Chhattisgarh

निलंबित किए गए हेड मास्टर ने खाया जहरीला पदार्थ, उपचार के दौरान मौत, चुनाव ड्यूटी में शराब पीकर पहुंचने पर किए गए थे सस्पेंड

कोरिया | छत्तीसगढ़ के कोरिया में चुनाव ड्यूटी में लापरवाही के चलते निलंबित किए गए हेड मास्टर की शनिवार को उपचार के दौरान मौत हो गई। उन्होंने 1 फरवरी को जहरीला पदार्थ खाकर आत्महत्या का प्रयास किया था। इसके बाद उन्हें गंभीर हालत में भरतपुर स्थित सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र में भर्ती कराया गया, जहां से शहडोल के अस्पताल में उपचार चल रहा था।

छिरहाटोला विकासखंड के प्राथमिक स्कूल के हेडमास्टर प्रभुराम बेनवंश को कलेक्टर ने 22 जनवरी को निलंबित कर दिया था। इसके बाद उन्होंने एक फरवरी की देर शाम जहरीला पदार्थ खा लिया। करीब 8 दिन तक चले उपचार के बाद उनकी मौत हो गई। हेड मास्टर बेनवंश चुनाव प्रशिक्षण में शराब पीकर पहुंच गए थे। प्रशिक्षण कार्यक्रम के दौरान उनका व्यवहार असामान्य लगा।

प्रशिक्षक ने उनका मेडिकल कराया तो उसमें शराब सेवन की पुष्टि हुई। रिपोर्ट के आधार पर भरतपुर के रिटर्निंग आफिसर ने 16 जनवरी को कलेक्टर से हेड मास्टर की शिकायत की थी। निलंबन अवधि में इनका मुख्यालय जिला शिक्षा अधिकारी कोरिया निर्धारित किया गया था। हालांकि, उनके ऊपर यह भी आरोप है कि शराब के नशे में उन्होंने हंगामा किया और अधिकारियों से बहस की थी। इसके बाद उनके खिलाफ कार्रवाई की गई थी।

Leave a Reply