Chhattisgarh

लापरवाही से हादसा: कोल माइंस में डेटोनेटर ब्लास्ट, ड्रिलिंग कर रहे ऑपरेटर की मौत

कोरिया | छत्तीसगढ़ के काेरिया स्थित कोल माइंस में मंगलवार देर रात हादसे में एक ड्रिलिंग ऑपरेटर की मौत हो गई। बताया जा रहा है कि माइंस में ऑपरेटर ड्रिलिंग कर रहा था। वहां पहले से ही विस्फोटक लगा था, लेकिन इसकी जानकारी नहीं दी गई। विस्फाेट इतना जबरदस्त था कि ऑपरेटर के चीथड़े उड़ गए। वहीं, पत्थर उछलकर लगने से एक साथी भी घायल हो गया। हादसे के बाद साथी इतने सदमे में है कि कुछ बता नहीं पा रहा है। फिलहाल, घटनास्थल सील कर दिया गया है। खान सुरक्षा महानिदेशालय (डीजीएमएस) आगे की जांच करेगा।

जानकारी के मुताबिक, कुरासिया माइंस में रात करीब 2.30 बजे हादसा हुआ। चिरमिरी के गोदरीपारा आजादनगर निवासी धनेश्वर दास (58) ड्रिलर ऑपरेटर ग्रेड-5 पर कार्यरत थे। वह रात करीब 2 बजे तृतीय पाली में काम करने के लिए माइंस में पहुंचे थे। काम के दौरान माइंस में ड्रिल कर बारूद लगाने की कोशिश कर रहे थे, इसी दौरान तेज ब्लास्ट हो गया। विस्फोट से धनेश्वरदास के चीथड़े उड़ गए और उनकी मौके पर ही मौत हो गई।

दूसरी पाली में काम कर रहे अधिकारी जिम्मेदार

हादसे में प्रबंधन के साथ अधिकारियों और कर्मचारियों की लापरवाही भी सामने आ रही है। बताया जा रहा है कि दूसरी पाली में काम करने वाले अधिकारी बिना जानकारी दिए हाजिरी लगाकर घर चले गए। आरोप है कि इन्होंने वहां पहले ही बारूद लगे होने की जानकारी नहीं दी। फिलहाल, एसईएल के अधिकारी और स्थानीय विधायक मौके पर पहुंच गए। मामले की जांच की जा रही है। अधिकारियों का कहना है कि इसके बाद ही कुछ पता चल सकेगा।

जांच के बाद कार्रवाई का आश्वासन

एसईसीएल के महाप्रबंधक घनश्याम सिंह ने बताया कि घटना को लेकर विभागीय जांच चल रही है। घटना किसकी लापरवाही से हुई है यह स्पष्ट नहीं है। जांच के बाद कार्रवाई करेंगे। डेटोनेटर फटने से हादसा हुआ है।

Advertisement
Rahul Gandhi Ji Birthday 19 June

Leave a Reply