Chhattisgarh Gondwana Special

लॉकडाउन: प्रतिदिन 28 हजार बेसहारा और जरूरतमंद लोगों को मिल रहा निःशुल्क भोजन और राशन समाज कल्याण विभाग समाजसेवियों की मदद पहुंचा रहा राहत

छत्तीसगढ़. प्रदेश में लॉकडाउन के दौरान राज्य सरकार प्रतिदिन बेसहारा और जरूरतमंद लोगों तक पहुंच कर उन्हें राहत पहुंचाने में जुटी है। इसी क्रम में समाज कल्याण विभाग प्रतिदिन लगभग 28 हजार बेसहारा और जरूरतमंद लोगों तक निःशुल्क भोजन और राशन पहुंचा रहा है। इसके लिए सभी जिलों में निराश्रित और जरूरतमंद व्यक्तियों का चिन्हांकन किया गया है। 12 अप्रैल को विभाग ने प्रदेश के 18 हजार 968 जरूरतमंदों तक गर्म भोजन और 2 हजार 560 जरूरतमंद लोगों को राशन सामग्री उपलब्ध कराया। मानव सेवा के इस काम में विभाग के साथ जिला प्रशासन, पुलिस साहित विभिन्न समाजसेवी संस्थाएं भी लगी हुई है। जरूरतमंदों तक राहत पहुंचाने की निरन्तर विभागीय मॉनिटरिंग भी की जा रही है

राज्य में रेल्वे स्टेशन, बस स्टेंट, नगर पालिक निगम, चौक-चौराहों, रैन बसेरा, सामुदायिक भवन, मंदिर क्षेत्र, सब्जी बाजार, जनपद पंचायत और ऐसे स्थानों से जहां अधिक संख्या में बेसहारा और निराश्रित लोगों के मिलने की संभावना रहती है, व्यक्तियों को चिन्हांकित किया जा रहा है। इसके अतिरिक्त टोल फ्री नम्बर पर कॉल और सूचना मिलने पर भी जरूरतमंद व्यक्तियों को घर-घर पहुंचकर भोजन उपलब्ध कराया जा रहा है। विभाग ने कोरोना संक्रमण को देखते हुए भोजन के सुरक्षित वितरण के लिए विस्तृत दिशा निर्देश जारी किये हैं।

Leave a Reply