व्यक्ति विशेष: कोई भी सीएम हो पहले लक्ष्मीनारायण चखेंगे उसके बाद ही मुख्यमंत्री खाएंगे, 15 सालों से करते आ रहे यही काम - गोंडवाना एक्सप्रेस
gondwana express logo

व्यक्ति विशेष: कोई भी सीएम हो पहले लक्ष्मीनारायण चखेंगे उसके बाद ही मुख्यमंत्री खाएंगे, 15 सालों से करते आ रहे यही काम

मिलिए सामान्य से दिखने वाले व्यक्ति लक्ष्मीनारायण तिवारी से। ये छत्तीसगढ़ सरकार की एक मेडिकल टीम के मेंबर है और इनकी एक खासियत इन्हें दूसरों से जुदा बनाती है। दरअसल, इनपर मुख्यमंत्री के स्वास्थ्य की बहुत बड़ी जिम्मेदारी है। मुख्यमंत्री की कुर्सी पर कोई भी हो, उन्हें खिलाने-पिलाने के लिए लाई गई कोई भी सामग्री पहले लक्ष्मीनारायण को चखाया जाता है। उनसे ओके मिलने के बाद ही यह सामग्री मुख्यमंत्री तक पहुंचती है। वे ये काम पिछले 15 सालो से कर रहे है।

सुरक्षा के लिए जरुरी है लिबरी टेस्ट

लक्ष्मीनारायण यह काम पिछले 15 सालों से कर रहे हैं। अब तक डॉ. रमन सिंह के लिए और अब भूपेश बघेल के लिए। इस पूरी प्रक्रिया को लिबरी टेस्ट कहा जाता है। बुधवार को राजीव भवन में महिला कांग्रेस ने मुख्यमंत्री भूपेश बघेल का सम्मान किया। इसी दौरान महिला कांग्रेस ने उनसे केक भी कटवाया। यह केक पहले लक्ष्मीनारायण को चखाया, फिर मुख्यमंत्री तक पहुंचाया गया।




क्या है लिबरी टेस्ट और क्यों है जरूरी

दरअसल, वीआईपी व वीवीआईपी को जो भी भोजन दिया जाता है, उसमें कोई विषाक्त पदार्थ तो नहीं है, यह जांचने के लिए लिबरी टेस्ट किया जाता है। फूड इंस्पेक्टर, डॉक्टर, कंपाउंडर की लिबरी ड्यूटी लगाई जाती है। खाने-पीने की चीज को पहले मेडिकल टीम का कोई सदस्य टेस्ट करता है, फिर प्रभारी अधिकारी सर्टिफिकेट देते हैं। इसके बाद ही खाने के लिए दिया जाता है।

कांग्रेस भवन में मुख्यमंत्री से कटवाने के लिए लाए गया।

केक को चखते लक्ष्मीनारायण। इसके बाद ही मेडिकल टीम ने ओके किया।

फिर मुख्यमंत्री बघेल ने यह केक काटा। उन्हें पूर्व मेयर किरणमयी नायक ने केक खिलाया भी।



Leave a Reply