एक घंटे के दौरान ही ईवीएम में गड़बड़ियां भी सामने आने लगी थीं। पेंड्रा के पतगंवा उपकेंद्र और बूथ 143 पर ईवीएम खराब होने के बाद उसे बदला गया है। बचरवार में भी ईवीएम बदली गई। इस बीच मरवाही के बूथ 146 से हंगामे की शिकायतें मिल रही हैं। जवानों ने मौके पर स्थिति को संभाला।

पूर्व मुख्यमंत्री अजीत जोगी के निधन से खाली हुई है सीट

पूर्व मुख्यमंत्री अजीत जोगी के निधन के बाद खाली हुई इस मरवाही सीट का दावेदार कौन होगा, इसका फैसला जनता करेगी। चुनाव के इस मैदान में 8 उम्मीदवार हैं, लेकिन सीधा मुकाबला कांग्रेस और भाजपा के ही बीच है। खास बात यह है कि पहली बार मरवाही के इस चुनाव मैदान में जोगी परिवार नहीं है, ना ही उनका कोई उम्मीदवार है। हालांकि भाजपा के समर्थन देने से मुकाबला रोचक हो गया है।

यह उम्मीदवार चुनाव मैदान में, मुख्य मुकाबला कांग्रेस-भाजपा के बीच

उम्मीदवार पार्टी
डॉ. गंभीर सिंह भाजपा
डॉ. केके ध्रुव कांग्रेस
उर्मिला मार्को राष्ट्रीय गोंडवाना पार्टी
रितु पेन्द्राम गोंडवाना गणतंत्र पार्टी
पुष्पा कोर्चे अंबेडकराइट पार्टी ऑफ इंडिया
वीर सिंह नागेष भारतीय ट्राइबल पार्टी
लक्ष्मण पोर्ते भारतीय सर्वजन हिताय पार्टी
सोनमति सलाम निर्दलीय

1.90 लाख से ज्यादा मतदाता, 286 मतदान केंद्र

  • मरवाही में कुल मतदाता : 1,90, 907
  • पुरूष मतदाताओं की संख्या : 93,733
  • महिला मतदाताओं की संख्या : 97,267
  • थर्ड जेंडर मतदाता : 4
  • कुल मतदान केंद्र : 286
  • मुख्य मतदान केंद्र : 237
  • सहायक मतदान केंद्र : 49
  • मतदान केंद्रों की सुरक्षा : एक हजार जवान, 2 बटालियन सीआरपीएफ, बाकी जिला पुलिस बल

मरवाही उपचुनाव से जुड़ी खास बातें

  • कोरोना संक्रमण के चलते बूथ के बाहर ही मतदाता की थर्मल स्कैनिंग की जा रही है।
  • मरवाही उपचुनाव पूर्व मुख्यमंत्री अजीत जोगी के निधन के बाद खाली हुई सीट के लिए हो रहा है।
  • पहली बार इस चुनाव में जोगी परिवार से कोई उम्मीदवार मैदान में नहीं है।
  • जोगी परिवार के आदिवासी होने का मुद्दा भी पूरे चुनाव के दौरान छाया रहा।
  • छत्तीसगढ़ जनता कांग्रेस अध्यक्ष अमित जोगी और उनकी पत्नी ऋचा जोगी का जाति विवाद के कारण नामांकन निरस्त हुआ।
  • इस चुनाव के मतदान से पहले ही जोगी कांग्रेस में फूट पड़ी और दो पूर्व विधायकों ने कांग्रेस का समर्थन कर दिया।
  • चुनाव के लिए मतदान 3 नवंबर को हो रहा है। जबकि 10 नवंबर को इसके नतीजे आएंगे।

Leave a Reply